ताज़ा खबर
 

‘जयश्री राम’ पर विवादः PM के सामने हुआ मेरा अपमान, बंगाल न बनने दूंगी गुजरात- बोलीं ममता; योगी ने कहा- नहीं कर रहे किसी को मजबूर

ममता के मुताबिक, नेता जी सुभाष चंद्र बोस सबके नेता है। वे लोग मुझे पीएम के सामने चिढ़ा रहे थे...मैं बंदूकों में यकीन नहीं रखती है। मैं राजनीति में विश्वास करती हूं।

Author Edited By अभिषेक गुप्ता कोलकाता/लखनऊ/मुंबई | Updated: January 25, 2021 5:10 PM
Narendra Modi, Mamata Banerjee, Bengalनेताजी की 125वीं जयंती पर बंगाल में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। (फोटोः PTI)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और TMC चीफ ममता बनर्जी जयश्री के नारे वाली घटना पर फिर भड़की हैं। उन्होंने कहा है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने उनका अपमान हुआ। उन्हें चिढ़ाया गया। वह बंगाल को गुजरात नहीं बनने देंगी।

सोमवार को हुगली के पुरसुआ में आयोजित एक रैली में वह बोलीं, “जो TMC छोड़ना चाहते हैं, वे जितना जल्दी हो सकता है, छोड़ दें।” बकौल दीदी, “बीजेपी ने बंगाली आइकंस की पूर्व में बेइज्जती की है और वह लगातार ऐसा कर रही है। बीजेपी का नाम ‘भारत जलाओ पार्टी’ कर दिया जाना चाहिए।”

उन्होंने आगे कहा- पीएम की मौजूदगी में विक्टोरिया मेमोरियल (23 जनवरी को नेताजी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान) में हुए कार्यक्रम में मेरा अपमान हुआ और मुझे चिढ़ाया गया।

ममता के मुताबिक, नेता जी सुभाष चंद्र बोस सबके नेता है। वे लोग मुझे पीएम के सामने चिढ़ा रहे थे…मैं बंदूकों में यकीन नहीं रखती है। मैं राजनीति में विश्वास करती हूं। बीजेपी ने नेता जी और बंगाल का अपमान किया है। सीएम ने आगे दावा किया कि वह बंगाल को गुजरात नहीं बनने देंगीं, बल्कि गुजरात ही बंगाल बन जाएगा।

दीदी पहले भड़कीं, अब खुद जपा राम नामः

‘नारा लगाने को नहीं कर रहे किसी को मजबूर- योगीः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि किसी को भी ‘जय श्री राम’ कहने को मजबूर नहीं किया जा रहा और इस तरह के नारों में बुरा मानने की कोई बात नहीं है। योगी ने यहां कुछ पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘‘यदि कोई जय श्री राम कहता है तो इसमें बुरा मानने की कोई बात नहीं है क्योंकि यह तो एक प्रकार का अभिवादन है।’’

”‘जय श्री राम’ नारे से न हो कोई नाराज”: ममता के ‘जय श्री राम’ के नारे लगने के बाद कार्यक्रम में बोलने से इनकार करने पर शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कहा कि इस नारे से किसी को नाराज नहीं होना चाहिए। राउत ने सोमवार को पत्रकारों से कहा कि उन्हें यकीन है कि ममता बनर्जी को भी भगवान राम में विश्वास है। उन्होंने कहा, ‘‘ जय श्री राम कहने से किसी की धर्मनिरपेक्षता खतरे में नहीं आएगी। हमारा मानना है कि भगवान राम देश का गौरव हैं।’’

क्या है पूरा माजरा?: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ऐसे नारे लगने के बाद कोलकाता में एक कार्यक्रम को संबोधित करने से इनकार कर दिया था बनर्जी ने शनिवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में तब बोलने से इनकार कर दिया जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में वहां ‘‘जय श्री राम’’ के नारे लगाए गए। महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी की 125वीं जयंती मनाने के लिए कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित कार्यक्रम में बनर्जी अपना भाषण शुरू करने मंच पर खड़ी हुईं तभी भीड़ में शामिल कुछ लोगों द्वारा नारा लगाया गया।

मोदी के सामने ही भड़क गई थीं ममता! देखें, VIDEO:

Next Stories
1 बीमार लालू यादव को रिहा करने की मांग उठी, बेटी रोहिणी ने लिखा राष्ट्रपति को पत्र
2 विदेशों में भी गणतंत्र दिवस की धूम, भारत में लाल किले पर उपद्रव, प्रदर्शनकारी ने फहराया झंडा, देखें VIDEO
3 लद्दाख में भारत की सड़कों का इस्तेमाल कर रहे चीनी सैनिक, वीडियो भी सामने आया; कांग्रेस ने पूछा- और क्या सबूत चाहिए मोदी जी
ये पढ़ा क्या?
X