ताज़ा खबर
 

अब्बास सिद्दीकी के लिए कांग्रेस के 23 दिग्गजों के खिलाफ चली गई पार्टी, सवाल पर प्रवक्ता बोले- CM योगी भी बड़ी दिक्कत का काम कर रहे फिर

बंगाल में कांग्रेस पार्टी ने इंडियन सेक्युलर फ्रंट और कम्युनिस्ट पार्टी के साथ गठबंधन किया है। पार्टी को उम्मीद है कि इससे उसे बंगाल में अपना पैर जमाने में फायदा होगा। साथ ही भाजपा को रोकने में मदद मिलेगी।

west bengal electionबंगाल में कांग्रेस, इंडियन सेक्युलर फ्रंट और कम्युनिस्ट पार्टी के गठबंधन को लेकर विरोध शुरू हो गया है। (पीटीआई फोटो)

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आईएसएफ) के साथ जाने पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। राजनीतिक विशेषज्ञ भी इसको लेकर आश्चर्य जता रहे हैं। कई लोगों का कहना है कि कांग्रेस पार्टी को लगता है कि आईएसएफ के साथ जाने से मुस्लिम वोट मिल जाएंगे। हालांकि पार्टी के अंदर भी इसको लेकर मतभेद हैं।

कई नेताओं का कहना है कि आईएसएफ से गठबंधन से मुस्लिम वोट भले थोड़े-बहुत मिल जाएंगे, लेकिन कांग्रेस को मिलने वाले हिंदू वोट घट जाएंगे। टीवी चैनलों पर इसको लेकर खूब डिबेट हो रही है।

न्यूज चैनल आज तक पर एंकर अंजना ओमकश्यप ने कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत से पूछा कि इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आईएसएफ) के नेता पीरजादा अब्बास सिद्दीकी कांग्रेस के लिए इतने अनमोल क्यों हैं कि 23 दिग्गजों के खिलाफ चली गई पार्टी, आपको उनका साथ लेना जरूरी हो गया है? इस पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि “यह भाजपा का फैलाया गया अफवाह है। फुरफुरा पीरजादा अब्बास सिद्दीकी सूफी परंपरा के हैं और उनकाे मानने वाले हिंदू-मुस्लिम सभी धर्मों के लोग हैं। अगर उनके पार्टी के साथ आने से किसी को दिक्कत है, तो यह गलत है।”

उन्होंने कहा, “धर्म विशेष के लोग बंगाल में चुनाव प्रचार कर रहे हैं तो फिर गोरक्षपीठ के मठाधीश योगी जी भी मालदा में चुनाव प्रचार करने क्यों जाते हैं? अगर पीराजादा से दिक्कत है तो सीएम योगी भी बड़ी दिक्कत का काम कर रहे हैं।” कहा कि योगी जी जाकर मालदा में प्रचार करते हैं। धार्मिक भेदभाव वाला भाषण देते हैं। उनसे भी तो समाज को बहुत दिक्कत हो रही है।

बंगाल में कांग्रेस पार्टी ने इंडियन सेक्युलर फ्रंट और कम्युनिस्ट पार्टी के साथ गठबंधन किया है। पार्टी को उम्मीद है कि इससे उसे बंगाल में अपना पैर जमाने में फायदा होगा। साथ ही भाजपा को रोकने में मदद मिलेगी।

Next Stories
1 15 मिनट से एक ही बात पूछ रहे, जिसका कोई जवाब नहीं- डिबेट में पैनलिस्ट से बोले भाजपा प्रवक्ता
2 देश में 50 करोड़ मौत मांगने वाली पार्टी से गठबंधन कर रही कांग्रेस, एंकर ने प्रवक्ता से पूछा तो बोले- मौलाना से गठबंधन ना करें, ये क्या मतलब
3 बंगाल: सीएम ममता को ‘भगवा झटका’, BJP में शामिल हुए TMC नेता और पूर्व मेयर जितेंद्र तिवारी
ये पढ़ा क्या?
X