ताज़ा खबर
 

Weather Forecast: सैलाब ने बढ़ाई मुसीबतें: बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में 19 मरे

Weather forecast: यमुना नदी का पानी निचले इलाकों में पहुंचने के कारण डूबक्षेत्र में रहने वाले 15,000 से अधिक लोगों को विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा स्थापित टेंट में भेजा गया है। हरियाणा ने हथनीकुंड बराज से 16280 क्यूसेक पानी छोड़ा है।

Author नई दिल्ली | Updated: Aug 22, 2019 22:26 pm
अमृतसर में भारी बारिश के बाद पानी के बीच से गुजरते लोग। (फोटोः पीटीआई)

Weather forecast: उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में नदियों की बाढ़ से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है और पिछले 24 घंटों के दौरान विभिन्न जिलों में बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई। मौसम केन्द्र के मुताबिक आने वाले चार-पांच दिनों तक मानसून सक्रिय रहेगा। हालांकि बहुत तेज बारिश नहीं होगी। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार को हल्की बारिश हुई। मौसम विभाग ने सामान्य तौर पर आकाश में बादल छाए रहने और हल्की बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया था।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे में शहर में कहीं-कहीं बारिश भी हुई है। वहीं, यमुना नदी के जलस्तर में कमी हो रही है। बुधवार को पानी खतरे के निशान से नीचे रहा। दिल्ली सरकार के अधिकारियों का कहना है कि जलस्तर पिछले छह घंटे से 206.60 मीटर के स्तर पर थमा है और इसके नीचे आने की संभावना है।

नदी ने सोमवार को खतरे के निशान 205.33 मीटर को पार कर दिया था। अधिकारियों ने बताया कि निचले इलाकों में नदी का पानी पहुंचने के कारण डूबक्षेत्र में रहने वाले 15,000 से अधिक लोगों को विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा स्थापित टेंट में भेजा गया है।  बाढ़ विभाग के नियंत्रण कक्ष में एक अधिकारी ने कहा कि हरियाणा ने हथनीकुंड बराज से 16280 क्यूसेक पानी छोड़ा है।

दूसरी तरफ हाल ही में हुई बारिश और भाखड़ा बांध से अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के बाद सतलुज नदी और उसकी सहायक नदियों में उफान आ गई हैं। इससे,पंजाब के लुधियाना, जालंधर, फिरोजपुर और रूपनगर के कई गांवों में बाढ़ आ गई। बाढ़ से निचले इलाकों में फसलों और घरों को नुकसान पहुंचा है। सेना के हेलीकॉप्टरों ने बुधवार को पंजाब के जालंधर जिले के बाढ़ प्रभावित गाँवों में भोजन के पैकेट गिराए। अधिकारियों ने कहा कि हालात सामान्य होने तक सेना की मदद से प्रभावित गांवों में खाने के पैकेटों को पहुंचाने का काम जारी रहेगा।

Live Blog

Highlights

    22:19 (IST)22 Aug 2019
    नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि

    उत्तर प्रदेश की नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है। यमुना नदी प्रयाग घाट (मथुरा) में खतरे के निशान को पार कर गयी है। मावी में इसका जलस्तर इस चिह्न के करीब आ चुका है। शारदा नदी पलियाकलां (लखीमपुर खीरी) में अब भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, जबकि शारदा नगर में यह लाल चिह्न के नजदीक बनी हुई है। घाघरा नदी एल्गिनब्रिज (बाराबंकी) में खतरे के निशान को एक बार फिर पार कर गयी है। वहीं, अयोध्या और तुर्तीपार में इसका जलस्तर इस निशान के नजदीक बना हुआ है।

    21:06 (IST)22 Aug 2019
    दिल्ली में बारिश से मौसम सुहाना

    तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश के बाद दिल्ली में मौसम सुहाना हो गया है और तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। बीते की दिनों से राजधानी में बारिश की कमी से लोग गर्मी के साथ-साथ उमस को सामना कर रहे थे। गुरुवार दोपहर दिल्ली और आसपास के इलाकों में तेज बारिश हुई।

    20:04 (IST)22 Aug 2019
    एसडब्ल्यूएसी हेलीकाप्टरों ने गुजरात और महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से 300 लोगों को निकाला

