जम्मू-कश्मीर के गांव में बादल फटने से कम से कम 5 की मौत, 35 लापता, पीएम बोले- केंद्र सरकार की घटना पर नजर

मौसम वैज्ञानिक ने सामान्य रूप से बादल छाए रहने के साथ ही मध्यम बारिश होने और शाम तक 30-40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने, गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान व्यक्त किया है।

Jammu Kashmir. Landslide
मानसूनी बारिश के चलते पहाड़ी क्षेत्रो में लगातार बादल फटने और भूस्खलन जैसी घटनाएं सामने आ रही हैं। (फाइल फोटो- PTI)

भारत में मानसूनी के बीच कई राज्यों में मौसम का कहर जारी है। खासकर पहाड़ी इलाकों में तो बादल फटने और भूस्खलन की घटनाओं से बड़ी संख्या में लोगों की जानें भी गई हैं। इस बीच जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में बुधवार को बादल फटने से पांच लोगों की मौत हो गई। मृतकों में दो महिलाएं भी शामिल थीं। इसके अलावा 35 लोग लापता हैं।

सिविल डिफेंस और एसडीआरएफ के महानिदेशक वीके सिंह ने कहा कि राहत-बचाव कार्य के लिए एक टीम किश्तवाड़ के गांव पहुंच चुकी है। इसके अलावा डोडा और उधमपुर से भी दो टीमें जल्द ही प्रभावित गांव पहुंचेंगी। इसके अलावा श्रीनगर में मौजूद दो और टीमें रेस्क्यू मिशन के लिए मौसम साफ होने का इंतजार कर रही हैं, ताकि उन्हें एयरलिफ्ट कर घटनास्थल पर पहुंचाया जा सके। बताया गया है कि बादल फटने से छह घरों और एक राशन की दुकान को भी नुकसान पहुंचा है।

दिल्ली में इस साल मानसून समय से तकरीबन दो-तीन हफ्ते की देरी से पहुंचा। हालांकि, इसके बावजूद राजधानी और उत्तर-पूर्व के राज्यों में जमकर बारिश हो रही है। अकेले राजधानी दिल्ली में ही इस जुलाई में बारिश का नया रिकॉर्ड बना है। दिल्ली में अब तक 381 मिमी वर्षा दर्ज की गई है, जो 2003 के बाद से जुलाई के लिए सबसे अधिक है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक, सफदरजंग वेधशाला ने मंगलवार सुबह केवल तीन घंटों में 100 मिमी बारिश दर्ज की। यह भी आठ साल में जुलाई महीने में 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश है। वर्ष 2013 में, दिल्ली में 21 जुलाई को 123.4 मिमी बारिश हुई थी।

जहां दिल्ली में एक साथ काफी वर्षा से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया, वहीं राजस्थान में मानसून आए लगभग एक पखवाड़ा हो चुका है, लेकिन अब तक आधे से भी अधिक राजस्थान में बारिश सामान्य से कम हुई है। हालांकि मानसून अभी सक्रिय है और आगामी चौबीस घंटे में राज्य के अनेक हिस्सों में भारी से अति भारी बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार इस साल अब तक मानसून में बारिश सामान्य से 26 प्रतिशत कम हुई है।

राज्य के कुल 33 में 19 जिले में अब तक सामान्य से कम बारिश हुई है।  मौसम विभाग के अनुसार एक जून से 26 जुलाई के बीच सिर्फ 11 जिलों में सामान्य  बारिश हुई है। इस अवधि के दौरान पूरे राज्य में समग्र रूप से 160.98 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो कि सामान्य वर्षा 218.28 मिमी से 26.2 प्रतिशत कम है।

अगले 24 घंटे के दौरान देश के कई हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। झारखंड, छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तटीय कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश  बारिश होने की संभावना है।

Live Blog

14:21 (IST)28 Jul 2021
दिल्लीः दिल्ली में बारिश का ऑरेंज अलर्ट, निचले इलाकों में जलभराव की चेतवानी

भारतीय मौसम विभाग ने बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में ‘‘मध्यम से भारी’’ बारिश की संभावना जताते हुए ओरेंज अलर्ट जारी किया है तथा यातायात बाधित होने और निचले इलाकों में जलभराव की चेतावनी दी है। मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में मानसून के कारण एक हफ्ते तक ‘‘हल्की से मध्यम’’ बारिश हो सकती है। गौरतलब है कि 15 मिलीमीटर से कम की बारिश को हल्की, 15 से 64.5 मिमी के बीच को मध्यम, 64.5 से 115.5 मिमी के बीच को भारी, 115.6 से 204.4 मिमी के बीच को बहुत भारी बारिश माना जाता है। वहीं 204.4 मिमी से अधिक की बारिश को अत्यधिक भारी बारिश माना जाता है।

