ताज़ा खबर
 

Weather Forecast Today: शवों का पता लगाने के लिए रडार का इस्तेमाल, मृतकों की संख्या 116 पहुंची

Weather forecast Report Today India: उत्तराखंड के ज्यादातर स्थानों पर पिछले 24 घंटे से लगातार हो रही भारी बारिश हो रही है। उत्तरकाशी (Uttarkashi) जिले में हिमाचल सीमा पर बहने वाली टोंस नदी में बाढ़ आने से मोरी कस्बे के 20 मकान और 18 लोग बह गए।

Weather Forecast Report LIVE: यहां जानिए मौसम का लाइव अपडेट

Weather forecast Today India:  भयंकर बारिश की मार झेल रहे केरल में और शव मिलने के साथ ही मृतकों की संख्या 116 पर पहुंच गई है। वहीं मलप्पुरम के कवालप्पारा और वायनाड के पुथुमला में शवों का पता लगाने के लिए ग्राउंड पेनिट्रेंटिंग रडार (जीपीआर) का इस्तेमाल किया जा रहा है। जीपीआर से भेजे गए संकेत सतह के नीचे की स्थिति की जानकारी उपलब्ध कराते हैं। हैदराबाद से विशेषज्ञों की एक टीम ने जीपीआर की मदद से दो गांव में तलाश अभियान शुरू किया है। इसका उद्देश्य मिट्टी के नीचे दबी लाशों का पता लगाना है।

सरकार की ओर से जारी राज्यव्यापी आपदा रिपोर्ट में कहा गया है कि दक्षिण पश्चिम मॉनसून की दूसरी अवधि में आठ अगस्त से हो रही बारिश में 116 लोग जान गंवा चुके हैं और 83,043 लोग 519 राहत शिविरों में रह रहे हैं। ताजा जानकारी के मुताबिक मलप्पुरम में अब तक 53 लोगों की, वायनाड में 12 और कोझिकोड में 17 लोगों की जान जा चुकी है।साथ ही रिपोर्ट में बताया गया है कि मॉनसून में 1,204 घर पूरी तरह बर्बाद हो गए।

Live Blog

Highlights

    20:09 (IST)18 Aug 2019
    केरल में मृतकों की संख्या 116 पहुंची

    सरकार की ओर से जारी राज्यव्यापी आपदा रिपोर्ट में कहा गया है कि दक्षिण पश्चिम मॉनसून की दूसरी अवधि में आठ अगस्त से हो रही बारिश में 116 लोग जान गंवा चुके हैं और 83,043 लोग 519 राहत शिविरों में रह रहे हैं। ताजा जानकारी के मुताबिक मलप्पुरम में अब तक 53 लोगों की, वायनाड में 12 और कोझिकोड में 17 लोगों की जान जा चुकी है।साथ ही रिपोर्ट में बताया गया है कि मॉनसून में 1,204 घर पूरी तरह बर्बाद हो गए।

    19:11 (IST)18 Aug 2019
    हिमाचल में बंद रहेंगे स्कूल

    हिमाचल प्रदेश के शिमला और कुल्लू जिले में सभी शैक्षिक संस्थान सोमवार को भी बंद रहेंगे। हिमाचल प्रदेश की राजधानी में भारी बारिश की वजह से यह कदम उठाया गया है। जिला प्रशासन ने यह जानकारी दी। शिमला और चंबा जिला प्रशासन की ओर से रविवार को जारी एक पन्ने के आदेश में सभी स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, आईटीआई, पॉलीटेक्निक और आंगनवाड़ी केंद्रों को फिलहाल बंद रखने के लिए कहा गया है। शिमला के उपायुक्त सह जिला मजिस्ट्रेट अमित कश्यप ने कहा, ‘‘भारी बारिश, सड़कों के क्षतिग्रस्त होने व उनके बाधित होने को देखते हुए छात्रों की सुरक्षा के मद्देनजर शिमला जिले के सभी शैक्षणिक संस्थानों को 19 अगस्त तक बंद रखने का आदेश देना जरूरी हो गया था।’’

    17:12 (IST)18 Aug 2019
    नदी में अचानक आई बाढ़ से 20 मकान और 18 लोग बहे

    उत्तरकाशी (Uttarkashi) जिले में हिमाचल सीमा पर बहने वाली टोंस नदी में बाढ़ आने से मोरी कस्बे के 20 मकान और 18 लोग बह गए। लापता लोगों की तलाश जारी है। टोंस नदी यमुना की सहायक नदी है ऐसे में दिल्ली और हरियाणा में भी यमुना का जलस्तर बढ़ने के आसार हैं।

