ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल चुनावः कोरोना के हाहाकार के बीच बीजेपी ने की बंगाल को फ्री वैक्सीन देने की बात, उधर, तृणमूल ने दिलाई बिहार की याद

बीजेपी पर हमला करते हुए टीएमसी की तरफ से कहा गया है कि भारतीय जुमलेबाज पार्टी की तरफ से वैक्सीन जुमला की घोषणा हुई है।

Bengal Elections, Punya Prasoon Bajpayee, Bengal Elections 2021, Journalist Punya Prasu Bajpayeemपीएम नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

देश में जारी कोरोना संकट के बीच बंगाल में दो चरण के चुनाव बचे हुए हैं। 26 फरवरी को होने वाले सातवें चरण के मतदान से पहले प्रधानमंत्री ने कोलकाता, मालदा, बीरभूम और मुर्शिदाबाद के लोगों के साथ वर्चुअल रैली को संबोधित किया। इधर बीजेपी ने बंगाल की जनता से मुफ्त में वैक्सीन देने की बात कही। बीजेपी की तरफ से मुफ्त वैक्सीन की बात करने पर टीएमसी ने हमला बोला है। तृणमूल कांग्रेस की तरफ से बिहार की याद दिलायी गयी है।

बीजेपी की घोषणा से एक दिन पहले ही टीएमसी की तरफ से मुफ्त वैक्सीन की बात की गयी थी। बीजेपी पर हमला करते हुए टीएमसी की तरफ से कहा गया है कि भारतीय जुमलेबाज पार्टी की तरफ से वैक्सीन जुमला की घोषणा हुई है। बिल्कुल ऐसा ही वादा चुनाव से पहले बिहार के लोगों से भी किया गया था। जिसे वो भूल गए हैं। बंगाल को मूर्ख नहीं बनाया जा सकता है। बीजेपी पर विश्वास नहीं करें। टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने मतदाताओं से बीजेपी पर विश्वास नहीं करने की अपील की है।

बताते चलें कि गुरुवार को टीएमसी की तरफ से ममता बनर्जी का एक वीडियो ट्वीट बंगाल के लोगों को मुफ्त वैक्सीन देने की बात की गयी थी। जिसके बाद बीजेपी की तरफ से प्रधानमंत्री के वर्चुअल रैली से पहले ट्वीट कर इसकी घोषणा की गयी थी।

शुक्रवार को वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोविड नियमों को ध्यान में रखते हुए सभा की तैयारी की थी। लेकिन मेरा बंगाल आना आज संभव नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि  पश्चिम बंगाल आज एक ऐसे शासन के लिए लालायित है, जहां सरकार का हर विभाग, अपना काम करे, अपना दायित्व निभाए। भेदभाव से मुक्त, सद्भाव से युक्त, व्यवस्था के लिए पश्चिम बंगाल वोट दे रहा है। बंगाल की हर इच्छा पूरी करने का संकल्प भाजपा ने लिया है।

प्रधानमंत्री ने कहा की समाज में सकारात्मकता और सद्भाव विकास का प्रमुख रास्ता है। कानून निष्पक्ष भाव से काम करेगा तो जीवन के साथ ही व्यापार और कारोबार भी आसान होगा। घुसपैठ, तस्करी, अवैध कारोबार, हिंसा, तोलाबाजी, सिंडिकेट, ये विकास के घोर दुश्मन हैं।

Next Stories
1 क्या चाहते हैं प्रधानमंत्री खुद ऑक्सिजन सिलिंडर लेकर अस्पताल पहुंच जाएं? एंकर रुबिका ने पैनलिस्ट से पूछा
2 पतंजलि में कोरोना संक्रमण की खबरों पर आई बाबा रामदेव की सफाई
3 आप के अंकित लाल का दावा- पीएम से मीटिंग में केजरीवाल की बात लाइव दिखाने पर मंत्री ने चैनल को लताड़ा, शशि थरूर का तंज- एक साथ उतर गए दोनों के मास्क
यह पढ़ा क्या?
X