ताज़ा खबर
 

West Bengal Assembly Election: तीसरे चरण में 79 फीसदी मतदान, देसी बम फेंकने के मामले दर्ज

तीसरे चरण में कानून और व्यवस्था बनाये रखने के लिए करीब एक लाख सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।

माकपा के 35 वर्षीय पोलिंग एजेंट तहिदुल इस्लाम का शव मुर्शिदाबाद जिले के डोमकल विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत शिवपाड़ा इलाके के एक मतदान केंद्र के बाहर पड़ा मिला।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के मतदान में 79 फीसदी मतदान हुआ है। तीसरे चरण में बंगाल की 62 सीटों पर मतदान हुआ। इनमें से सात सीटें कोलकाता की हैं। इस दौरान कानून और व्यवस्था बनाये रखने के लिए करीब एक लाख सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। मुर्शिदाबाद, नादिया, बर्दवान और उत्तर कोलकाता की कुल 62 सीटों पर हुए मतदान में 34 महिलाओं समेत 418 उम्मीदवारों की किस्‍मत ईवीएम में कैद हो गई।  इस चरण में तृणमूल कांग्रेस के मंत्री साधन पांडे और शशि पांजा, भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा, पांच बार विधायक रह चुके कांग्रेस के मोहम्मद सोहराब, माकपा विधायक अनीसुर रहमान और सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी नजरूल इस्लाम अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

लाइव अपडेटः-

-दोपहर तीन बजे 67.80 फीसदी मतदान दर्ज किया गया है।

– चुनाव आयोग ने कहा- क्रूड बम फेंकने के मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

-केतुग्राम विधानसभा सीट के मतदान केन्द्र संख्या 48 पर कथित तौर पर बम फेंके जाने के कारण माकपा के दो कार्यकर्ता घायल हो गये। माकपा ने इस घटना में तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के शामिल रहने का आरोप लगाया है। तृणमूल ने आरोप का खंडन किया है।
-केन्द्रीय अर्द्ध सैनिक बलों ने जिले के पुरबस्थली उत्तर सीट पर तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशी तपन चट्टोपाध्याय को ‘संचार में अंतराल’ के कारण मतदान केन्द्र संख्या 20 पर प्रवेश करने से रोक दिया। जब उन्होंने वैध दस्तावेज दिखाया तो बाद में उन्हें अंदर जाने की अनुमति दी गयी।
-नदिया जिले की कल्याणी सीट पर एक मतदान केन्द्र पर दो लोगों को उस वक्त हिरासत में ले लिया गया जब उन्होंने दूसरी बार मतदान करने की कोशिश की।
-माकपा के एक पोलिंग एजेंट की हत्या से माकपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया। वाम दल ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस ने ‘आतंक का राज’ फैला रखा है, जबकि चुनाव आयोग ‘मूक दर्शक’ बना हुआ
है। बहरहाल, तृणमूल ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि यह हत्या माकपा और कांग्रेस के बीच मतभेदों का नतीजा है।
-माकपा के 35 वर्षीय पोलिंग एजेंट तहिदुल इस्लाम का शव मुर्शिदाबाद जिले के डोमकल विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत शिवपाड़ा इलाके के एक मतदान केंद्र के बाहर पड़ा मिला। माकपा प्रत्याशी एवं पूर्व मंत्री अनिसुर रहमान ने बताया कि
मतदान केंद्र के बाहर फेंके गए बमों के विस्फोट में तहिदुर इस्लाम की मौत हुई।
-पहले चार घंटों में 40 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।
-पुलिस के मुताबिक कोलकाता के बेलेघाटा विधानसभा क्षेत्र से मतदाताओं को डराने-धमकाने की शिकायतें मिली हैं जिसके बाद पुलिस ने सात लोगों को हिरासत में ले लिया।
– 11 बजे तक मुर्शिदाबाद की 22 सीटों पर 42.99 फीसद का उच्चतम मतदान रेकार्ड दर्ज किया गया। सबसे कम 32.78 प्रतिशत महानगर में दर्ज किया गया, ।नदिया जिले की 17 सीटों पर मतदान प्रतिशत 40.78 था जबकि बर्धमान की 16
सीटों पर 37.33 था। समग्र प्रतिशत 39.76 फीसद था।

-दोपहर एक बजे तक 56.08 फीसदी मतदान हुआ।

-सुबह 11 बजे तक 39.76 फीसदी मतदान हुआ है।

– सुबह 9 बजे तक 18.29 फीसदी मतदान हुआ। मुर्शिदाबाद में सबसे ज्यादा 20.53 फीसदी मतदान हुआ है।

-बर्दवान जिले में एक पॉलिंग बूथ पर आपस में हुई झड़प में चार लोग घायल हो गए। इस जिले में आज 16 सीटों के लिए चुनाव हो रहे हैं।
-बर्दवान में एक पॉलिंग बूथ पर पिस्टल के साथ कुछ गुंडे दिखाई दिए।

-कांग्रेस ने टीएमसी पर आरोप लगाया कि उनके बूथ कार्यकर्ताओं का टीएमसी वर्कर्स ने अपहरण कर लिया है, इस मामले में कांग्रेस ने पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है।

-टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर देसी बम फेंकने से मुर्शिदाबाद जिले में एक सीपीआई(एम) कार्यकर्ता की मौत हो गई।

-राज्य में सात चरणों में चुनाव होने हैं। आखिरी चरण का चुनाव पांच मई को है। मतगणना 19 मई को है।-कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के लिए चुनावी क्षेत्रों में केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बल के 75,000 जवानों सहित एक लाख सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।
-स्थानीय भाषा या भौगोलिक स्थिति से अनभिज्ञ इन 75,000 अर्द्धसैनिक बल के जवानों की सहायता के लिए 25,000 राज्य पुलिस बल के जवानों को मुस्तैद किया गया है।
-सभी मतदान परिसरों की सुरक्षा की जिम्मेदारी केन्द्रीय बलों के कंधों पर होगी जबकि स्थानीय भाषा को समझने वाले ‘लाठी’ से लैस राज्य पुलिस बल के जवान कतार प्रबंधन की जिम्मेदारी संभालेंगे।

चार राज्यों में विधानसभा चुनाव की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंः-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App