ताज़ा खबर
 

राजस्थान के इस शहर में 1 डिग्री तक पहुंचा न्यूनतम तापमान, छत्तीसगढ़ में रहा निवार चक्रवात का असर

पंजाब और हरियाणा में न्यूनतम तापमान सामान्य के आसपास रहा और दोनों ही राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में तापमान 9.1 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक है।

दिल्ली में बढ़ी सर्दी, न्यूनतम तापमान में आई गिरावट।

उत्तर भारत में ठंड के बीच हिमाचल प्रदेश के दूरदराज इलाकों में शुक्रवार को फिर बर्फबारी हुई। इसके चलते उत्तर भारत में तेज ठंडी हवाओं के चलने का सिलसिला जारी है। राजस्थान के माउंट आबू में तो न्यूनतम तापमान 1 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है। वहीं 7 शहरों में रात का पारा 10 डिग्री सेल्सियस के नीचे रहा है। दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ में भी कई इलाकों में बारिश की वजह से ठंड बढ़ी है। वैज्ञानिकों का कहना है कि यह दक्षिण भारत में आए निवार चक्रवात के असर के चलते हुआ।

दूसरी तरफ पहाड़ों पर बर्फबारी की वजह से चली ठंडी हवाओं से दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता का स्तर भी सुधरा है। बताया गया है कि एक दिन पहले ही दिल्ली का एक्यूआई 137 रहा, जबकि नोएडा में यह 125 की रेंज पर पहुंच गया है। वहीं, आसपास के इलाकों में भी एक्यूआई 125-175 के बीच दर्ज हुआ।

दूसरी तरफ मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि अगले दो दिनों में उत्तर प्रदेश, राजस्थान और दिल्ली-एनसीआर के कुछ इलाकों में बारिश देखने को मिल सकती है। बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक रहा है, जबकि न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम के हिसाब से सामान्य है। दिल्ली की वायु गुणवत्ता भी हवा की गति अनुकूल होने की वजह से ‘मध्यम’ श्रेणी में है तथा इसमें और सुधार की संभावना है।

हिमाचल में कुफरी और कल्पा में ताजा बर्फबारी हुई जबकि केलोंग मे न्यूनतम तापमान शून्य से 9.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। किन्नौर जिले के कल्पा में 17 सेमी और कुफरी में एक सेमी बर्फबारी दर्ज हुई। कश्मीर में कड़ाके की ठंड पड़ रही है और केंद्रशासित प्रदेश के अनंतनाग जिले का पर्यटन स्थल पहलगाम शुक्रवार को सबसे ठंडा स्थान रहा जहां तापमान शून्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया।

वहीं पूर्वी क्षेत्र में मौसम शुष्क बना रहा। दक्षिण भारत में क्षेत्रीय मौसम कार्यालय ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में 30 नवंबर को निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की वजह से तमिलनाडु और पुडुचेरी में एक दिसंबर से और बारिश हो सकती है।

Live Blog

Highlights

    15:31 (IST)28 Nov 2020
    राजस्थान में तापमान न्यूनतम 10 डिग्री से भी कम हो गया

    उत्तरी भारत में चल रही शीतलहर का असर राजस्थान में भी हो रहा है। राजस्थान के अधिकांश हिस्सों के तापमान में पिछली रात से कमी आई है। पिछली रात प्रदेश के कई शहरों का तापमान न्यूनतम 10 डिग्री से भी कम हो गया। प्रदेश के एकमात्र पवर्तीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में शनिवार को तापमान एक डिग्री दर्ज किया गया। 

    14:53 (IST)28 Nov 2020
    न्यूनतम तापमान शून्य से 9.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया

    हिमाचल में कुफरी और कल्पा में ताजा बर्फबारी हुई जबकि केलोंग मे न्यूनतम तापमान शून्य से 9.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। किन्नौर जिले के कल्पा में 17 सेमी और कुफरी में एक सेमी बर्फबारी दर्ज हुई। कश्मीर में कड़ाके की ठंड पड़ रही है और केंद्रशासित प्रदेश के अनंतनाग जिले का पर्यटन स्थल पहलगाम शुक्रवार को सबसे ठंडा स्थान रहा जहां तापमान शून्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया।

    13:32 (IST)28 Nov 2020
    निवार चक्रवात के जाने के बावजूद तमिलनाडु-पुडुचेरी में खराब मौसम

    दूसरी तरफ बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की वजह से मौसम वैज्ञानिकों ने तमिलनाडु व पुडुचेरी में अगले सप्ताह और अधिक बारिश होने का अनुमान लगाया है। तमिलनाडु व पुडुचेरी में भीषण तूफान ‘निवार’ के कारण पहले ही भारी बारिश हुई है। आने वाले समय में यही स्थिति अभी बरकरार रह सकती है।

    13:02 (IST)28 Nov 2020
    छत्तीसगढ़ में निवार चक्रवात का असर, 6 डिग्री तक गिरा दिन का तापमान

    पुडुचेरी और मरक्कानम के बीच समुद्र तट से टकराए निवार चक्रवात कमजोर जरूर पड़ गया है, लेकिन उसका प्रभाव छत्तीसगढ़ में जारी है। रायपुर सहित प्रदेशभर में आसमान में गुरुवार से ही बादल छाए हुए हैं और ठंडी हवाएं चल रही हैं। देर रात रायपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में रुक-रुक कर बारिश का दौर जारी है। दिन के तापमान में 6 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई है।

