ताज़ा खबर
 

Weather Forecast: गुजरात में बारिश से हाल बेहाल, अगले 48 घंटे मूसलाधार बारिश के आसार, मछुआरों को अलर्ट

Weather: उत्तर भारत के पहाड़ी और मैदानी क्षेत्रों सामान्य से आठ फीसदी बारिश कम हुई है। इनमें कश्मीर, पंजाब और उत्तरी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दिल्ली-एनसीआर शामिल हैं।

India Weatherमुंबई ने पिछले 2-3 दिनों में मूसलाधार बारिश रिकॉर्ड की है।

Weather: मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों के अंदर और उसके बाद भी गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र में भारी बारिश हो सकती है। विभाग के मुताबिक निम्न वायुदाब का केंद्र अरब सागर में बना हुआ है। इसकी वजह से गुजरात के इन इलाकों में भारी बारिश जारी रह सकती है। विभाग के मुताबिक इस दौरान 50 से 60 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं। गुजरात के तटीय इलाकों में मछुआरों को न जाने की सलाह दी गई है।

मौसम विभाग के मुताबिक पिछले 21 घंटों में गुजरात के ओखा में 48 और द्वारका में 22 सेंटीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। नालिया में भी 8 सेमी बारिश दर्ज का गई है। भारी बारिश की वजह से द्वारका की गलियों में पानी जम गया। गुजरात में तीन दिनों से बारिश हो रही है। बारिश के कारण कई इलाके जलमग्न हो चुके हैं। इन इलाकों से 1,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि सौराष्ट्र-कच्छ में मानसून अपने पूरे जोर पर है, जिससे इस क्षेत्र में मूसलाधार बारिश हो रही है, जबकि महाराष्ट्र में अगले दिन रुक-रुक कर तेज बारिश होने की आशंका है।

मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अगले दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। बारिश की वजह से दिल्ली के तापमान में गिरावट आई है। अधिकांश हिस्सों में पारा 35 डिग्री सेल्सियस से नीचे ही रहा। सफदरजंग वेधशाला में मंगलवार को अधिकतम तापमान 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पालम और रिज के मौसम केंद्रों पर शाम 5:30 बजे तक 1.8 मिमी बारिश हुई। 

Coronavirus in India Live Updates

देश में इस बार अब तक सामान्य से 13 फीसदी ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है। मध्य भारत में सामान्य से 26 फीसदी अधिक बारिश दर्ज की गई है। दक्षिण भारत में सामान्य से 11 फीसदी बारिश अधिक दर्ज की गई है। पूर्वी तथा पूर्वोत्तर भारत में सामान्य से आठ फीसदी अधिक बारिश दर्ज की गई है।

Live Blog

Highlights

    09:59 (IST)08 Jul 2020
    इन इलाकों में मूसलाधार बारिश की संभावना

    8 जुलाई से 10 जुलाई के बीच उत्तरी और दक्षिणी छत्तीसगढ़ में मध्यम से तेज बारिश होगी। छत्तीसगढ़ के मध्य क्षेत्रों में बारिश में कमी आएगी। उम्मीद है कि 8 जुलाई को ग्वालियर, गुना, दतिया, भिंड मुरैना में भारी वर्षा होगी। रीवा, छतरपुर, सागर, सतना, पन्ना, खजुराहो, कटनी, जबलपुर, मांडला, बालाघाट समेत पूर्वी मध्य प्रदेश में कई जगहों पर 9 और 10 जुलाई को भी मूसलाधार बारिश हो सकती है।

    09:20 (IST)08 Jul 2020
    गुजरात में तेज हवा के साथ मूसलाधार बारिश के आसार

    मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों के अंदर और उसके बाद भी गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र में भारी बारिश हो सकती है। विभाग के मुताबिक निम्न वायुदाब का केंद्र अरब सागर में बना हुआ है। इसकी वजह से गुजरात के इन इलाकों में भारी बारिश जारी रह सकती है। विभाग के मुताबिक इस दौरान 50 से 60 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं। गुजरात के तटीय इलाकों में मछुआरों को न जाने की सलाह दी गई है। मौसम विभाग के मुताबिक पिछले 21 घंटों में गुजरात के ओखा में 48 और द्वारका में 22 सेंटीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। नालिया में भी 8 सेमी बारिश दर्ज का गई है।