13:46 (IST)28 Jul 2021
मध्य-पूर्व के राज्यों में भारी बारिश की संभावना

देश के कई हिस्सों में मानसून की वजह से भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 24 घंटे के दौरान देश के कई हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है। वहीं अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तटीय कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश बारिश होने की संभावना जताई गई है।

12:48 (IST)28 Jul 2021
जानें किन राज्यों में अगले 24 घंटों में होगी भारी बारिश

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, पंजाब में अगले 48-72 घंटे में तेज बारिश हो सकती है। आज राजस्थान के कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने कहा, “अगले 24 घंटों में इसके अच्छी तरह से जगह बनाने और बाद के 48 घंटों के दौरान धीरे-धीरे पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार में पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है।” वहीं,  राजस्थान के बाकी हिस्सों मध्य प्रदेश सौराष्ट्र और कच्छ, मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, छत्तीसगढ़ ओडिशा और विदर्भ में आज हल्की से मध्यम बारिश संभव है।

12:12 (IST)28 Jul 2021
किश्तवाड़ में फटा बादल, पीएम बोले- करीब से रख रहे नजर

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में बुधवार को बादल फटने की वजह से हुए हादसे में कम से कम पांच लोगों के मारे जाने की खबर है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने कहा, ‘केंद्र सरकार किश्तवाड़ और कारगिल में बादल फटने से हुए हादसे पर करीब से नजर रख रही है। प्रभावित इलाकों में हर तरह की मदद मुहैया कराई जा रही है।’

11:35 (IST)28 Jul 2021
हिमाचल प्रदेशः भारी बारिश के बाद कुल्लू में आई बाढ़
11:01 (IST)28 Jul 2021
उत्तर क्षेत्र में भी हल्की से मध्यम बारिश, आगे भी जारी रहेगी

उत्तरी क्षेत्र की बात करे तो, पंजाब और पड़ोसी हरियाणा में अधिकांश स्थानों पर तापमान सामान्य से नीचे रहा, जहां कुछ क्षेत्रों में बारिश हुई। हरियाणा के अंबाला में अधिकतम तापमान 32.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि हिसार में अधिकतम तापमान 33.8 डिग्री सेल्सियस रहा। पंजाब के अमृतसर, लुधियाना, पटियाला, फरीदकोट और बठिंडा में अधिकतम तापमान क्रमश: 30.8 डिग्री सेल्सियस, 30.7 डिग्री सेल्सियस, 31.8 डिग्री सेल्सियस, 33.5 डिग्री सेल्सियस और 32.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर और राज्य के पश्चिमी भाग में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई।

10:33 (IST)28 Jul 2021
राजस्थान में अब तक अनुमान से कम बारिश, सिर्फ बीकानेर-उदयपुर में ही सामान्य

राजस्थान के सात संभागों में से बीकानेर और उदयपुर संभाग में सामान्य बारिश हुई है, जबकि जोधपुर, अजमेर, भरतपुर और जयपुर संभागों में सामान्य से कम बारिश हुई है। पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर में अब तक सर्वाधिक 139.33 मिमी बारिश हुई है, जबकि यहां सामान्य तौर पर 74.60 मिमी बारिश होती है। जैसलमेर में अब तक की बारिश सामान्य से 86.8 प्रतिशत अधिक रही है, जो असामान्य वर्षा की श्रेणी में आती है।

10:06 (IST)28 Jul 2021
बारिश के बावजूद कश्मीर में बढ़ी गर्मी, 33 साल में सबसे गर्म जुलाई

जम्मू और कश्मीर में बारिश और वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते मौसम में काफी फर्क आया है। जम्मू संभाग के कई हिस्सों में मंगलवार को बारिश से तापमान में गिरावट आई है। लेकिन इसके उलट कश्मीर में गर्मी से कोई राहत नहीं मिल पाई। श्रीनगर में बीती रात का न्यूनतम तापमान सामान्य से 5.9 डिग्री चढ़कर 24.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो जुलाई में 33 साल में सबसे ज्यादा रहा। इससे पहले 21 जुलाई 1988 को श्रीनगर में रात का न्यूनतम तापमान 25.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। 