    दक्षिण पश्चिम वायु कमान (एसडब्ल्यूएसी) द्वारा तैनात किये गए हेलीकाप्टरों ने गुजरात और महाराष्ट्र में हाल की बाढ़ में फंसे बच्चों सहित करीब 300 लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। यह जानकारी एक वरिष्ठ अधिकारी ने बृहस्पतिवार को दी। एसडब्ल्यूएसी के एक अधिकारी के अनुसार दोनों राज्यों में हेलीकाप्टर और विमान तैनात करने में त्वरित कार्रवाई से भारतीय वायुसेना को राहत और बचाव अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करने में मदद मिली।

    19:07 (IST)22 Aug 2019
    मध्य प्रदेश, केरल और ओडिशा में अगले कुछ घंटों के दौरान ऐसा रहेगा मौसम का हाल

    अगले 24 घंटों के दौरान पश्चिमी मध्य प्रदेश के हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश की उम्मीद है। मौसम पर नजर रखने वाली एक निजी वेबसाइट ने यह जानकारी दी। इसके अलावा मौसम विभाग ने केरल और ओडिशा में भारी बारिश की संभावना जताई है। विभाग ने कहा है कि अगले 72 घंटों के दौरान ओडिशा में भीषण बारिश देखने को मिल सकती है।

    18:10 (IST)22 Aug 2019
    सैलाब ने बढ़ाई मुसीबतें: बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में 19 मरे

    उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में नदियों की बाढ़ से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है और पिछले 24 घंटों के दौरान विभिन्न जिलों में बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में कम से कम 19 लोगों की मौत हो गयी। बलिया में बुधवार को बाढ़ के पानी में डूबकर तीन लोगों की मौत हो गयी थी, वहीं, पिछले 24 घंटों के दौरान अमेठी में तीन, रायबरेली, सोनभद्र और मिर्जापुर में दो-दो तथा सहारनपुर, हमीरपुर, प्रतापगढ़, भदोही, फतेहपुर, बस्ती और अयोध्या में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गयी।

    16:57 (IST)22 Aug 2019
    गंगा नदी ने रौद्र रूप अख्तियार किया

    उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में नदियों की बाढ़ से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है। गंगा नदी ने रौद्र रूप अख्तियार कर लिया है। केन्द्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के अनुसार, गंगा नदी ने रौद्र रूप अख्तियार कर लिया है। पिछले कई दिन से कछलाब्रिज (बदायूं) में कहर ढा रही यह नदी अब नरौरा (बुलंदशहर) के साथ-साथ बलिया में भी खतरे के निशान को पार कर गयी है। फर्रुखाबाद और गाजीपुर में इसका जलस्तर लाल चिह्न के नजदीक पहुंच गया है। यमुना नदी प्रयाग घाट (मथुरा) में खतरे के निशान को पार कर गयी है। मावी में इसका जलस्तर इस चिह्न के करीब आ चुका है।

    16:08 (IST)22 Aug 2019
    उप्र में बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में पांच मरे

    उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में नदियों की बाढ़ से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है। पिछले 24 घंटों के दौरान बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में कम से कम पांच लोगों की मौत हो गयी। बलिया में बाढ़ के पानी में डूबकर तीन लोगों की मौत हो गयी। वहीं, प्रतापगढ़ और भदोही में वर्षाजनित हादसों में दो अन्य लोग मारे गये।

    15:18 (IST)22 Aug 2019
    उत्तरकाशी में आराकोट-नकोट राजमार्ग खुला

    उत्तराखंड के उत्तरकाशी में बादल फटने के बाद से बंद हुए अराकोट-नकोट राजमार्ग को खोल दिया गया है। अभी इस मार्ग से केवल हल्के वाहन ही गुजरेंगे। इलाके में बादल फटने की घटना के कारण भारी तबाही हुई थी।

    14:50 (IST)22 Aug 2019
    बीबीएमबी ने हालात पर नियंत्रण के लिए प्रभावी कदम उठाए

    भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड (बीबीएमबी) ने पंजाब में हालिया दिनों में बारिश के कारण पैदा हुए हालात से निपटने के लिए बेहद पेशेवर तरीके से कदम उठाए।  बीबीएमबी के अध्यक्ष डी के शर्मा ने कहा कि बीबीएमबी नियंत्रित तरीके से पानी छोड़कर पिछले 40 साल के दौरान आयी सबसे भीषण बाढ़ से निपटने में कामयाब रहा।  बेहद पेशेवर तरीके से हालात पर नियंत्रण पाया गया। अध्यक्ष ने कहा कि जलग्रहण क्षेत्र में 17 और 18 अगस्त की दरम्यानी रात भारी बारिश से भाखड़ा बांध में 3.11 लाख क्यूसेक पानी आ गया। यह पानी 1988 की बाढ के समय से ज्यादा था।