    15:43 (IST)18 Aug 2019
    कम से कम आधा दर्जन लोगो के मारे जाने की आशंका

    उत्तराखंड के ज्यादातर स्थानों पर पिछले 24 घंटे से लगातार हो रही भारी बारिश के कारण कई जगह बादल फटने तथा भूस्खलन होने से आधा दर्जन से ज्यादा लोगों के मारे जाने की आशंका है तथा कई अन्य घायल हो गये । उत्तरकाशी जिले के मोरी ब्लॉक में कल देर रात बादल फटने से कई गांवों में तबाही मची जिसमें आराकोट, माकुडी और टिकोची में कई मकान ढह गये । राज्य आपदा मोचन बल :एसडीआरएफ: से मिली जानकारी के अनुसार, अभी तक इन घटनाओं में करीब आठ व्यक्तियों के लापता होने की सूचना है ।

    14:41 (IST)18 Aug 2019
    उत्तर भारत के मौसम का हाल जानिए

    उत्तर भारत में मूसलाधार बारिश का दौर जारी है। पंजाब में भाखड़ा बांध से अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के चलते चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग के अनुसार जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में अगले 48 घंटे में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। जम्मू क्षेत्र के कठुआ और सांबा जिले अचानक आई बाढ़ से प्रभावित हैं।

    13:34 (IST)18 Aug 2019
    हिमाचल प्रदेश की ताजा अपडेट

    हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के चलते जानमाल का भारी नुकसान होने की खबर है। कई जगह बादल फटने की सूचना है। प्रदेश में आज भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। अब तक दस लोगों की मौत हो गई है दो लोग बह गए हैं। पूरे प्रदेश में कई सड़कें और पुल ध्वस्त हो गए हैं। चंबा के बंदला में दीवार गिरने से दादा-पोती की मौत हो गई। शिमला में भूस्खलन से चार लोग दब गए।

    12:36 (IST)18 Aug 2019
    झारखंड के मौसम का हाल जानिए

    घने और काले बादलों के बीच शुरू हुई सुबह से ही झारखंड की राजधानी रांची में मौसम खुशगवार बना हुआ है। यहां 10 बजे के बाद से मूसलाधार बारिश शुरू हो गई। दिन में ही अंधेरा छा गया। सड़कों पर चलने वाले वाहनों में लाइटें जलती रहीं। इधर सूबे में मानसून एक बार फिर सक्रिय हो गया है। अगले तीन दिनों तक समूचे झारखंड में भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

    11:35 (IST)18 Aug 2019
    हिमाचल प्रदेश: मंडी जिले के बालीचोकी इलाके में सड़क का कुछ हिस्सा क्षेत्र में लगातार बारिश के कारण क्षतिग्रस्त हो गया

    10:26 (IST)18 Aug 2019
    21 अगस्त के बाद भोपाल में फिर होगी तेज बारिश

    मध्यप्रदेश के कई इलाकों में रुक-रुककर हल्की बारिश का दौर जारी है, लेकिन एक बार फिर पूरे प्रदेश में तेज बारिश का दौर शुरू हो सकता है। जानकारी के अनुसार 19 अगस्त तक बंगाल की खाड़ी में एक सिस्टम सक्रिय होने वाला है। इसके असर से 21 अगस्त के बाद भोपाल सहित प्रदेश में एक बार फिर बारिश का दौर शुरू होगा। यह सिलसिला 25-26 अगस्त तक चल सकता है। तब तक कई इलाकों में गरज-चमक के साथ बारिश या बौछारें पड़ने की संभावना है।

    09:32 (IST)18 Aug 2019
    जम्मू के मौसम का हाल भी जानिए

    जम्मू क्षेत्र के कठुआ और सांबा जिले अचानक आई बाढ़ से प्रभावित हैं। अचानक आई बाढ़ में शनिवार को जम्मू में एक 47 वर्षीय व्यक्ति बह गया जबकि कठुआ और सांबा जिलों में 15 लोगों को बचा लिया गया। जम्मू क्षेत्र के कई इलाकों में भारी बारिश हुई है जिसके चलते तावी नदी समेत प्रमुख नदियों का जलस्तर बढ़ गया है और निचले इलाकों में जलभराव हो गया है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि कटरा में शुक्रवार रात से सबसे अधिक 133.4 मि.मी. बारिश हुई है।