09:36 (IST)28 Jul 2021
महाराष्ट्रः सांगली में बांध से छोड़ा गया अत्याधिक पानी, बाढ़ की चपेट में कई गांव

महाराष्ट्र के सांगली जिले में बीते दिनों में भारी बारिश नहीं हुई, लेकिन सतारा जिले के कोयना बांध से अत्यधिक पानी छोड़े जाने के कारण सांगली शहर और कई गांव बाढ़ की चपेट में आ गए। बांध कृष्णा नदी की एक सहायक नदी कोयना पर बनाया गया है। निकाले गए लोगों के लिए 259 राहत शिविर बनाए गए हैं, जिनमें से 253 कोल्हापुर में और छह रत्नागिरी जिलों में हैं।

08:59 (IST)28 Jul 2021
हिमाचल प्रदेशः आज भारी बारिश का रेड अलर्ट, 30 जुलाई तक बना रहेगा खराब मौसम

हिमाचल प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश का सिलसिला जारी है। इस बीच मौसम विभाग ने 30 जुलाई तक राज्य में भारी बारिश की चेतावनी बरकरार रखी है। शिमला मौसम विज्ञान केंद्र ने लोगों को किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए आने वाले दिनों में पहाड़ी राज्य में नदियों और अन्य जल निकायों के पास नहीं जाने की सलाह दी है। भारी बारिश का अनुमान जताते हुए राज्य में आज ‘रेड’ अलर्ट जारी किया गया है, 29 जुलाई को भारी से बहुत भारी बारिश के लिए ‘ऑरेंज’ अलर्ट और 30 जुलाई को मध्यम से भारी बारिश के लिए ‘येलो’ अलर्ट जारी किया गया है।

08:28 (IST)28 Jul 2021
बंगाल की खाड़ी के ऊपर फिर बना कम दबाव का क्षेत्र, ओडिशा में भीषण बारिश का अनुमान

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार को बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण अगले तीन दिनों में ओडिशा में भारी बारिश होने का अनुमान जताया है। एक विज्ञप्ति के अनुसार, सोमवार के चक्रवाती परिवलन (सर्कुलेशन) के प्रभाव में उत्तरी बंगाल की खाड़ी और उसके आसपास निम्न दबाव का क्षेत्र बना है। भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि अगले 24 घंटों में इसके अच्छी तरह से जगह बनाने और बाद के 48 घंटों के दौरान धीरे-धीरे पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार में पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है।

08:00 (IST)28 Jul 2021
जलवायु परिवर्तन: कई दिनों की बारिश अब घंटों में हो रही, विशेषज्ञों की राय

स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (मौसम विज्ञान) महेश पलावत के अनुसार, पिछले कुछ वर्षों में बारिश के दिनों की संख्या में कमी आई है। उन्होंने कहा, ‘शहरों में कम समय में अधिक वर्षा हो रही हैं। पहले, 100 मिमी वर्षा तीन से चार दिनों में होती थी। अब, हम केवल पांच-छह घंटों में इतनी अधिक वर्षा हो रही हैं।’

07:38 (IST)28 Jul 2021
दिल्ली में इस साल दो हफ्ते की देरी से पहुंचा मानसून, फिर भी बना रिकॉर्ड

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून अपने आगमन की सामान्य तिथि से 16 दिन की देरी से, 13 जुलाई को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचा। आम तौर पर मानसून 27 जून तक दिल्ली पहुंच जाता है। आठ जुलाई तक मानसून पूरे देश में छा जाता है। पिछले साल दिल्ली में मानसून 25 जून को पहुंचा था और 29 जून तक देशभर में छा गया था।

05:58 (IST)28 Jul 2021
बिहार में मानसून सक्रि‍य

बिहार में 27-28 जुलाई से एक बार फिर दक्षिण-पश्चिम मानसून के जोर पकड़ने के आसार बन रहे हैं! बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है और चक्रवाती सिस्टम विकसित हो रहा है! इससे बिहार को एक बार फिर अच्छी बारिश के आसार नजर आ रहे हैं!