    09:03 (IST)08 Jul 2020
    पंजाब-हरियाणा में मौसम सुहाना

    इस साल जुलाई में अब तक दिल्ली में 35.4 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई है, जो सामान्य से 29.1 मिमी अधिक है। 1 जून से जब मानसून का मौसम शुरू हुआ तो शहर में 91 मिमी सामान्य के मुकाबले 66.7 मिमी बारिश हुई है जो कि 27 प्रतिशत तक कम है। पड़ोसी राज्यों हरियाणा और पंजाब में मौसम सुहावना बना हुआ है।

    08:23 (IST)08 Jul 2020
    मध्य प्रदेश में तीन दिन मूसलाधार बारिश के आसार

    बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में फिर से मानसून सक्रिय हो गया है। इसका असर मध्य प्रदेश पर भी पड़ेगा। अगले तीन दिनों तक मध्य प्रदेश में मूसलाधार बारिश होने की संभावना जताई गई है। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में अगले कुछ दिन अच्छी खासी बारिश वाले होंगे। इससे खरीफ फसलों की बुवाई और सिंचाई के काम में जुटे किसानों को लाभ मिलने की संभावना है।

    08:05 (IST)08 Jul 2020
    दिल्ली में अगले दो दिनों में बारिश के आसार

    मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अगले दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। बारिश की वजह से दिल्ली के तापमान में गिरावट आई है। अधिकांश हिस्सों में पारा 35 डिग्री सेल्सियस से नीचे ही रहा। सफदरजंग वेधशाला में मंगलवार को अधिकतम तापमान 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पालम और रिज के मौसम केंद्रों पर शाम 5:30 बजे तक 1.8 मिमी बारिश हुई।

    06:31 (IST)08 Jul 2020
    गुजरात में भारी बारिश से जनजीवन बेहाल, असम में घटने लगा बाढ़ का पानी

    गुजरात में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन भारी बारिश जारी रही, बारिश के कारण जलमग्न हुए इलाकों से 1,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया, जबकि बाढ़-प्रभावित असम में कई स्थानों पर पानी कम हुआ है, हालांकि लगभग दो लाख लोग अब भी प्रभावित हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि सौराष्ट्र-कच्छ में मानसून अपने पूरे जोर पर है, जिससे इस क्षेत्र में मूसलाधार बारिश हो रही है, जबकि महाराष्ट्र में अगले दिन रुक-रुक कर तेज बारिश होने की आशंका है।

    06:11 (IST)08 Jul 2020
    दिल्ली में बारिश की वजह से तापमान में गिरावट

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश की वजह से तापमान कुछ कम रहा, जबकि महानगर के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा। सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। आईएमडी ने कहा कि दिल्ली में अगले दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश और उसके बाद रविवार तक हल्की बारिश हो सकती है।

    05:26 (IST)08 Jul 2020
    हरियाणा और पंजाब में मौसम सुहावना रहा, चंडीगढ़ में शाम को हुई बारिश

    हरियाणा और पंजाब में मौसम सुहावना रहा और दोनों राज्यों में अधिकतम तापमान सामान्य सीमा के करीब रहा। चंडीगढ़ में शाम को बारिश हुई, जहां अधिकतम तापमान 35.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि हरियाणा के हिसार में तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 37.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और करनाल में सामान्य से एक डिग्री कम 33.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

    05:00 (IST)08 Jul 2020
    दक्षिण-पश्चिम मानसून यूपी में पूरे जोरों पर हैं

    दक्षिण पश्चिमी मानसून उत्तर प्रदेश में पूरे जोर पर है और पिछले 24 घंटों के दौरान मानसूनी बादलों ने प्रदेश के ज्यादातर इलाकों को तर-बतर कर दिया। बारिश का यह सिलसिला अभी जारी रहने का अनुमान है आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक मानसून पूरे प्रदेश में सक्रिय है। खासकर राज्य के पूर्वी हिस्सों में यह विशेष तौर पर सक्रिय है। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के पूर्वी भागों में ज्यादातर स्थानों पर जबकि पश्चिमी भागों के कुछ इलाकों में वर्षा हुई।

