ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता की मदद से बांग्लादेशी महिला ने बनवाया आधार कार्ड! बंगाल भाजपा अध्यक्ष ने दिया था निवास प्रमाण पत्र

पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी रवि कुमार को मंगलवार (5 नवंबर, 2019) को पश्चिम मिदनापुर से गिरफ्तार किया गया और बुधवार को उसे जलपाईगुड़ी लाया गया, जहां पुलिस ने पहली बार इस मामले का पता लगाया।

Author नई दिल्ली | Updated: November 7, 2019 12:20 PM
बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष। (indian express file)

पश्चिम बंगाल में पश्चिम मिदनापुर के एक भाजपा नेता को एक बांग्लादेशी महिला का आधार कार्ड बनवाने में मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। करीब दो साल पहले खड़गपुर से विधायक रहे मौजूदा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कथित तौर पर महिला को निवास प्रमाण पत्र दिया था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी रवि कुमार को मंगलवार (5 नवंबर, 2019) को पश्चिम मिदनापुर से गिरफ्तार किया गया और बुधवार को उसे जलपाईगुड़ी लाया गया, जहां पुलिस ने पहली बार इस मामले का पता लगाया।

एक अंग्रेजी अखाबर ने पुलिस सूत्रों के हवाले से आगे बताया कि इस साल जुलाई में मानव तस्करी जैसी अवैध गतिविधियों की रिपोर्ट के आधार पर जलपाईगुड़ी में एक म्यूजिकल बार में छापा मारा गया, जिसमें कुछ गिरफ्तारियां भी हुईं। द टेलीग्राफ की खबर के मुताबिक जिन लोगों की गिरफ्तारियां हुईं उनमें बार का मालिक धरम पासवान, कर्मचारी सुमन बायन और उसकी पत्नी पुष्पा रॉय थी। इस दौरान पुलिस जांच में मालूम हुआ कि पुष्पा बांग्लादेशी महिला है और उसने अपने नाम पर आधार कार्ड खरीदा था।

पुलिस ने बताया कि मामले में जैसे-जैसे आगे जांच की गई तो पता चला कि सुमन के रवि कुमार के साथ संबंध थे। सुमन भी पश्चिम मिदनापुर का निवासी है और रवि कुमार के जरिए एक विधायक द्वारा जारी पुष्पा के नाम पर निवास प्रमाण पत्र बनवाने में कामयाब रहा। पुलिस के मुताबिक, ‘हमें संदेह है कि इस प्रमाण पत्र के साथ, उसने आधार कार्ड बनवाने के लिए कुछ अन्य नकली दस्तावेज दिखाए थे।

रवि, जिसका दावा है कि वो पश्चिम मिदनापुर में भाजपा के स्पोर्ट्स और क्लब सेल का कंवीनर, ने कहा कि उसे फंसाया गया था। उसके मुताबिक, ‘मैंने तब विधायक रहे दिलीप घोष द्वारा जारी निवास प्रमाण पत्र सुमन और उसकी पत्नी को मुहैया कराया था। इस बाबत जलपाईगुड़ी में एक मामला दर्ज किया गया और मुझे इसमें गलत तरीके से फंसाया गया है।’

मामले में जब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष की प्रतिक्रिया जानने चाही तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया। इसी बीच जलपाईगुड़ी पुलिस चीफ अभिषेक मोदी ने कहा कि जांच यह देखने के लिए की गई कि मामले में कहीं और लोग तो इसमें शामिल नहीं हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बेकार नहीं गया ‘कारसेवकों’ का बलिदान, जल्द से जल्द हो राम मंदिर का निर्माण; राज ठाकरे बोले
2 अब स्टेशन मास्टर के कक्ष की भी होगी वीडियो रिकार्डिंग
3 VIDEO: BJP प्रवक्ता पर भड़के पूर्व ACP- यूं डिबेट से ट्रायल नहीं होता, नेता बोले- मैं आपको जवाब देने लायक नहीं समझता