04:02 (IST)28 Jul 2021
आधे राजस्थान में अब तक सामान्य से कम बारिश

राजस्थान में मानसून आए लगभग एक पखवाड़ा हो चुका है, लेकिन अब तक आधे से भी अधिक राजस्थान में बारिश सामान्य से कम हुई है। हालांकि, मानसून अभी सक्रिय है और आगामी 24 घंटे में राज्य के अनेक हिस्सों में भारी से अति भारी बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार इस साल अब तक मानसून में बारिश सामान्य से 26 प्रतिशत कम हुई है।

02:40 (IST)28 Jul 2021
मध्य प्रदेश के इन जिलों के लिए ऑरेंज व येलो अलर्ट जारी

मौसम विज्ञान विभाग, भोपाल ने अगले 24 घंटों के लिए श्योपुर कलां, मुरैना, भिंड, दतिया, गुना, ग्वालियर, शिवपुरी और अशोकनगर जिलों के लिए भारी से बहुत भारी बारिश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है ! 10 जिलों में भारी बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है!

01:22 (IST)28 Jul 2021
दिल्ली में इस महीने बारिश ने तोड़ा 18 साल का रिकॉर्ड

दिल्ली में बेशक मानसून देरी से आया हो, लेकिन अब राजधानी में अच्छी खासी बारिश हो रही है। शहर में अब तक 381 मिमी वर्षा दर्ज की गई है जो 2003 के बाद से जुलाई के लिए सबसे अधिक है। आईएमडी के अनुसार, सफदरजंग वेधशाला ने मंगलवार सुबह केवल तीन घंटों में 100 मिमी बारिश दर्ज की। यह भी 8 साल में जुलाई महीने में 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश है। वर्ष 2013 में दिल्ली में 21 जुलाई को 123.4 मिमी बारिश हुई थी।

23:06 (IST)27 Jul 2021
ओडिशा में अगले तीन दिनों में कई स्थानों पर भारी बारिश होने का अनुमान

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार को बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण अगले तीन दिनों में ओडिशा में भारी बारिश होने का अनुमान जताया है। भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि अगले 24 घंटों में इसके अच्छी तरह से जगह बनाने और बाद के 48 घंटों के दौरान धीरे-धीरे पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार में पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है।

22:20 (IST)27 Jul 2021
अगले 72 घंटे में पंजाब में जमकर बरस सकते हैं बादल

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग  के अनुसार अगले 48-72 घंटे में पंजाब में बारिश की तीव्रता और बढ़ सकती है। पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की जा सकती है। साथ ही कुछ क्षेत्रों में भारी बारिश होने के भी आसार हैं। 

21:42 (IST)27 Jul 2021
लगातार बारिश की वजह से हिमाचल के कई इलाकों में भूस्खलन, चार जिलों के लिए अलर्ट जारी

सोमवार रात से जारी भारी बारिश की वजह से हिमाचल के कई इलाकों में भूस्खलन हो रहा है। भूस्खलन की वजह से हिमाचल का पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय राजमार्ग कई घंटों तक बाधित रहा। वहीं मौसम विभाग ने हिमाचल के चार जिलों कांगड़ा, मंडी, सिरमौर व बिलासपुर के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। चारों जिलों के आपदा प्रबंधन विभाग को किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

21:10 (IST)27 Jul 2021
राजस्थान के कई इलाकों में हल्की बारिश का अनुमान

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार अगले दो घंटे में राजस्थान के कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है। राजस्थान से सटे एनसीआर के इलाकों में भी बूंदाबांदी हो सकती है।

20:32 (IST)27 Jul 2021
राष्ट्रीय राजधानी में बारिश के बाद सुहाना हुआ मौसम, देखें फोटो

20:03 (IST)27 Jul 2021
मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में दो दिन से हो रही लगातार बारिश, बाढ़ का खतरा मंडराया

मध्यप्रदेश में सोमवार रात से हो रही लगातार बारिश की वजह से श्योपुर जिले के सभी नदी नाले लबालब हो गए और पानी सड़क पर भी बहने लगा। सड़क पर नदियों का पानी आ जाने की वजह से राजस्थान की तरफ जाने वाले हाईवे को बंद कर दिया। साथ ही गुना जिले में लगातार हो रही बारिश की वजह से पार्वती नदी का जलस्तर बढ़ गया। जलस्तर बढ़ने की वजह से 6-7 गांव पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। 

19:32 (IST)27 Jul 2021
दिल्ली में इस बार 2003 के बाद हुई सबसे अधिक बारिश

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार दिल्ली में इस महीने अब तक 381 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो 2003 के बाद जुलाई में सबसे अधिक है। साथ ही यह अब तक की दूसरी सबसे बड़ी बारिश है।