    04:08 (IST)08 Jul 2020
    सौराष्ट्र-कच्छ में मानसून की वजह से भारी बारिश

    भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अहमदाबाद केंद्र ने कहा कि सौराष्ट्र-कच्छ में मानसून की वजह से भारी बारिश हुई। विभाग ने बताया कि सौराष्ट्र और सटे हुए क्षेत्रों के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बन गया है और उसके साथ चक्रवाती स्थिति भी है। विभाग ने देवभूमि द्वारका और कच्छ जिलों के अलग-अलग स्थानों पर बुधवार को भारी बारिश होने की संभावना जताई है।

    22:39 (IST)07 Jul 2020
    कई राज्यों में कमजोर रहेगा मानसून

    हालांकि, अगले तीन दिनों के मौसम पूर्वानुमान की बात करें तो देश के कई राज्यों में मानसून कमजोर होगा। इनमें दक्षिण भारत और मध्य भारत खासतौर से शामिल हैं। महाराष्ट्र और गुजरात में भी मानसून कमजोर हो जाएगा।

    22:32 (IST)07 Jul 2020
    बिहार में बारिश को लेकर अलर्ट

    इस बीच, बिहार में 10 से 15 जुलाई तक बाढ़ को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। उधर, नेपाल ने पूर्वी चंपारण के बंजरहा के पास नोमेंस लैंड पर स्थित तटबंध को हटाने की चेतावनी दी है। उसने कहा है कि अगर बिहार प्रशासन ने बांध को नहीं हटाया तो वह इसे तोड़ देगा।

    20:39 (IST)07 Jul 2020
    पूर्वांचल में बदला मौसम का मिजाज

    उत्तर प्रदेश के गोरखपुर समेत पूर्वांचल में भी कई जिलों में मौसम का मिजाज बदल गया। यहां मंगलवार सुबह से ही बारिश शुरू हो गई। इससे लोगों को काफी राहत मिली है। हालांकि, कई स्थानों पर जलभराव होने से आवागमन भी प्रभावित हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार शाम से मंगलवार सुबह 11:30 बजे तक 60 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है।

    19:39 (IST)07 Jul 2020
    महाराष्ट्र-गुजरात में भारी बारिश की आशंका

    दिल्ली के आसमान में मंगलवार को सुबह से ही बादल छाए रहे। ठंडी हवाएं भी चल रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, इस हफ्ते अन्य कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है। भारतीय मौसम विभाग की मानें तो अगले 3 दिनों में महाराष्ट्र और गुजरात के कई हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश होनी की आशंका है। वहीं, उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में अगले कुछ घंटों में बारिश होने की उम्मीद है। गढ़मुक्तेश्वर, हापुड़, अलीगढ़, मथुरा और आसपास के इलाकों में गरज के साथ हल्की बारिश हुई।

    18:45 (IST)07 Jul 2020
    उत्तर भारत के लोगों को अब भी इंतजार

    हालांकि उत्तर भारत के इलाकों में लोगों को अब भी बारिश का इंतजार है। देश में मानसून आए सवा महीना बीत चुका है। इसके बावजूद उत्तर भारत में अच्छी बारिश देखने को नहीं मिली है। मौसम विभाग के मुताबिक अभी भी अगले तीन दिनों तक उत्तर भारत के क्षेत्रों में हल्की बारिश होगी। मौसम से जुड़ी जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक अगले दो-तीन दिनों तक मध्य प्रदेश और पूर्वी राजस्थान में बारिश लगातार होती रहेगी। कई स्थानों पर भारी बारिश भी हो सकती है।

    18:18 (IST)07 Jul 2020
    छत्तीसगढ़, ओडिशा में भी भारी बारिश की चेतावनी

    अगले तीन दिनों के मौसम की बात करें तो छत्तीसगढ़, ओडिशा में भी भारी बारिश होने की संभावना है। महाराष्ट्र में विदर्भ, मराठवाड़ा, मध्य महाराष्ट्र में बारिश की गतिविधियों में व्यापक रूप से कमी आएगी। इस बार बिहार के क्षेत्रों में मानसून का उग्र प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। राज्य वज्रपात की घटनाएं भी सामने आ रही हैं, जिससे कई लोगों की मौत हो गई। पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में लगातार मानसूनी वर्षा हो रही है। यूपी में अगले तीन दिनों तक कई क्षेत्रों में बारिश की संभावना है।