    12:31 (IST)28 Nov 2020
    मध्य प्रदेशः मंडला में 7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा न्यूनतम तापमान

    मध्यप्रदेश में अब हाड़ कंपाने वाली ठंड आ चुकी है। इस सीजन में पहली बार 7 डिग्री सेल्सियस पारा मंडला में दर्ज किया गया। प्रदेश में यह सबसे ठंडा जिला रहा। इससे एक दिन पहले रात का न्यूनतम तापमान पचमढ़ी और नौगांव में 9 डिग्री तक आया था। राजधानी भोपाल में भी तापमान में 1.4 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई। यहां पर तापमान सामान्य से एक डिग्री नीचे 11.4 डिग्री सेल्सियस रहा। कुछ जगहों पर सुबह कोहरा भी रहा।

    12:04 (IST)28 Nov 2020
    उत्तर-मध्य भारत में 2 से 3 डिग्री गिर सकता है न्यूनतम तापमान

    पश्चिमी हिमालय से होकर आने वाली ठंडी हवाओं का असर उत्तर भारत के मैदानी राज्यों के साथ-साथ गंगा के मैदानी क्षेत्रों और मध्य भारत के कुछ भागों में न्यूनतम तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट होगी। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान और मध्य प्रदेश के उत्तरी हिस्सों में शीतलहर की स्थिति फिर से शुरू हो सकती है ।

    11:37 (IST)28 Nov 2020
    जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी, अगले हफ्ते मिल सकती है राहत

    मौसम विभाग ने कहा है कि अगले हफ्ते तक जम्मू और कश्मीर में रुक-रुक कर हो रही बर्फबारी थमने के आसार हैं। बता दें कि शुक्रवार को ही श्रीनगर सहित मैदानी क्षेत्र में कई इलाकों में बारिश हुई। उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग के स्की-रिसॉर्ट में रात के दौरान चार इंच ताजा बर्फबारी दर्ज की गई, जबकि दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में लगभग एक इंच बर्फबारी दर्ज की गई।

    11:04 (IST)28 Nov 2020
    चंडीगढ़ में 9.1 डिग्री पहुंचा तापमान, राजस्थान में आसमान साफ

    पंजाब और हरियाणा में न्यूनतम तापमान सामान्य के आसपास रहा और दोनों ही राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में तापमान 9.1 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक है। इसी बीच राजस्थान में ठंड से राहत मिली है और यहां कल के मुकाबले आकाश साफ था। उत्तर प्रदेश में पश्चिमी हिस्सों के दूरदराज स्थानों पर हल्की बारिश हुई।

    10:32 (IST)28 Nov 2020

    भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने दिल्ली-एनसीआर और उत्तर प्रदेश और राजस्थान में अलग-अलग हिस्सों में गुरुवार से रविवार तक हल्की बारिश की भविष्यवाणी की है। पहाड़ों में बर्फबारी के कारण मैदानी इलाकों में ठंड है। बर्फ से लदी पश्चिमी हिमालय से बहने वाली ठंडी हवाओं के कारण पारे में गिरावट आई है।

    10:01 (IST)28 Nov 2020
    उत्तर भारत में ठंड बढ़ने से साफ हुई हवा दिल्ली की हवा

    उत्तर भारत के कई राज्यों में बारिश और ठंड बढ़ने की वजह से दिल्ली-एनसीआर के प्रदूषण में काफी कमी आई है। राजधानी के ज्यादातर हिस्सों में एयर क्वालिटी इंडेक्स औसत से मध्यम श्रेणी के बीच पहुंच गया। 20 से 25 किलोमीटर से चल रही हवाओं ने पिछले करीब दस दिनों से राजधानी की सांसों की मुसीबत कम की है। इससे नवंबर में लगातार 8 दिनों तक सबसे लंबा स्मॉग पीरियड दिल्ली में चला था। 

    09:35 (IST)28 Nov 2020
    बिहार: मौसम में अचानक बदलाव से किसानों को नुकसान

    बिहार में मौसम बदलने के चलते धान की खड़ी फसल को काफी नुकसान हुआ है। कई स्थानों पर धान की फसल जमींदोज हो गई। जिससे धान की बालियां गिर गईं। मौसम के इस तरह अचानक करवट लेने से फसल बर्बाद होने से किसान मायूस हो गए। खेत में पहले से पानी रहने के कारण पानी में धान सड़ने के साथ जमने भी लगे हैं। किसानों को यह आशा थी कि बची हुई फसल घर आ जाएगी, लेकिन मौसम का मिजाज फिर बदला व आसमान पर काले बादल छा गए। बादलों से किसानों के चेहरे पर मायूसी छा गई

    09:00 (IST)28 Nov 2020
    निवार चक्रवात की वजह से दक्षिण भारत में हुई भारी बारिश

    मौसम की जानकारी रखने वाली वेबसाइट स्काईमेट वेदर के मुताबिक, बीते 24 घंटों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश, रायलसीमा और उत्तरी तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में भारी से अति भारी बारिश दर्ज की गई। सबसे ज़्यादा बारिश आंध्र प्रदेश के कवली में 275 मिमी रिकॉर्ड की गई। तमिलनाडु में हल्की से मध्यम बारिश हुई। केरल के कुछ हिस्सों, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश में एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा हुई। दक्षिणी बिहार, झारखंड, सिक्किम, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की बारिश हुई।

    Next Stories
    1 शादी समारोह में बंदिशों से परिवारों में ऊहापोह
    ये पढ़ा क्या ?
    X