19:26 (IST)27 Jul 2021
पिछले 24 घंटे में दिल्ली में दर्ज की गई 100 मिलीमीटर बारिश

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार सुबह भारी बारिश के कारण शहर के कई हिस्सों में जलजमाव हो गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, सफदरजंग वेधशाला में पिछले 24 घंटे में 100 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। मौसम वैज्ञानिक ने सामान्य रूप से बादल छाए रहने के साथ ही मध्यम बारिश होने और शाम तक 30-40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने, गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान व्यक्त किया है। वहीं, अधिकतम तापमान के 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।

18:48 (IST)27 Jul 2021
मंगलवार को पश्चिमी उत्तरप्रदेश भी हुई हल्की बारिश

पश्चिम उत्तरप्रदेश के मेरठ और बागपत में मंगलवार को हल्की बारिश हुई। 26 और 27 जुलाई को भारी बारिश होने की आशंका जताई जा रही थी। लेकिन सोमवार को बारिश नहीं हुई। मंगलवार को हुई हल्की बारिश के बाद बागपत के कई इलाकों में जलभराव हो गया जिससे लोगों को काफी परेशानी हुई

18:15 (IST)27 Jul 2021
दिल्ली-एनसीआर में अगले दो घंटे में होगी हल्की बारिश

मौसम विभाग के अनुसार अगले 2 घंटों के दौरान दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा और उत्तरप्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की तीव्रता की बारिश होने की संभावना है।

17:44 (IST)27 Jul 2021
तमिलनाडु के थेनी में बाढ़ की चेतावनी जारी, वेगई बांध में अधिकतम सीमा तक पहुंचा पानी, देखें फोटो

17:04 (IST)27 Jul 2021
पिछले 24 घंटों के दौरान देश के कई हिस्सों में हुई जमकर बारिश

मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान देश के कई हिस्सों में अच्छी खासी बारिश हुई। पश्चिम बंगाल, असम, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। इसके अलावा बिहार, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, गोवा, कर्नाटक, केरल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में भी अच्छी बारिश हुई।

16:32 (IST)27 Jul 2021
अगले सप्ताह तक देश के उत्तरी हिस्सों में जमकर होगी बारिश

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार दिल्ली सहित देश के उत्तरी हिस्से में इस सप्ताह जमकर बारिश होने की संभावना है। 29 जुलाई को बारिश की तीव्रता में कुछ कमी हो सकती है। हालांकि 30 जुलाई तक बारिश एक बार फिर तेज हो सकती है और 2 अगस्त तक अलग-अलग तीव्रता के साथ बारिश के जारी रहने की उम्मीद है।

15:58 (IST)27 Jul 2021
जलभराव के कारण दिल्ली के कई इलाकों में यातायात प्रभावित

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के धौला कुआं, मथुरा रोड, मोती बाग, विकास मार्ग, रिंग रोड, रोहतक रोड, संगम विहार, किराड़ी और प्रगति मैदान के पास तथा कई अन्य स्थानों पर जलभराव के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। बारिश के कारण सड़कों पर पानी भरने से यातायात भी प्रभावित रहा। आईटीओ, मोती बाग मेट्रो स्टेशन के नीचे, धौला कुआं अंडरपास, प्रगति मैदान के पास, मथुरा रोड, विकास मार्ग, आईपी फ्लाईओवर के पास रिंग रोड, रोहतक रोड सहित कई स्थानों पर यातायात काफी धीमा रहा।

15:30 (IST)27 Jul 2021
आधे राजस्थान में अब तक सामान्य से कम बारिश

राजस्थान में मानसून आए लगभग एक पखवाड़ा हो चुका है, लेकिन अब तक आधे से भी अधिक राजस्थान में बारिश सामान्य से कम हुई है। हालांकि मानसून अभी सक्रिय है और आगामी चौबीस घंटे में राज्य के अनेक हिस्सों में भारी से अति भारी बारिश का अनुमान है।  मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार इस साल अब तक मानसून में बारिश सामान्य से 26 प्रतिशत कम हुई है। 