    17:59 (IST)07 Jul 2020
    पड़ोसी मुल्क ने दी चेतावनी

    बिहार में 10 से 15 जुलाई तक बाढ़ को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान लगातार भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है। इससे जलस्तर में बहुत तेजी से वृद्धि होगी। इस बीच नेपाल ने पूर्वी चंपारण के बंजरहा के पास नोमेंस लैंड पर दो मीटर चौड़े और दो सौ मीटर लंबे तटबंध को हटाने की चेतावनी दी है। उसने कहा है कि अगर बिहार प्रशासन ने बांध को नहीं हटाया तो वह बांध को तोड़ देगा।

    17:53 (IST)07 Jul 2020
    ठाणे में उखड़ा पेड़

    महाराष्ट्र के ठाणे (पश्चिम) के महात्मा फुले नगर स्थित श्री अय्यप्पा मंदिर के पास पेड़ उखड़ने से तीन वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। हालांकि, अच्छी बात यह है कि इस घटना में किसी के हताहत/घायल होने की सूचना नहीं है। क्षेत्रीय आपदा प्रबंधन समिति और अग्निशमन दल मौके पर मौजूद है। बता दें कि मंगलवार को महाराष्ट्र के कई हिस्सों में मूसलाधार बारिश हुई है।

    17:42 (IST)07 Jul 2020
    दिल्ली के आसमान पर सुबह से छाए हैं बादल

    दिल्ली में बारिश की फुहारें पड़ रही हैं। इससे मौसम सुहावना हो गया है। साथ ही तापमान में भी गिरावट आ गई है। दिल्ली के आसमान में मंगलवार को सुबह से ही बादल छाए रहे। ठंडी हवाएं भी चल रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, इस हफ्ते अन्य कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है। भारतीय मौसम विभाग की मानें तो अगले 3 दिनों में महाराष्ट्र और गुजरात के कई हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश होनी की आशंका है। वहीं, उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में अगले कुछ घंटों में बारिश होने की उम्मीद है। मौसम विभाग के मुताबिक, गढ़मुक्तेश्वर, हापुड़, अलीगढ़, मथुरा और आसपास के इलाकों में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

    17:21 (IST)07 Jul 2020
    किन्रौर के पूर्वोत्तर में था भूकंप का केंद्र

    हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में सोमवार देर रात 3.2 की तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ है। शिमला मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा, ‘देर रात करीब एक बजकर तीन मिनट पर 3.2 की तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र किन्नौर के पूर्वोत्तर में था।’ उन्होंने बताया कि भूकंप 7 किलोमीटर की गहराई में आया। इसके झटके जिलेभर में महसूस किए गए।

    16:48 (IST)07 Jul 2020
    पहले ही दी गई थी चेतावनी

    जैसा कि पहले ही इस साल चेतावनी दी गई थी कि मानसूनी बारिश के दौरान बिजली गिर सकती है। वैसा ही हुआ। बिहार में बिजली गिरने से अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है। बेगूसराय में मंगवालर को बिजली गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। एक की हालत गंभीर है। खगड़िया में भी बिजली गिरने से एक किसान झुलस गया। उसकी भी हालत नाजुक है। सहरसा में भी कई किसान वज्रपात की चपेट में आए हैं। यहां बिजली गिरने से 2 किसानों की मौत हो गई है।

    16:10 (IST)07 Jul 2020
    28 दिन में केरल से राजस्थान पहुंचा मानसून

    इस साल देश के अधिकांश हिस्सों में समय से पहले मानसून आया। जून में कई राज्यों में अच्छी बारिश भी हुई। मानसून महज 28 दिनों में केरल से पश्चिमी राजस्थान के उस आखिरी छोर तक पहुंच गया, जहां पहुंचने में उसे 40-45 दिन लगते थे। इसके बावजूद राजस्थान के पश्चिमी हिस्सों में जुलाई के पहले हफ्ते तक बारिश नहीं के बराबर हुई है। प्रदेश में अब भी लू का प्रकोप देखने को मिल रहा है।