    14:19 (IST)22 Aug 2019
    यूपी के चित्रकूट में बिजली गिरने से दो की मौत

    उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले में बिजली गिरने से दो लड़कों की मौत हो गयी। मऊ थाना क्षेत्र के तहत खांडेहा गांव में मवेशियों को घास चरा रहे उदय राज और पुष्पेंद्र की मौत हो गयी। इस बीच, केरल में बारिश के कारण घटी घटनाओं में मृतकों की संख्या 125 हो गयी है। बुधवार को दो और लोगों के शव मिले। भूस्खलन प्रभावित मलप्पुरम और वायनाड में 17 लापता लोगों की तलाश जारी है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार ओडिशा के अधिकतर हिस्सों में अगले चार दिन भारी बारिश के आसार हैं।

    13:31 (IST)22 Aug 2019
    वृंदावन के केशीघाट पर फ्लड यूनिट तैनात

    यमुना नदी का पानी वृंदावन के निचले इलाकों में घुस गया है। बुधवार को यमुना का जलस्तर बढ़ने से केशीघाट की आठ सीढ़ियां जलमग्न हो गई। अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) ब्रजेश कुमार ने का कहना है केशीघाट पर यात्रियों की सुरक्षा की दृष्टि से पीएसी की एक प्लाटून फ्लड यूनिट तैनात की गई है। पीएसी के जवान लगातार यमुना में दो स्टीमरों से गश्त कर रहे हैं। और श्रद्धालुओं को यमुना किनारे से दूर रहने की चेतावनी दे रहे हैं।" इस स्थिति में राजस्व विभाग ने शहर में बाढ़ राहत शिविरों की स्थापना का कार्य शुरु कर दिया है। विभाग की टीम ने बुधवार को बाढ़ राहत शिविर बनाने के लिए हजारी मल सोमानी नगर निगम इंटर कॉलेज, बालिका इंटर कॉलेज, लक्ष्मण शहीद स्मारक का जायजा लिया।

    12:41 (IST)22 Aug 2019
    उत्तरकाशी में बादल फटने से 51 गांव प्रभावित

    उत्तरकाशी जिले के मोरी क्षेत्र में गत रविवार को बादल फटने और लगातार भारी बारिश से हुए भूस्खलन की घटनाओं में 70 किलोमीटर क्षेत्र में कुल 51 गांव प्रभावित हुए।  आपदा के कारण प्रभावित गांवों में कई भवन ढह गये हैं और 15 व्यक्तियों की मौत हुई है। छह अन्य लापता हैं जबकि आठ अन्य घायलों का विभिन्न अस्पतालों में उपचार  चल रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया।

    12:10 (IST)22 Aug 2019
    महाराष्ट्र में बाढ़ पीड़ितों के लिए कई हस्तियों मुख्यमंत्री राहत कोष में दान दिया

    महाराष्ट्र में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए कई नामचीन हस्तियों, बैंकों और व्यापार संघों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दान दिया। सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने बाढ़ राहत के लिए मंगलवार को 11 लाख रुपये का दान दिया, जबकि अभिनेता आमिर खान ने 25 लाख रुपये दिये। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इसके लिए दोनों हस्तियों को धन्यवाद दिया। इसके अलावा, महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम ने एक करोड़ रुपये, कोल्हापुर जिला केंद्रीय सहकारी बैंक ने 21.98 लाख रुपये, हजरत हाजी अब्दुल रहमान सैलानी शाहबाबा ट्रस्ट, बुलढाणा ने 5 लाख रुपये, जबकि पुणे में नागरिकों के एक संगठन ने सात लाख रुपये दिए।

    11:29 (IST)22 Aug 2019
    केजरीवाल ने की बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात

    राजधानी में यमुना का जलस्तर बढ़ने के बाद बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने बाढ़ प्रभावित लोगों से मुलाकात की। केजरीवाल ने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि राहत सामग्री की कमी न हो। नदी दिल्ली के छह जिलों से होकर बहती है, जिनके निचले इलाके में बाढ़ आने का खतरा रहता है। किसी भी अप्रिय स्थिति को रोकने के लिए प्रशासन ने 30 नौकाएं तैनात की हैं।

