ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    BJP+ 0
    Cong+ 0
    RLM+ 0
    OTH+ 0
  • छत्तीसगढ़

    BJP+ 0
    Cong+ 0
    JCC+ 0
    OTH+ 0
  • मिजोरम

    BJP+ 0
    Cong+ 0
    MNF+ 0
    OTH+ 0
  • मध्य प्रदेश

    BJP+ 0
    Cong+ 0
    BSP+ 0
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    BJP+ 0
    TDP-Cong+ 0
    TRS-AIMIM+ 0
    OTH+ 0

* Total Tally Reflects Lead + Win

West Bangal Polls: अगले 2 चरणों के चुनाव में किस्मत आजमा रहे 107 मिलिनेयर्स

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे और चौथे चरण में 107 प्रत्याशी करोड़पति हैं। 128 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। उम्मीदवारों के शपथ-पत्र से यह खुलासा हुआ है कि तीसरे चरण के 418 उम्मीदवारों में से 61 और चौथे चरण के 345 में से 46 करोड़पति या कई करोड़ के मालिक हैं।

Author कोलकाता | April 19, 2016 9:16 AM

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे और चौथे चरण में 107 प्रत्याशी करोड़पति हैं। 128 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। उम्मीदवारों के शपथ-पत्र से यह खुलासा हुआ है कि तीसरे चरण के 418 उम्मीदवारों में से 61 और चौथे चरण के 345 में से 46 करोड़पति या कई करोड़ के मालिक हैं।

‘द वेस्ट बंगाल इलेक्शन वाच’ ने सोमवार को कहा कि तीसरे चरण के 80 प्रत्याशी और चौथे चरण के 48 प्रत्याशियों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज होने की घोषणा की है। इनमें कई के खिलाफ हत्या और बलात्कार जैसे गंभीर मामले भी लंबित हैं।

तीसरे चरण के करोड़पतियों की सूची में तृणमूल कांग्रेस सबसे आगे है। इसके 27 उम्मीदवार करोड़पति हैं, 14 उम्मीदवारों के साथ दूसरे स्थान पर भाजपा है और 11 के साथ कांग्रेस तीसरे स्थान पर है। कोलकाता के श्यामपुकुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के सोमब्रत मंडल तीसरे चरण के चुनाव में सबसे धनी प्रत्याशी हैं। उनके पास 28.65 करोड़ से अधिक की संपत्ति है।

तीसरे चरण के 418 प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 74.76 लाख रुपये है। चौथे चरण में तृणमूल कांग्रेस ने 19 करोड़पति प्रत्याशी उतारे हैं जबकि इसी चरण में भाजपा के आठ और कांग्रेस के पांच करोड़पति प्रत्याशी हैं।

तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार और राज्य के वित्त मंत्री अमित कुमार मित्र उत्तरी 24 परगना जिले के खारदाहा विधानसभा क्षेत्र से मैदान में हैं और उनके पास 11.74 करोड़ की संपत्ति है। चौथे चरण के 345 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 50.02 लाख रुपये है।

तीसरे चरण के 80 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले हैं। इनमें 65 के खिलाफ हत्या, बलात्कार, हत्या के प्रयास और अपहरण जैसे गंभीर अपराध के मामले हैं। इनमें तृणमूल कांग्रेस के 20 उम्मीदवार हैं जिनके खिलाफ मामले दर्ज हैं। कांग्रेस और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के 16 प्रत्याशियों के खिलाफ और भाजपा के 15 प्रत्याशियों के खिलाफ ऐसे मामले दर्ज हैं।

चौथे चरण में तृणमूल कांग्रेस के 15 उम्मीदवारों के खिलाफ जबकि भाजपा के सात एवं कांग्रेस और माकपा के छह-छह प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

तीसरे चरण के तहत 62 क्षेत्रों में 21 अप्रैल को मतदान होना है। चौथे चरण में 49 विधानसभा क्षेत्रों में 25 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App