ताज़ा खबर
 

मुश्किल में पश्चिम बंगाल BJP चीफ! जान का खतरा बता Shivsena नेता ने मानवाधिकार आयोग को दी शिकायत

बकौल घोष, "जिन्हें (प्रदर्शनकारी) ऐसा लगता है कि जो सार्वजनिक संपत्तियां वे तोड़ रहे हैं, वे उनके बाप की हैं? तो मैं बता दूं कि वह करदाताओं की हैं। आप (ममता) कुछ नहीं कहेंगी, क्योंकि वे आपके वोटर हैं।"

बंगाल BJP चीफ दिलीप घोष (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः आदित्य पॉल)

पश्चिम बंगाल BJP चीफ दिलीप घोष की मुश्किलें बढ़ गई हैं। सूबे में Shivsena की इकाई ने उनके खिलाफ राज्य मानवाधिकार आयोग (WBSHRC) को शिकायत दे दी है। शिवसेना का आरोप है कि घोष CAA, NRC और NPR का विरोध करने वालों को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

समाचार एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक, बंगाल में शिवसेना के महासचिव अशोक सरकार ने WBSHRC को लिखे पत्र में कहा है, “मैं घोष पर लोगों को उकसाने और धमकाने का आरोप लगाता हूं। उनके सांसद और सत्तारूढ़ दल के नेता होने के नाते मुझे डर है कि लोगों को धमकाना अपनी आदत में ला चुके हैं। बंगाल शिवसेना के सदस्य और अन्य लोगों के साथ सीएए का विरोध करने वालों में होने के तौर पर मुझे अपनी और मेरे कार्यकर्ताओं के साथ समर्थकों की जान का खतरा मंडरा रहा है।”

सरकार ने राज्य मानवाधिकार आयोग से गुजारिश की है कि वह इस मसले की गहनता से जांच करे और सूबे में शांतिपूर्ण व लोकतांत्रिक माहौल स्थापित करे। बता दें कि 12 जनवरी को घोष ने सीएए विरोधी प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वालों को गोली मार दिए जाने की बात कही थी।

बकौल घोष, “जिन्हें (प्रदर्शनकारी) ऐसा लगता है कि जो सार्वजनिक संपत्तियां वे तोड़ रहे हैं, वे उनके बाप की हैं? तो मैं बता दूं कि वह करदाताओं की हैं। आप (ममता) कुछ नहीं कहेंगी, क्योंकि वे आपके वोटर हैं।”

कोलकाता से लगभग 80 किमी दूर रानाघाट स्थित उस रैली में घोष आगे यह भी बोले थे- हमारी सरकारों ने असम और यूपी में लोगों को कुत्तों जैसे मारा। अगर पश्चिम बंगाल में सत्ता में आए, तब ऐसे लोगों को लाठी-डंडों और गोलियों से मारा जाएगा। और, उन्हें जेल भी भेजा जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 शाहीन बाग प्रदर्शनः अरविंद केजरीवाल पर बोले कुमार विश्वास- अपने अमानती गुंडे भेज बिठाओ तुम, और उठाएं दूसरे? लोग यूं लेने लगे मजे
2 मध्य प्रदेशः मंच पर भाषण दे रहे थे मंत्री, अचानक पहुंची महिला और याद दिलाने लगी ‘अधूरे वादे’, जानिए आगे क्या हुआ
3 CAA, NRC विवादः पूर्व JNU छात्र बोले- शाहीन बाग है देश का तक्सीम चौक, पहली बार देश के मुसलमान को मिली जुबां
ये पढ़ा क्या?
X