ताज़ा खबर
 

फिर बोले बंगाल BJP अध्यक्ष – तोड़फोड़ करने वालों को मार दी जानी चाहिए गोली, गलत हूं तो…

इससे पहले दिलीप घोष ने हावड़ा में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि ‘जो बुद्धिजीवी नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे हैं वो रीढ़हीन हैं, वो लोग राक्षस और परजीवी हैं।’

दिलीप घोष लगातार अपने बयानों से चर्चा में बने हुए हैं। फोटो सोर्स – ANI

पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष दिलीप घोष अपने बयानों को लेकर लगातार चर्चा में बने हुए हैं। अब एक बार फिर उन्होंने एक विवादित बयान दे दिया है। दिलीप घोष ने कहा है कि ‘पश्चिम बंगाल में जो लोग सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं उन्हें गोली मार देनी चाहिए। अगर लोग यह समझते हैं कि मैं गलत हूं तो सबसे पहले पश्चिम बंगाल सरकार में शामिल उन लोगों को माफी मांगनी चाहिए जिन्होंने शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को गोली मारी।’

’50 लाख मुस्लिम घुसपैठियों को बाहर खदेड़ देंगे’:
इससे पहले बीते रविवार को राज्य के उत्तर 24 परगना जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए घोष ने कहा था कि ‘सरकार प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी पूरे देश में लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है और राज्य में अवैध रूप से रह रहे 50 लाख बांग्लादेशी मुसलमानों को बाहर खदेड़ेंगे।’ पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर बरसते हुए घोष ने कहा था कि जब ‘‘लुंगी पहने रोंहिंग्याओं’’ ने तीन दिन तक रेलवे स्टेशनों और अन्य सार्वजनिक संपतियों को आग लगाई, तो उन्होंने कुछ नहीं बोला।’

दिलीप घोष को रैली से पहले रोका:
इससे पहले शनिवार को दिलीप घोष पूरबा मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम में नागरिकता संशोधन कानून के पक्ष में एक रैली को संबोधित करना चाहते थे। लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया। पुलिस ने तेंगुआ मोड पर चांदीपुर से नंदीग्राम में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे घोष को रोक दिया था। इससे बौखलाए दिलीप घोष ने आरोप लगाया था कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने जब नंदीग्राम जाने की कोशिश की, तब पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया।

‘जो बुद्धिजीवी कर रहे CAA का विरोध, वो परजीवी राक्षस हैं’:
इससे पहले दिलीप घोष ने हावड़ा में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि ‘जो बुद्धिजीवी नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे हैं वो रीढ़हीन हैं, वो लोग राक्षस और परजीवी हैं।’

‘सार्वजनिक संपत्ति तोड़ने वालों को हमने UP, असम में कुत्तों जैसे मारा’:
एक सभा में दिलीप घोष ने यह भी कहा था कि ‘दीदी (ममता बनर्जी) की पुलिस ने उनलोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कि जिन्होंने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था। उत्तर प्रदेश, असम और कर्नाटक में हमारी सरकार ने ऐसे लोगों को कुत्तों की तरह मारा है।’ दिलीप घोष ने आगे यह भी कहा था कि ‘आप यहां आएंगे…हमारा खाना खाएंगे और यहां रहकर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाएंगे…क्या यह आपकी जमींदारी है? हम आपको लाठी से पिटेंगे, गोली मार देंगे, जेल में बंद कर देंगे।’

‘पश्चिम बंगाल देशविरोधियों का अड्डा बन गया है’:
पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष ने अपने एक बयान में पश्चिम बंगाल को देशविरोधियों का अड्डा बता दिया था। उन्होंने कहा था कि ‘पश्चिम बंगाल ऐसी जगह है जिसने देश को वंदे मातरम और जय हिंद जैसे नारे दिए। लेकिन अब यदि कोई यहां पाकिस्तान जिंदाबाद या हिंदुस्तान तेरे टुकड़े होंगे इंशाअल्लाह, इंशाअल्लाह कहे तो यह स्पष्ट है कि यह जगह देशविरोधियों का अड्डा बन गया है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X