बोलीं महुआ- मोदी-शाह दिल्ली को अहमदाबाद नगर निगम जैसे चला सकते हैं, तो दीदी क्यों नहीं PM बन सकतीं?

महुआ ने बताया कि हर प्रदेश में जाकर प्रचार का तो पता नहीं, पर कुछ कुछ सूबे चुने गए हैं, जिनमे ढाई साल में हम अपनी मौजूदगी को बढ़ाएंगे।

narendra modi, mamata banerjee, mahua moitra
टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटोः इंस्टाग्राम- mahuamoitraofficial/एक्सप्रेस आर्काइव)

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा है कि जब नरेंद्र मोदी और अमित शाह गुजरात से आकर दिल्ली को अहमदाबाद नगर निगम की तरह चला सकते हैं, तब फिर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी देश की प्रधानमंत्री क्यों नहीं बन सकती हैं?

इन्वेस्टमेंट बैंकर रहीं सांसद ने यह बात हिंदी चैनल “आज तक” के इंटरव्यू आधारित कार्यक्रम सीधी बात में कही। दरअसल, शनिवार को प्रसारित हुए शो में वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला ने सवाल पूछा था, “क्या ममता बनर्जी अब दिल्ली की तरफ झंडा ले कर चल पड़ी हैं? बंगाल के बाद ‘दिल्ली चलो’, जो नारा लगवाया है क्या उसके बाद अब ममता दिल्ली में लीड करेंगी?” मोइत्रा ने इस पर जवाब दिया, “अब देश में सारी क्षेत्रीय पार्टियां हैं…वे दिल्ली जा रहीं हैं, क्योंकि यह राष्ट्रीय बनाम राष्ट्रीय पार्टी…जो पहले था कि बस कांग्रेस ही BJP को टक्कर दे सकती है कि भाजपा को हटाने के लिए सिर्फ एक ही नेशनल पार्टी चाहिए, जो आ कर 300 सीट जीत सकती है। यह जो सोच है, अब खत्म हो गई है। अब जो बात है कि हर सूबे में जहां हम मजबूत हैं, हम लोग सब लड़ेंगे…जैसे बंगाल में टीएमसी, तमिलनाडु में डीएमके, महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस भी जिन राज्यों में मजबूत है…राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब में, जहां जिसकी स्ट्रेंथ वहां से आकर सबको दिल्ली की तरफ जाना है। सोच बिल्कुल स्पष्ट है।”

आगे यह पूछे जाने पर कि “चुनाव में राष्ट्रीय स्तर पर पर ममता मोदी के सामने राष्ट्रीय नेता बनकर खड़ी होंगी। उनमे क्या खूबियां हैं, क्या वह उनका विकल्प हैं? क्या टीएमसी राष्ट्रीय स्तर का दल बनेगा, क्या दीदी हर सूबे में जा कर प्रचार करेंगी?” महुआ ने बताया कि हर प्रदेश में जाकर प्रचार का तो पता नहीं, पर कुछ कुछ सूबे चुने गए हैं, जिनमे ढाई साल में हम अपनी मौजूदगी को बढ़ाएंगे।

बातचीत के दौरान ऐंकर ने यह भी पूछा, “साल 2016 में दीदी जब जीतीं, उसके बाद एक बात थी कि ममता देश की नेता बनेंगी। पीएम की बात भी कई बार उठाई गई थी…आपको लगता है ममता ने बंगाल तीन बार जीत लिया तो चौथी बार इंडिया जीत कर पीएम बन सकती हैं? जवाब आयाः अगर मोदी गुजरात के CM हो कर और अमित शाह गुजरात के होम मिनिस्टर हो कर, दिल्ली में आकर इसे अहमदाबाद नगर निगम जैसे चला सकते हैं तो हमारी लीडर बंगाल की सीएम हैं, पीएम क्यों नहीं बन सकतीं?

देखें, उन्होंने आगे क्या कहाः

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X