    11:02 (IST)22 Aug 2019
    उत्तराखंड में हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, तीन लोगों की मौत

    उत्तराखंड में वर्षा से प्रभावित उत्तरकाशी जिले में बचाव और राहत कार्य में लगा एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिससे इसमें सवार तीनों लोगों की मौत हो गयी। उत्तराखंड के  महानिदेशक (कानून व्यवस्था) अशोक कुमार ने बताया कि हेरिटेज एविएशन का हेलीकॉप्टर मोलदी के पास तारों से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। उन्होंने बताया कि इसमें पायलट, सह-पायलट और एक स्थानीय व्यक्ति की मृत्यु हो गयी।

    10:23 (IST)22 Aug 2019
    भूस्खलन से मनाली-लेह राजमार्ग बंद

    हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में बुधवार को नये सिरे से भूस्खलन हुआ जिसमें राज्य के एक बड़े राजमार्ग पर यातायात अवरुद्ध हो गया। पुलिस ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में बुधवार को नये सिरे से भूस्खलन हुआ जिससे मनाली-लेह राजमार्ग पर यातायात अवरुद्ध हो गया। कुल्लू के एसपी गौरव सिंह ने कहा कि मनाली और रोहतांग के बीच सुबह करीब 11:30 बजे भूस्खलन हुआ। उन्होंने बताया कि राजमार्ग फिर से अवरुद्ध हो गया। इससे पहले भारी बारिश की वजह से कुछ दिन तक बंद रहे राजमार्ग पर मंगलवार को ही वाहनों की आवाजाही शुरू हुई थी।

    10:02 (IST)22 Aug 2019
    वृंदावन के निचले इलाकों में घुसा यमुना का पानी

    हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा गया लाखों क्यूसेक पानी अब मथुरा जनपद में कहर ढाने लगा है। यमुना का पानी यमुना किनारे के गाँवों में फसलों को बरबाद करने के बाद अब वृन्दावन की निचली कालोनियों में जनजीवन को प्रभावित करने लगा है। जिले के प्रभारी आपदा बचाव एवं राहत अधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) ब्रजेश कुमार ने बताया, "जिलाधिकारी के निर्देशानुसार उपरोक्त स्थानों पर बाढ़ राहत शिविर बनाए जाएंगे तथा शिविरों में शरण लेने वाले नागरिकों की जरूरत का हर सामान मुहैया कराया जाएगा।’’

    09:37 (IST)22 Aug 2019
    हरियाणा में सीएम खट्टर ने किया हवाई दौरा

    पड़ोसी राज्य हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करनाल, पानीपत और सोनीपत में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। यमुनानगर में हथिनीकुंड बैराज से 8.28 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद यमुना नदी में जलस्तर बढ़ गया था जिसके बाद करनाल, पानीपत, सोनीपत, फरीदाबाद और पलवल जैसे जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया था।

    09:31 (IST)22 Aug 2019
    पंजाब ने केंद्र से मांगे 1000 करोड़ रुपये

    पंजाब सरकार ने राज्य में हाल में बाढ़ से हुए नुकसान के लिए विशेष बाढ़ राहत पैकेज के रूप में बुधवार को केंद्र से 1,000 करोड़ रुपये की मांग की। राज्य में कई स्थानों पर, स्वयंसेवी संगठनों और धार्मिक संस्थाओं ने बाढ़ से तबाह लोगों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए लंगर का आयोजन किया है। हाल ही में हुई बारिश और भाखड़ा बांध, सतलुज और उसकी सहायक नदियों से अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के कारण लुधियाना, जालंधर, फिरोजपुर और रूपनगर के गांवों में पानी भर गया था।

    Next Stories
    1 P Chidambaram ने किया था दिल्ली में जिस CBI हेडक्वॉर्टर का उद्घाटन, गिरफ्तारी के बाद वहीं लाए गए
    2 श्मशान घाट के लिए दलितों को नहीं दिया जाता रास्ता, मजबूरी में पुल से करना पड़ता है शव को एयरड्रॉप
    3 कारोबारियों में हाहाकार: झारखंड में बंद हुए सैकड़ों कारखाने, निशाने पर बीजेपी की रघुवर दास सरकार