    08:49 (IST)18 Aug 2019
    नैशनल हाइवे को भी नुकसान

    हिमाचल प्रदेश में मनाली से कुल्लू के बीच नैशनल हाइवे नंबर 3 को भूस्खलन और भारी बारिश से नुकसान पहुंचा है। इस रूट पर भारी गाड़ियों का परिचालन रोक दिया गया है। इससे पहले, कुल्लू जिले में भी एक पुल के बारिश में बह जाने की खबर आई थी। 

    08:17 (IST)18 Aug 2019
    दिल्ली में कई जगह जल जमाव की स्थिति

    दिल्ली और आसपास के इलाकों में बारिश की वजह से कई जगहों पर जलजमाव की स्थिति है। 

    07:46 (IST)18 Aug 2019
    बंगाल का हाल

    मूसलाधार बारिश और निचले इलाके में जलजमाव के कारण कई स्थानों का संपर्क कटने से शनिवार को कोलकाता महानगर के अधिकतर हिस्से में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ। क्षेत्रीय मौसम विभाग ने यहां बताया कि शनिवार दोपहर तक पिछले 24 घंटे में 186.1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी। मौसम विभाग ने दिन में भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। सेंट्रल एवेन्यू, कॉलेज स्ट्रीट, शेक्सपियर सरानी और बेहाला समेत कई अन्य इलाके में लोग घुटने तक पानी में आते-जाते नजर आए। मध्य, दक्षिण, उत्तर कोलकाता के कई इलाके में यातायात बाधित होने से जाम लग गया। नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उड़ान सेवा भी प्रभावित हुई और विमानों के आगमन-प्रस्थान में देरी हुई। पूर्व रेलवे के सीपीआरओ निखिल के. चक्रवर्ती ने बताया कि जलजमाव के कारण सुबह पौने ग्यारह बजे से सर्कुलर रेलवे सेवा निलंबित थी। चक्रवर्ती ने बताया कि पूर्व रेलवे के सियालदह और हावड़ा रेल खंड पर आवागमन धीमा हुआ लेकिन किसी भी ट्रेन को रद्द नहीं किया गया।

    07:39 (IST)18 Aug 2019
    हिमाचल के कांगड़ा में शिक्षण संस्थान बंद

    हिमाचल के कांगड़ा जिले में भारी बारिश के कारण सभी शिक्षण संस्थान शनिवार को बंद कर दिए गए। कांगड़ा के उपायुक्त एवं जिला मजिस्ट्रेट राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि जिले के कई हिस्सों में शुक्रवार की शाम से लगातार हो रही बारिश के मद्देनजर शनिवार सुबह यह निर्देश जारी किए। प्रजापति ने कहा, ‘‘ जिले में लगातार हो रही बारिश और प्रतिकूल मौसम को देखते हुए आज (शनिवार को) स्कूलों और अन्य शिक्षण संस्थानों में छुट्टी रहने की घोषणा की जाती है।’’ मौसम विज्ञान विभाग ने शुक्रवार को ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी करते हुए राज्य में भारी बारिश के प्रति चेताया था। साथ ही ‘रेड वॉर्निंग’ जारी करते हुए कांगड़ा सहित कई जिलों में शनिवार और रविवार को अत्यधिक तेज बारिश की पूर्वसूचना दी थी।

    07:36 (IST)18 Aug 2019
    आंध्र प्रदेश भी बारिश से प्रभावित

    आंध्र प्रदेश में भी भारी बारिश हुई है जहां कृष्णा नदी में उफान के चलते दो जिलों के 87 गांव और सैंकड़ों एकड़ कृषि भूमि पानी में डूब गई है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने एक लड़की का शव बरामद किया है जो कृष्णा जिले में उफनती नदी में बह गई थी। कृष्णा और गुंटूर जिलों में 11,553 लोगों को 56 राहत शिविरों में भेजा गया है जहां उन्हें भोजन और पेयजल मुहैया कराया जा रहा है। राज्यपाल विश्वभूषण हरिचन्दन ने कृष्णा के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया, जबकि मंत्रियों ने विजयवाड़ा शहर में प्रभावित इलाकों का दौरा कर राहत कार्यों की निगरानी की।

