ताज़ा खबर
 

BJP नेता ने गृह मंत्री अमित शाह को लिखा खत, कहा- बंगाल का तंत्र पूरी तरह टूट चुका है, उठाएं जरूरी कदम

रॉय से पहले नौ जून को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले तृणमूल कांग्रेस ने भी गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखी थी।

Mukul Roy, BJP, West Bengal, Home Minister, Amit Shah, Home Minister, Letter, TMC, Breakdown, State Machinery, Situation, Voilence, West Bengal News, State News, India News, National News, Hindi Newsरॉय ने दावा किया है कि सूबे में बीते दिनों भड़की हिंसा की घटनाओं को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने अंजाम दिया था। (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल के हालात को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता मुकुल रॉय ने मंगलवार (11 जून, 2019) को गृह मंत्री अमित शाह के सामने खत लिखकर चिंता जताई। उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सरकार पर इसके जरिए हमला बोला और कहा कि बंगाल में सरकारी तंत्र पूरी तरह से टूट चुका है। ऐसे में जरूरी कदम नहीं उठाए गए, तो हालात काबू के बाहर हो जाएंगे। समाचार एजेंसी एएनआई ने रॉय की चिट्ठी से जुड़ी प्रतियां भी जारी की हैं।

दरअसल, रॉय से पहले नौ जून को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले तृणमूल कांग्रेस ने भी गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखी थी। बीजेपी नेता ने दावा किया कि पूरे राज्य भर में अराजकता और अव्यवस्था का माहौल पनपा हुआ है। चिट्ठी में उन्होंने आरोप लगाया, “बंगाल में हिंसा की सभी घटनाएं टीएमसी के कैडरों द्वारा अंजाम दी गईं, जिसमें माननीय सीएम ममता बनर्जी के निर्देश पर प्रशासन ने भी मदद की।”

इसी बीच, केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने सूबे में बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले पर कहा कि सीएम खुद ही राज्य में हिंसा के लिए लोगों को उकसा रही हैं। उन्होंने इस काम में अपने पार्टी कार्यकर्ताओं और पुलिस को लगा रखा है। कहा है कि हैरान करने वाले तथ्य सामने आए हैं कि बंगाल हिंसा के आरोपियों के तार रोहिंग्याओं से जुड़े हैं। ऐसे में टीएमसी सरकार को सत्ता में रहने में नैतिक अधिकार नहीं है।

इससे पहले, पश्चिम बंगाल सीएम ने कहा था कि चुनाव के बाद सूबे में हुई हिंसाओं में जो 10 लोग मारे गए थे, उनमें से आठ उनकी टीएमसी के थे। बता दें कि ये झड़पें टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच विभिन्न जिलों में हुई थीं, जिनमें उत्तरी 24 परगना, कूच बेहार, हावड़ा, पश्चिम वर्धमान शामिल हैं। इन जगहों पर कई लोगों की जान गईं, जबकि कुछ बुरी तरह से जख्मी हुए थे। वहीं, भगवा पार्टी का दावा है कि वे 2021 के आगामी विधानसभा चुनाव में टीएमसी को सत्ता से उखाड़ फेंकेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi: बैठक में ज्योतिरादित्य सिंधिया, केके शर्मा में हुई तीखी नोंकझोंक, बाहर भी दो नेता आपस में भिड़े
2 IRCTC: ऐसे बुक किया है ‘कन्फर्म टिकट’ तो हो जाएं सावधान, ट्रेन में पहुंचकर लग सकता है झटका
3 लालू का जन्‍म दिवस: पत्‍नी ने दी 72वें की बधाई, तो बेटे ने कहा- 71वें जन्‍मदिन की शुभकामनाएं
ये पढ़ा क्या?
X