    15:47 (IST)07 Jul 2020
    यूपी के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

    मौसम विभाग ने यूपी के कई जिलों में भारी तो कहीं-कहीं बहुत भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। राज्य में बारिश का सिलसिला गुरवार 9 जुलाई तक जारी रहने के आसार हैं।

    15:47 (IST)07 Jul 2020
    गुजरात के लोगों को सतर्क किया गया

    भुज, द्वारका, मांडवी, जामनगर, पोरबंदर, खम्बालिया और सायला में अगले 4 से 5 घंटों तक भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। हालांकि, मौसम विभाग की मानें तो आज रात बारिश से निजात मिल सकती है। इसके बावजूद बाढ़ आने का खतरा अभी बना हुआ है। मौसम विभाग ने इलाकों के लोगों को चेतावनी जारी है।

    15:23 (IST)07 Jul 2020
    उत्तराखंड में ऑरेंज अलर्ट जारी

    मौसम विभाग ने उत्तराखंड में देहरादून समेत छह जिलों (रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़ और बागेश्वर) के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। आज इन जिलों भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। इससे पहले, मौसम विभाग ने बताया था, इस वक्त मानसून ट्रफ अपनी सामान्य स्थिति से दक्षिण में है। इस कारण अगले 4-5 दिनों के दौरान मध्य और उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में व्यापक रूप से बारिश होने की संभावना है। इसी अवधि के दौरान कुछ क्षेत्रों में भारी से भारी बारिश भी रिकॉर्ड की जा सकती है।

    15:07 (IST)07 Jul 2020
    गुजरात में बाढ़ जैसे हालात, असम में हुआ थोड़ा सुधार

    गुजरात में भारी बारिश हुई, जिससे बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई, जबकि पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में बारिश की तीव्रता कम हो गई। इस बीच, असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार हुआ है, हालांकि बाढ़ की वजह से एक व्यक्ति की जान चली गई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि मानसून अभी पूरे जोर पर है और अगले तीन दिनों में गुजरात के कई हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की आशंका है और महाराष्ट्र के भी कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। एक स्थानीय अधिकारी ने कहा कि बारिश के कारण जूनागढ़ में लगभग 30 वर्ष पुराना एक पुल ढह गया। अगले कुछ दिनों में राष्ट्रीय राजधानी और एनसीआर में अच्छी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में 9 जुलाई और 10 जुलाई को भारी बारिश, आंधी और बिजली गिरने की चेतावनी जारी की है। राज्य में कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई।

    14:29 (IST)07 Jul 2020
    हिमाचल प्रदेश में भूकंप

    हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में सोमवार देर रात 3.2 की तीव्रता के भूकम्प के झटके महसूस किए गए। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ है। शिमला मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा, ‘देर रात करीब एक बजकर तीन मिनट पर 3.2 की तीव्रता के भूकम्प के झटके महसूस किए गए। भूकम्प का केन्द्र किन्नौर के पूर्वोत्तर में था।’ उन्होंने बताया कि भूकम्प सात किलोमीटर की गहराई में आया और इसके झटके जिलेभर में महसूस किए गए।

    13:44 (IST)07 Jul 2020
    मैदानी भागों में पिछले 24 घंटों के दौरान सबसे अधिक वर्षा वाले स्थान

    12:48 (IST)07 Jul 2020
    अगले कुछ घंटे में बदलेगा मौसम का मिजाज

    मौसम विभाग ने बताया कि अगले कुछ घंटों के दौरान दिल्ली और यूपी लोनी, बड़ौत, संभल, मुरादाबाद, अमरोहा, नरवाना और गढ़मुक्तेश्वर में बारिश होगी।

    11:39 (IST)07 Jul 2020
    इंडोनेशिया में समुद्र में आया तेज भूकंप, कोई हताहत नहीं जकार्ता