    07:35 (IST)18 Aug 2019
    क्या है अन्य राज्यों का हाल

    राजस्थान में सैंकड़ों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। अजमेर, जोधपुर, बीकानेर, वनस्थली, भीलवाड़ा और सीकर में क्रमश: 104.5 मिमी, 88.2 मिमी 79 मिमी 42.1 मिमी, 41 मिमी और 37.4 मिमी बारिश हुई है। केरल में हालात धीरे धीरे सामान्य हो रहे हैं और लोग राहत शिविरों से अपने घरों की तरफ जाने लगे हैं। बहरहाल, शनिवार तक मृतकों की संख्या 113 हो गयी। मलप्पुरम में 50 और वायनाड में 12 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां 28 लोग अभी भी लापता हैं। भारी बारिश से जूझ रहे कोलकाता में पिछले 24 घंटों में 186.1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है और मौसम विभाग ने आगे भी बारिश का पूर्वानुमान जताया है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस हवाई अड्डे से उड़ानों का परिचालन भी प्रभावित हुआ है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

    07:34 (IST)18 Aug 2019
    दिल्ली और आसपास देर रात से बारिश, यमुना का जलस्तर बढ़ा

    दिल्ली और आसपास के इलाकों में देर रात से बारिश जारी है। अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर 203.27 मीटर पहुंच गया जो कि चेतावनी स्तर (204.5 मीटर) से थोड़ा नीचे है। बाढ़ की किसी भी संभावना से निपटने के लिये एजेंसियां स्थिति पर करीबी नजर रखे हुए हैं।

    07:33 (IST)18 Aug 2019
    फसलें डूबीं, चेतावनी जारी

    शनिवार को पंजाब के लुधियाना, अमृतसर, मोहाली और राजधानी चंडीगढ़ में भारी बारिश हुई है । अधिकारी ने बताया कि भाखड़ा से पानी छोड़े जाने के बाद प्रदेश के रूपनगर, लुधियाना, फिरोजपुर और निचले क्षेत्र में चेतावनी जारी की गयी है । सतलज नदी और निचले इलाकों के आसपास रहने वाले लोगों को सतर्क रहने और खुद को सुरक्षित रखने के लिए सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। अतिरिक्त पानी और लगातार बारिश होने के कारण रूपनगर जिले के आनंदपुर साहिब में सतलज नदी से सटे कुछ गांवों में फसलों के पानी में डूब जाने की खबरें हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य के सभी जिलाधिकारियों को मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मद्देनजर सतर्क रहने का निर्देश दिया था ।

    07:32 (IST)18 Aug 2019
    पंजाब में अलर्ट क्यों

    पंजाब में भाखड़ा बांध के आस पास के इलाकों में भारी बारिश होने के कारण बांध से अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के बाद राज्य के कई जिलों में चेतावनी जारी की गयी है । अधिकारियों ने बताया कि भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड के अधिकारियों ने 17 हजार क्यूसेक अतिरिक्त पानी छोड़ा है और कुल 53 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाना है ।उन्होंने बताया कि बाकी बचे 36 हजार क्यूसेक पानी बिजली उत्पादन के लिए इसके इस्तेमाल के बाद छोड़ा जाएगा । अधिकारी ने बताया कि स्थिति की नजदीक से निगरानी की जा रही है ।भाखड़ा बांध में शनिवार को जलस्तर 1674.5 फुट से अधिक दर्ज किया गया जो पिछले साल की इसी अवधि की अपेक्षा 60 फुट अधिक है । इसका अधिकतम भंडारण क्षमता 1680 फुट है । अधिकारी ने बताया कि भाखड़ा बांध में पानी की आवक 59,000 क्यूसेक दर्ज की गई है।

    07:31 (IST)18 Aug 2019
    हिमाचल प्रदेश का हाल

    हिमाचल प्रदेश में उफनते बांध से 17 वर्षीय किशोर का शव बहता मिला है। राज्य में भूस्खलन की घटनाओं के चलते कई सड़कें बंद हैं। कांगड़ा जिले के सभी शैक्षिक संस्थानों को भी मूसलाधार बारिश के चलते शनिवार को बंद रखने के लिये कहा गया। पालमपुर के निकट बाढ़ में फंसे कई लोगों को बचा लिया गया।

    Next Stories
    1 Arun Jaitley Health: जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी लेने और कई नेता एम्स पहुंचे
    2 बिना मंत्री के ही अकेले कैबिनेट मीटिंग कर रहे सीएम येदुरप्पा, 22 दिनों में की चार बैठकें
    3 केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अफसरों को हड़काया- काम कीजिए वर्ना लोगों को कहूंगा ‘धुलाई करो’
    यह पढ़ा क्या?
    X