ताज़ा खबर
 

रामपाल के आश्रम में हथियार, पेट्रोल बम मिले

‘स्वयंभू संत’ रामपाल के किले जैसे सतलोक आश्रम के भीतर हथियारों का बड़ा जखीरा, पेट्रोल बम, तेजाब की सिरिंज और मिर्ची बम मिले हैं। हरियाणा पुलिस के विशेष जांच दल (एसआइटी) द्वारा शुक्रवार को आश्रम की तलाशी के दौरान हैरान करने वाले तथ्य सामने आए जहां आश्रम में रामपाल के एक कक्ष से लगे कमरे […]

Author November 22, 2014 9:42 AM
रामपाल के एक कक्ष से लगे कमरे से गर्भ की जांच करने का एक उपकरण भी मिला है।

‘स्वयंभू संत’ रामपाल के किले जैसे सतलोक आश्रम के भीतर हथियारों का बड़ा जखीरा, पेट्रोल बम, तेजाब की सिरिंज और मिर्ची बम मिले हैं।

हरियाणा पुलिस के विशेष जांच दल (एसआइटी) द्वारा शुक्रवार को आश्रम की तलाशी के दौरान हैरान करने वाले तथ्य सामने आए जहां आश्रम में रामपाल के एक कक्ष से लगे कमरे से गर्भ की जांच करने का एक उपकरण भी मिला है। पुलिस को आश्रम के एक बाथरूम में अचेतावस्था में बंद एक महिला भी मिली। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। महिला की पहचान मध्य प्रदेश के अशोक नगर की बिजलेश के तौर पर की गई है।

तलाशी अभियान के दौरान पुलिस ने परिसर में छिपे तीन लोगों को हिरासत में ले लिया जहां से बुधवार को 63 वर्षीय विवादास्पद संत को हत्या के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि दल को .32 बोर की तीन रिवॉल्वर, 19 एअरगन, दो डीबीबीएल 12 बोर, .315 बोर की दो राइफल, .32 बोर के 28 कारतूस, 12 बोर के 50 कारतूस और .315 बोर के 25 कारतूस मिले हैं।
अधिकतर हथियार दो गुप्त कमरों में बोरों और अलमारियों में मिले। आश्रम के बीच में स्वचालित तरीके से ऊपर नीचे होने वाली एक व्यवस्था है जिसमें रामपाल की कुर्सी मिली है।

तलाशी के दौरान एक निजी स्वीमिंग पूल, आधुनिक स्वचालित सीढ़ियां व 24 वातानुकूलित कमरे मिले हैं जिनमें एक कमरे में मसाज बेड भी मिला है। तलाशी दल को हेलमेट और लाठियां व 20 जोड़ी काले कपड़े और 800 लीटर डीजल से भरे दो टैंक भी मिले। आश्रम में छिपे हुए लोगों की पहचान उत्तर प्रदेश के बदायूं के जाखली निवासी यादराम, छत्तीसगढ़ निवासी रवि और भिवानी निवासी रमेश के तौर पर की गई है। किले जैसे लगने वाले आश्रम में ऊंची ऊंची दीवारें व निगरानी करने के लिए मचान हैं तो निजी कमांडो और सुरक्षाकर्मियों के लिए एक विशेष कक्ष भी है। बड़े क्षेत्र में फैले आश्रम में कई जगहों पर लगे सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की व्यवस्था की गई थी।

आश्रम में मिले वातानुकूलित कमरों की तुलना किसी आलीशान होटल या फॉर्म हाउस से की जा सकती है जिसमें अत्याधुनिक उपकरणों से युक्त बाथरूम भी मिले हैं। आश्रम में स्थित सत्संग हॉल में 50,000 लोगों के बैठने की क्षमता है। रामपाल एक बुलेट प्रूफ कांच के केबिन से अनुयायियों को प्रवचन देता था। प्रवक्ता ने बताया कि तलाशी अभियान कुछ दिन और चलेगा क्योंकि आश्रम बहुत बड़े परिसर में फैला है। यहां पूरी तरह तलाशी के लिए करीब 14 फुट गहरे पानी के दो टैंकों को भी खाली किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App