ताज़ा खबर
 

बंगाल: 1 साल में 5 लाख नौकरियों का वादा, CM ममता बनर्जी बोलीं- टीएमसी फिर सत्ता में आई तो राज्य में विकास की लगेगी झड़ी, खत्म होगी गरीबी

पश्चिम बंगाल की सीएम और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने बुधवार को पार्टी का घोषणा पत्र जारी करते हुए किसानों, गरीबों, बेरोजगारों और महिलाओं सभी के लिए कुछ न कुछ वादें किए। कहा कि उनकी सरकार फिर सत्ता में आई तो विकास की झड़ी लग जाएगी।

West bengal assembly election 2021, mamata banerjeeकोलकाता में तृणमूल कांग्रेस पार्टी का घोषणा पत्र जारी करतीं पार्टी सुप्रीमो और सीएम ममता बनर्जी। (फोटो- एएनआई)

पश्चिम बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस ने अपना घोषणा पत्र बुधवार को जारी कर दिया। कोलकाता में पार्टी सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा पत्र को जारी करते हुए लोगों से कई नए वादे किए। कहा कि उनकी सरकार फिर सत्ता में आई तो राज्य में विकास की झड़ी लग जाएगी। इस दौरान उन्होंने राज्य से बेरोजगारी के खात्मे का वादा किया। कहा एक साल में पांच लाख नौकरियों पैदा की जाएंगी। उच्चतर शिक्षा प्राप्त कर रहे छात्रों को 10 लाख रुपए की खर्च सीमा वाला क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा। इसमें सिर्फ चार फीसदी ब्याज देना होगा। बताा कि राज्य से 40 फीसदी तक गरीबी दूर कर दी गई है।

उन्होंने कहा कि ‘दुआरे सरकार’ कार्यक्रम अब साल में चार महीने तक चलेंगे। इसमें लोगों को दरवाजे पर ही मुफ्त राशन दिया जाएगा। विधवाओं की पेंशन बढ़ाकर एक हजार रुपए मासिक कर दी जाएगी। किसानों के लिए वार्षिक वित्तीय सहायता 6,000 रुपए से बढ़ा कर 10,000 रुपए किया जाएगा। उन्होंने बताया कि तृणमूल की सरकार ने सभी लोगों के लिए काम किया है। तृणमूल की सरकार दोबारा सत्ता में आने पर निम्न आय वर्ग के लोगों को छह हजार रुपए सालाना भत्ता दिया जाएगा। अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के गरीब लोगों को सालाना 12 हजार रुपए पेंशन दी जाएगी। पांच लाख रुपए हेल्थ इंश्योरेंस आगे भी चलता रहेगा।

उन्होंने कहा कि राज्य में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए 10 लाख एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) इकाइयां स्थापित की जाएंगी। इससे भारी संख्या में युवाओं और बेरोजगारों को नौकरियां मिलेंगी।

इससे पहले उन्होंने बुधवार को आरोप लगाया कि नंदीग्राम में उन पर “हमले” की साजिश रचने वाली भाजपा राज्य में विधानसभा चुनावों से पहले उन्हें घर के अंदर रहने को मजबूर करना चाहती थी। झारग्राम जिले के गोपीबल्लवपुर और लालगढ़ में कई रैलियों को संबोधित करते हुए बनर्जी ने आरोप लगाया कि पहले मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) उन पर शारीरिक हमला किया करती थी और अब भाजपा भी वही कर रही है।

बनर्जी ने एक व्हीलचेयर पर बैठकर चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, “वे (भाजपा) मुझे घर के अंदर रखना चाहते थे ताकि मैं चुनाव के दौरान बाहर न जा सकूं। उन्होंने मेरा पैर घायल कर दिया।” उन्होंने क्षेत्र के लोगों से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवारों को वोट देने का आग्रह करते हुए कहा, “वे मेरी आवाज को नहीं दबा सकते, हम भाजपा को हरा देंगे।” उन्होंने कहा, “हमारे उम्मीदवारों के लिए आप जो वोट डालेंगे, वह मेरे लिए होगा।” बनर्जी ने दावा किया कि भाजपा ने 2019 में झारग्राम लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की थी, लेकिन पार्टी के सांसद ने इस क्षेत्र के लिए कुछ नहीं किया है।

Next Stories
1 एंटीलिया केस: हटाए गए मुंबई के पुलिस कमिश्नर, हेमंत नागराले को मिली जिम्मेदारी
2 कुतिया की मौत पर भी नेताओं का शोक संदेश आता है, 250 किसानों की मौत पर कोई ना बोला- राज्यपाल सत्यपाल मलिक का केंद्र पर हमला
3 पुदुचेरी चुनावः कांग्रेस ने जारी की 14 उम्मीदवारों की लिस्ट, पूर्व सीएम नारायणसामी का नाम गायब
ये पढ़ा क्या?
X