    इंडोनेशिया के मुख्य द्वीप जावा में मंगलवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए लेकिन इसमें किसी के घायल होने या संपत्ति नुकसान की खबर नहीं है। यह भूकंप गहरे समुद्र से आया है। अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 6.6 थी और इसका केंद्र मध्य जावा प्रांत के तटीय शहर बोटांग से 94 किलोमीटर उत्तर में था। भूकंप की गहराई 528 किलोमीटर थी। वहीं इंडोनेशिया मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी ने कहा कि भूकंप की तीव्रता 6.1 मापी गयी है और इसकी वजह से सुनामी आने की संभावना नहीं है। एजेंसी के एक अधिकारी दारयोनो ने कहा कि बाली तक के लोगों ने भूकंप के हल्के झटके महसूस किए क्योंकि भूकंप का केंद्र काफी गहराई में था।अधिकारी ने सिर्फ अपना पहला नाम ही बताया। इंडोनेशिया में लगातार भूकंप और ज्वालामुखी विस्फोट होते रहते हैं। 2004 में ंिहद महासागर में आये तेज भकंप एवं सुनामी से कई देशों के 230,000 लोगों की मौत हो गई जिनमें से ज्यादातर इंडोनेशिया के थे।

    11:14 (IST)07 Jul 2020
    मध्य प्रदेश: भारी वर्षा के बाद शाजापुर में सड़कों पर पानी भर गया

    10:48 (IST)07 Jul 2020
    वीडियो के जरिए जानिए देशभर के मौसम का हाल

    10:03 (IST)07 Jul 2020
    महाराष्ट्र में बारिश का दूसरा दौर 12 जुलाई को दोबारा शुरू होने की उम्मीद

    मौसम से जुड़ी जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक मुंबई समेत महाराष्ट्र के तटीय भागों में मूसलाधार मॉनसून वर्षा का अगला दौर 12 जुलाई से शुरू हो सकता है।

    09:36 (IST)07 Jul 2020
    रास्थान में बारिश

    राजस्थान में पिछले 24 घंटे के दौरान पूर्वी और पश्चिमी इलाकों के कई स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश दर्ज की गई। राज्य में मानसून के सभी संभागों में हो रही बारिश से आमजन को गर्मी से राहत मिली है। मौसम विभाग के अनुसार राज्य के सभी संभागों में मानसून के सक्रिय होने से राज्य के सभी शहरों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है।

    09:02 (IST)07 Jul 2020
    दिल्ली-एनसीआर में होगी बारिश

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर की बात करें तो मानसून सक्रिय हो चुका है। इसके चलते सोमवार को दिल्ली के कई इलाकों में बारिश हुई। गाजियाबाद के साहिबाबाद इलाके में भी बारिश हुई। बारिश होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, अभी तीन-चार दिन तक ऐसा ही मौसम बना रहेगा। रुक- रुककर हल्की बारिश होती रहेगी, जिससे तापमान में भी गिरावट आएगी।

    08:01 (IST)07 Jul 2020
    मुंबई में थमेगा बारिश का दौर

    मुंबई में इस साल के मानसून की पहली बारिश का दौर अब थमने वाला है। मुंबई में पिछले 2-3 दिनों में रिकॉर्ड बारिश हुई है। स्काइमेट की मानें तो अब अगले 24 घंटों तक कम से कम मुंबई और इसके उपनगरीय क्षेत्रों में रुक-रुक कर बारिश होगी। 7 जुलाई से मुंबई समेत कोंकण क्षेत्र में बारिश कम होने के साथ तापमान में वृद्धि होगी। इस कारण उमस और गर्मी मुंबई वासियों का फिर से बुरा हाल कर सकती है।

    07:16 (IST)07 Jul 2020
    कोविड-19 से संक्रमित पत्रकार ने एम्स की इमारत से कूदकर की आत्महत्या

    दिल्ली के एम्स ट्रॉमा सेंटर में कोविडष्ष्-19 का इलाज करा रहे 37 वर्षीय एक पत्रकार ने सोमवार दोपहर अस्पताल की इमारत की चौथी मंजिल से कथित रूप से कूदकर आत्महत्या कर ली। अधिकारियों बताया कि पत्रकार एक हिंदी दैनिक अखबार में काम करता था। पत्रकार की पहचान तरुण सिसोदिया के रूप में की गई है। वह अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ भजनपुरा में रहता था। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण-पश्चिम) देवेंद्र आर्य ने बताया कि यह घटना दोपहर लगभग दो बजे हुई, जिसके बाद उस व्यक्ति को अस्पताल के आईसीयू में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे बचाने की कोशिश की। उन्होंने बताया कि 24 जून को संक्रमण की पुष्टि होने के बाद पत्रकार को ट्रामा सेंटर के कोविड-19 वार्ड में भर्ती कराया गया था।

