ताज़ा खबर
 

संबित पात्रा बोले- चुनाव नहीं होते तो UN पहुंच जाते राहुल गांधी, सुप्रिया श्रीनेत का जवाब- मौत पर उत्सव चांडाल मनाते हैं

पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार को लेकर चुनाव आयोग ने फैसला किया है कि अब मतदान से 72 घंटे पहले प्रचार थम जाएगा। शाम 7 बजे के बाद चुनाव प्रचार नहीं होगा।

west bengal election, coronaपश्चिम बंगाल के कृष्णानगर में रोडशो करते गृह मंत्री अमित शाह। फोटो- पीटीआई

एक तरफ कोरोना पूरे देश में तबाही मचा रहा है तो दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में चुनाव प्रचार जारी हैं। अकसर नेता रोडशो और रैलियां करते नजर आते हैं। आजतक के डिबेट शो में कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा, ‘क्या ऐसे समय में चुनाव होने चाहिए? चुनाव आयोग सरकार के साथ सलाह मशविरा करके ही फैसले करता है।’ संबित पात्रा ने तंज कसते हुए कहा, अगह चुनाव न कराए जाते तो राहुल गांधी सबसे पहले यूएन पहुंच जाते।

उन्होंने कहा, जब वैक्सीन आई तो कांग्रेस शासित राज्य राजनीति कर रहे थे और कह रहे थे कि वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। आज कह रहे हैं कि और लाओ, और लाओ। पात्रा ने कहा, आज विश्व का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट महाराष्ट्र है। यहां की सरकार अकल लगा रही है कि किस तरह 100 करोड़ रुपये कमाने हैं। अगर यही 100 करोड़ रुपये स्वास्थ्य सुविधाओं पर खर्च होता तो यह स्थिति नहीं होती। उन्होंने कहा- आपदा को घोटाले में बदलना, कोई कांग्रेस से सीखे। मास्क गायब हो जा रहे हैं, वैक्सीन चोरी हो जा रही है।

संबित पात्रा के आरोपों का जवाब देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता श्रीनेत ने कहा, ‘राहुल गांधी जी पर जितने आक्षेप लगाने हैं, लगाइए। लेकिन मौत पर उत्सव नहीं मनाया जा सकता है। मौत पर उत्सव तो चांडाल मनाते हैं। हम लोगों को बेड और वैक्सीन नहीं दे पा रहे हैं और कह रहे हैं कि यह उत्सव है। सोच समझकर जरा बात करिए।’

चुनावी राज्यों के लिए EC ने लिया यह फैसला

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर कुछ फैसले किए हैं। चुनाव आयोग ने कहा है कि रोजाना शाम 7 बजे प्रचार थम जाना चाहिए और अगले दिन सुबह 10 बजे से प्रचार शुरू किया जा सकता है।

मतदान से पहले प्रचार समाप्त होनें की समय सीमा 48 घंटे से बढ़ाकर 72 घंटे कर दी गई है। बता दें कि 17 अप्रैल को राज्य में पांचवें चरण का मतदान है। इसके बाद 22, 26 और 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।

Next Stories
1 कोरोनाः दिल्ली में 20 हजार केस, महाराष्ट्र में टूटे सारे रेकॉर्ड, जानें अपने शहर का हाल
2 लाइव शो में बोले ऐंकर- लोग सोचते हैं पत्रकारों को मिल जाएगा बेड, मेरे फोन करने पर भी नहीं मिला
3 2014 से पहले प्रशांत किशोर ने मोदी को बार-बार दिखाया था एक इंटरव्यू? पीके ने बताया सच
यह पढ़ा क्या?
X