ताज़ा खबर
 

भाजपा छोड़ टीएमसी में पहुंचे मुकुल रॉय बोले- जो स्थिति है, भाजपा में कोई नहीं रहेगा, क्या और लोग भी छोड़ेंगे साथ?

शुक्रवार को मुकुल रॉय के तृणमूल में शामिल होने पर ममता बनर्जी ने उन्हें घर का लड़का बताया। ममता बनर्जी ने कहा “मुकुल घर का लड़का है और घर लौट आया है।”

तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद मुकुल रॉय ने कहा कि अभी बंगाल में जो स्थिति है, उस स्थिति में कोई बीजेपी में नहीं रहेगा। (एक्सप्रेस फोटो/ पार्थ पॉल)

शुक्रवार को चार साल बाद बीजेपी नेता मुकुल रॉय अपने बेटे शुभ्रांशु रॉय के साथ दोबारा से टीएमसी में शामिल हो गए। ममता बनर्जी की मौजूदगी में मुकुल रॉय ने टीएमसी की सदस्यता ग्रहण की। तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद मुकुल रॉय ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थिति में कोई भी बीजेपी में नहीं रह सकता है। मुकुल रॉय के तृणमूल जाने के बाद कई और भाजपा नेताओं के भी पार्टी छोड़ने की अटकलें तेज होने लगी हैं।

तृणमूल कांग्रेस में दोबारा से शामिल होने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुकुल रॉय ने कहा कि मैं बीजेपी छोड़कर TMC में आया हूं, अभी बंगाल में जो स्थिति है, उस स्थिति में कोई बीजेपी में नहीं रहेगा। साथ ही मुकुल रॉय ने कहा कि भाजपा छोड़ कर दोबारा से जाने पहचाने लोगों को देखकर अच्छा लग रहा है। मुकुल रॉय के इन बयानों के बाद से पश्चिम बंगाल भाजपा के कई नेताओं के तृणमूल कांग्रेस में आने की संभावनाओं को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। साथ ही यह सवाल भी उठने लगा है कि क्या कई और नेता भी जल्दी ही तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तृणमूल कांग्रेस पश्चिम बंगाल भाजपा के कई बड़े नेताओं को पार्टी में शामिल कराना चाहती है। साथ ही बड़ी संख्या में नवनिर्वाचित भाजपा विधायकों के तृणमूल कांग्रेस में जाने की संभावना भी जताई जा रही है। हालांकि तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी ने यह साफ़ कर दिया है कि चुनाव से तुरंत पहले तृणमूल छोड़ भाजपा में शामिल हुए नेताओं को वापस से पार्टी में शामिल नहीं किया जाएगा, क्योंकि वे गद्दार हैं।

शुक्रवार को मुकुल रॉय के तृणमूल में शामिल होने पर ममता बनर्जी ने उन्हें घर का लड़का बताया। ममता बनर्जी ने कहा “मुकुल घर का लड़का है और घर लौट आया है।” साथ ही ममता ने कहा कि चुनाव अभियान के दौरान भी मुकुल रॉय ने उनके खिलाफ कोई बात नहीं की। उन्होंने यह भी कहा कि उनके और मुकुल रॉय के बीच कभी भी कोई मतभेद नहीं नहीं रहा।

इसके अलावा ममता बनर्जी ने कहा कि मुकुल रॉय को बीजेपी में धमकी मिलती थी जिससे उनके स्वास्थ्य पर भी काफी असर पड़ा। साथ ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तृणमूल में मुकुल रॉय की नई भूमिका को लेकर कहा कि वे महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे, पहले वे जो भूमिका निभाते थे, भविष्य में भी वे वही भूमिका निभाएंगे। तृणमूल एक परिवार है।

भाजपा छोड़ने के बाद मुकुल रॉय अपने पुराने सहयोगी के निशाने पर आ गए। पश्चिम बंगाल के बैरकपुर से भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने मुकुल रॉय के तृणमूल कांग्रेस में जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जब अभिषेक बनर्जी का राजनीति में उदय हुआ, तब इनको धक्का देकर घर से बाहर निकाला था, फिर ये बीजेपी में आ गए। बीजेपी में आने के बाद एक बार चाऊमीन खाने चले गए, फिर TMC में चले गए। इनकी आया राम गया राम वाली कहानी है।        

Next Stories
1 तीन-तीन चुनाव हारने वाले जितिन प्रसाद को विधान परिषद भेजने की अटकल, यूपी बीजेपी में गुटबाज़ी बढ़ने का डर
2 “मोदी है तो महंगाई है” कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर किया देशभर में विरोध प्रदर्शन
3 शोले की मौसी के अंदाज में संबित पात्रा ने पूछा राहुल गांधी की उपलब्धि, चुप होकर मुस्कुराने लगे कांग्रेस प्रवक्ता
ये पढ़ा क्या?
X