    06:15 (IST)07 Jul 2020
    असम में बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार 

    असम में सोमवार को बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार हुआ हालांकि एक व्यक्ति की मौत हो गयी। बाढ़ के कारण राज्य के 15 जिलों में करीब चार लाख लोग प्रभावित हुए हैं। बाढ़ की स्थिति पर असम राज्य आपदा मोचन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की रोजाना रिपोर्ट के मुताबिक नगांव जिले के राहा में बाढ़ से एक व्यक्ति की मौत हो गयी। राज्य में इस साल बाढ़ और भूस्खलन की विभिन्न घटनाओं में 62 लोगों की मौत हुई है। इसमें से 38 लोगों की मौत बाढ़ में और 24 लोगों की मौत भूस्खलन के कारण हुई। एएसडीएमए ने कहा कि धेमाजी, शिबसागर, बिस्वनाथ, चिरांग, नलबाड़ी, बरपेटा, कोकराझार, धुबरी, गोआलपाड़ा, कामरूप, मोरीगांव, नौगांव, गोलाघाट, जोरहाट और तिनसुकिया जिलों में बाढ़ के कारण 3.86 लाख लोग प्रभावित हुए हैं।

    05:59 (IST)07 Jul 2020
    पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान में हल्की से मध्यम बारिश हुई

    पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान में हल्की से मध्यम बारिश हुई। दिल्ली में छिटपुट बारिश की वजह से पारा नीचे रहा। अगले कुछ दिनों में राष्ट्रीय राजधानी में और अधिक वर्षा होने की संभावना है। सफदरजंग वेधशाला ने 0.6 मिमी बारिश दर्ज की और अधिकतम तापमान 36.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।मौसम विभाग ने मंगलवार को दिल्ली में हल्की से मध्यम बारिश, बादल गरजने और तेज हवाएं चलने का अनुमान लगाया है।

    05:15 (IST)07 Jul 2020
    सौराष्ट्र क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश

    गुजरात के देवभूमि द्वारका जिले के खंभालिया तालुका में 487 मिलीमीटर बारिश होने के एक दिन बाद सौराष्ट्र क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में सोमवार को भारी बारिश जारी रही, जिससे कुछ क्षेत्रों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई। अधिकारियों ने बताया कि बारिश से उपजे हालत से निपटने के लिए खंभालिया में सोमवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के एक दल को तैनात किया गया। एक स्थानीय अधिकारी ने कहा कि बारिश के कारण जूनागढ़ में लगभग 30 वर्ष पुराना एक पुल ढह गया। उन्होंने बताया कि पुल ढहने से किसी के घायल होने की खबर नहीं है।  

    04:31 (IST)07 Jul 2020
    गुजरात में भारी बारिश; असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार 

    गुजरात में भारी बारिश हुई, जिससे बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई, जबकि पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में सोमवार को बारिश की तीव्रता कम हो गई। इस बीच, असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार हुआ है, हालांकि बाढ़ की वजह से एक व्यक्ति की जान चली गई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि मानसून अभी पूरे जोर पर है और अगले तीन दिनों में गुजरात के कई हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की आशंका है और महाराष्ट्र के भी कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

    00:01 (IST)07 Jul 2020
    यूपी में होगी रात में बारिश

    भारतीय मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद और आसपास के इलाकों में सोमवार रात 12 बजे के बाद से हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश होने की भविष्यवाणी की है। वहीं, सोमवार शाम दिल्ली के कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी तीव्रता की बारिश हुई। जहां-जहां बारिश हुई उनमें लालकिला, सिविल लाइंस, दिल्ली विश्वविद्यालय, मॉडल टाउन के इलाके शामिल हैं। दिल्ली एनसीआर, बरसाना और आसपास के इलाकों में बारिश के साथ आंधी-तूफान आने की संभावना जताई है।