15:28 (IST)27 Jul 2021
महाराष्ट्र बाढ़: मरने वालों की संख्या 207 हुई

महाराष्ट्र बाढ़ में मरने वालों की संख्या मंगलवार सुबह 15 और मौतों के साथ 207 हो गई। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने आज रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों के बाढ़ प्रभावित इलाकों के दौरे पर हैं । राज्यपाल अपनी यात्रा के दौरान तलिये गांव और चिपलून भी जाएंगे। राज्य सरकार की रिपोर्ट के अनुसार, रायगढ़ में अब तक सबसे अधिक 95 लोगों की मौत हुई है, इसके बाद सतारा में 45 और रत्नागिरी में 35 लोगों की मौत हुई है।

15:08 (IST)27 Jul 2021
ग्रेटर नोएडा में भारी बारिश, सड़कों पर जलभराव

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएड में मंगलवार सुबह हुई तेज बारिश से सड़कों पर जलभराव देखने को मिला। हल्दौनी गांव के पास एक किलोमीटर तक सड़कों पर लगभग तीन फुट तक पानी भर गया। जलभराव के कारण भीषण जाम के हालात पैदा हो गए। कई जगहों पर अंडरपास में पानी भरने के कारण बाइक सवाल और पैदल यात्रियों को काफी परेशानी हुई। 

14:32 (IST)27 Jul 2021
हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूस्खलन के बाद 60 से अधिक पर्यटक फंसे

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले के दो गांवों छितकुल और रक्षक में करीब 60 से 80 पर्यटक फंसे हुए हैं। अधिकारियों के अनुसार 25 जुलाई को कई भूस्खलनों ने सड़कों को अवरुद्ध कर दिया है, और सांगला-छिटकुल मार्ग को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है। जिला प्रशासन की तरफ से बोल्डर को हटाया जा रहा है और मंगलवार शाम तक यातायात की आवाजाही फिर से शुरू होने की संभावना है। 

13:43 (IST)27 Jul 2021
उत्तर प्रदेश में अगले 24 घंटे में भारी बारिश की संभावना

भारतीय मौसम विभाग की तरफ से कहा गया है कि अगले 24 घंटे में उत्तर प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है। विभाग की तरफ से कहा गया है कि 28 जुलाई को राज्य के कुछ हिस्सों में गरज के साथ बारिश होगी। वहीं विभाग की तरफ से दिल्ली एनसीआर में अगले कुछ दिनों तक बारिश की संभावना व्यक्त की गयी है। 

12:53 (IST)27 Jul 2021
गुरुग्राम में बारिश के बाद रिहायशी इलाके में जलभराव

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में मंगलवार सुबह भारी बारिश के कारण दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में जलभारव देखने को मिला। हरियाणा के गुरुग्राम में भी कई रिहायशी इलाकों में जलभराव के हालत रहे। कई जगहों पर बारिश का पानी घरों में भी घुस गया। मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में बारिश की संभावना जातायी है। 

12:33 (IST)27 Jul 2021
महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश की संभावना

महाराष्ट्र के कई जिलों में भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गयी है। रायगढ़, रत्नागिरि, कोल्हापुर, पुणे सहित 6 जिलों में मौसम विभाग के तरफ से बारिश की संभावना जतायी गयी है। साथ ही विभाग की तरफ से कहा गया है कि 30 जुलाई तक राज्य के लोगों को बारिश से राहत नहीं मिलेगी। 

12:10 (IST)27 Jul 2021
दिल्ली में बारिश से कई जगहों पर यातायात प्रभावित

राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार सुबह भारी बारिश के कारण शहर के कई हिस्सों में जलजमाव हो गया। धौला कुआं, मथुरा रोड, मोती बाग, विकास मार्ग, रिंग रोड, रोहतक रोड, संगम विहार, किराड़ी और प्रगति मैदान के पास तथा कई अन्य स्थानों पर जलभराव के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। बारिश के कारण सड़कों पर पानी भरने से यातायात भी प्रभावित हुआ। आईटीओ, मोती बाग मेट्रो स्टेशन के नीचे, धौला कुआं अंडरपास, प्रगति मैदान के पास, मथुरा रोड, विकास मार्ग, आईपी फ्लाईओवर के पास रिंग रोड, रोहतक रोड सहित कई स्थानों पर यातायात काफी धीमा रहा।

11:11 (IST)27 Jul 2021
महाराष्ट्र: राज्यपाल बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी आज रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं।  राज्यपाल अपनी यात्रा के दौरान तलिये गांव और चिपलून का भी दौरा करेंगे। बताते चलें कि हाल के दिनों में महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बाढ़ से भयंकर तबाही देखने को मिली है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X