ताज़ा खबर
 

Weather Forecast: उत्तर भारत में ठंड का कहर, रेड अलर्ट जारी; न्यू ईयर तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं

Cold Weather Forecast, Delhi Temperature: हरियाणा के रेवाड़ी में दिल्ली- जयपुर राजमार्ग पर घने कोहरे के चलते 15 वाहनों के एकदूसरे से टकरा जाने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए।

Author Updated: December 29, 2019 8:44 AM
दिल्ली में बीते 118 सालों में सबसे ठंडा रहा दिसंबर। (AP Photo/K.M. Chaudary)

Cold Weather Forecast, Delhi Temperature: उत्तर भारत के कई हिस्सों में शीतलहर चलने से शनिवार को राजधानी दिल्ली और पड़ोसी राज्यों में न्यूनतम तापमान इस मौसम में सबसे कम स्तर पर चला गया। घने कोहरे के चलते दृश्यता कम होने से हवाई, रेल और सड़क यातायात भी प्रभावित हुए। शीतलहर से नए वर्ष तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। इस बीच मौसम विज्ञान विभाग ने रविवार के लिए पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए ‘रेड कोडेड’ (रेड अलर्ट) चेतावनी जारी की है और मध्य प्रदेश के लिए पीले (ऐंबर) रंग (येलो अलर्ट) की चेतावनी जारी की है। रेड अलर्ट तब जारी की जाती है जब मौसम की परिस्थतियां चरम होती हैं।

ठंड से दिल्ली बेहाल: मौसम विभाग के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ क्षेत्रों में शनिवार को तापमान दो डिग्री सेल्सियस से भी नीचे चला गया और लोधी रोड वेधशाला में यह 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 1901 के बाद से यह दूसरा सबसे ठंडा दिसंबर दर्ज होने की राह पर है। दिल्ली में चार उड़ानों को दिल्ली हवाईअड्डे से अन्य स्थानों की ओर मोड़ना पड़ा। वहीं रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि खराब दृश्यता के चलते हावड़ा…नयी दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस सहित 24 ट्रेनें दो से पांच घंटे विलंब से चलीं। आज भी दिल्ली का पारा 2 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना हुआ है। बताया जा रहा है कि ठंड से राहत मिलने की उम्मीद अभी नहीं है। इससे पहले इस महीने में दिल्ली में सबसे ठंडा दिन 11 दिसम्बर 1996 को था जब न्यूनतम तापमान 2.3 डिग्री सेल्सियस था।

Hindi News Today, 29 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

हरियाणा- यूपी में ठंड का कहर: हरियाणा के रेवाड़ी में दिल्ली..जयपुर राजमार्ग पर घने कोहरे के चलते 15 वाहनों के एकदूसरे से टकरा जाने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए। हिसार दोनों राज्यों में सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं यूपी में कई स्थानों पर लोग ठंड से ठिठुर गए क्योंकि पारे में दो डिग्री सेल्सियस की कमी आयी। मुजफ्फरनगर राज्य में सबसे ठंडा स्थान रहा जहां पारा गिरकर 1.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। वहीं इसके बाद अलीगढ़ का स्थान था जहां पारा 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

राजस्थान भी बेहाल: राजस्थान में सीकर जिले में फतेहपुर में सबसे कम तापमान दर्ज किया गया जहां यह शून्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। सीकर और माउंट आबू में तापमान क्रमश: शून्य से नीचे एक डिग्री सेल्सियस और शून्य से नीचे 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि जयपुर में अगले 24 घंटे तक शीतलहर जारी रहने की उम्मीद है।

पहाड़ों पर बर्फबारी: जम्मू कश्मीर और लद्दाख के कई हिस्से भी ठंड की चपेट में रहे जहां जलापूर्ति लाइनें और श्रीनगर स्थित प्रसिद्ध डल झील के हिस्से जम गए। मौसम की सबसे ठंडी रात दर्ज की गई क्योंकि पारा शून्य से 5.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। यह इससे पहले की रात में शून्य से 5.6 डिग्री नीचे था। श्रीनगर में मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि लद्दाख में लेह और द्रास में पारा क्रमश: शून्य से 19.1 डिग्री सेल्सियस और शून्य से 28.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। वहीं  हिमाचल प्रदेश में कुफरी, मनाली, सोलन में पारा शून्य से नीचे दर्ज किया गया। राज्य में दिन का सबसे कम तापमान केलांग में शून्य से 11.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। 31 दिसंबर से दो जनवरी के बीच मध्यम ऊंचाई और ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी होने की संभावना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘C फॉर कन्स्टीट्यूशन, D फॉर डेमोक्रेसी’, 53 वर्षीय अधेड़ ‘झुग्गी क्लासरूम’ में गरीब बच्चों को दे रहे लोकतंत्र की बुनियादी शिक्षा
2 ‘भारत माता की जय’ बोलने वाले ही देश में रह सकेंगे, CAA व NRC पर जारी विवाद के बीच बोले केंद्रीय मंत्री
3 नेकनीयति से लिए गए फैसले का CBI से बचाव कराएगी सरकार, बैंक अधिकारियों से बोलीं वित्त मंत्री
यह पढ़ा क्या?
X