    22:34 (IST)06 Jul 2020
    काबुल से 30 किमी दूर था केंद्र

    अफगानिस्तान में काबुल के पास 4.7 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर ऑफ सिस्मोलॉजी ने बताया कि रात 9 बजकर 36 मिनट पर अफगानिस्तान में भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.7 मापी गई है। इसका केंद्र राजधानी काबुल से 30 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में थे। वहीं तजाकिस्तान में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए।

    22:05 (IST)06 Jul 2020
    तटबंधों की निगरानी के निर्देश

    मौसम विभाग ने 10 से 12 जुलाई के बीच नेपाल में भारी बारिश होने की भविष्यवाणी की है। इसके चलते जल संसाधन विभाग ने इलाकों को चेतावनी जारी की है। तटबंधों की लगातार निगरानी के निर्देश दिए गए हैं। भारी बारिश के कारण गंडक, कमला बलान, कोसी नदियां उफान सकती हैं।

    21:36 (IST)06 Jul 2020
    12 जुलाई से फिर हो सकती है भारी बारिश

    मुंबई समेत महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में मूसलाधार बारिश का अगला दौर 12 जुलाई से फिर शुरू हो सकता है। स्काईमेट ने बताया कि मौजूदा मौसम स्थितियों को देखते हुए कहा जा सकता है कि पश्चिमी तटीय महाराष्ट्र के क्षेत्रों यानी मुंबई, ठाणे, पालघर, रत्नागिरी और रायगढ़ में अगले एक सप्ताह तक बाढ़ वाली बारिश की संभावना फिलहाल नहीं है।

    20:47 (IST)06 Jul 2020
    जापान में भारी बारिश, बाढ़ से 18 की मौत

    इस बीच जापान के कुमामोटो शहर में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण बाढ़ और भूस्खलन से 18 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 14 लोगों के लापता होने की सूचना है। एक दिन पहले रविवार को चीनी मौसम ब्यूरो ने जानकारी की थी कि पिछले तीन साल की तुलना में इस साल के जून महीने में चीन में आए भारी तूफान में करीब 43 फीसदी प्रतिशत का इजाफा हुआ।

    20:19 (IST)06 Jul 2020
    बरसाना में आंधी तूफान

    दिल्ली के कुछ स्थानों (लाल किले, सिविल लाइंस, दिल्ली यूनिवर्सिटी और मॉडल टॉउन) पर मध्यम से भारी बारिश हुई। भारत मौसम विभाग ने अगले 2 घंटों के दौरान बरसाना और आस-पास के इलाकों में बारिश के साथ आंधी-तूफान आने की भी आशंका जताई है।

    19:04 (IST)06 Jul 2020
    सबसे ज्यादा ठाणे में हुई बारिश

    सोमवार को मुंबई में भारी बारिश हुई। पिछले 24 घंटों के दौरान, मध्य और उत्तरी उपनगरों में भारी से बहुत भारी बारिश हुई है। हालांकि दक्षिणी उपनगरों में उल्लेखनीय कमी आई है। पिछले 24 घंटों के दौरान, सांताक्रूज में 116 मिमी, ठाणे में 213 मिमी और कोलाबा में 12 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई।

    18:21 (IST)06 Jul 2020
    महाराष्ट्र के पालघर में गिरे ओले
    17:48 (IST)06 Jul 2020
    पुल ढहा

    गुजरात में भारी बारिश कारण राजकोट के कई हिस्सों में जलभराव हो गया है। लगातार हुई भारी बारिश की वजह से द्वारका के कई हिस्सों में जलभराव हो गया है।

    Next Stories
    1 ‘अगर चीन को चिढ़ाना ही मकसद है तो चीनी दूतावास वाली सड़क का नाम दलाईलामा मार्ग कर दो’, पूर्व CEC का तंज
    2 भारत में 5 दिन में बढ़े एक लाख संक्रमित, 3 राज्यों में 4 लाख से ज्यादा कोरोना के मामले
    3 अजीत डोवाल ने चीनी विदेश मंत्री से की थी बात, एलएसी पर पीछे हटी PLA
    ये पढ़ा क्या?
    X