scorecardresearch

हम नवाज शरीफ से थोड़े न कहेंगे कि शांति की अपील करिए- कांग्रेस नेता ने PM का नाम ले बोला हल्ला तो हंसने लगे पैनलिस्ट

सुप्रीम कोर्ट की तल्ख टिप्पणी के बाद नूपुर शर्मा ने अपनी सफाई में कहा कि मैंने पैगंबर मोहम्मद पर जो बयान दिया था, उसे आसमाजिक तत्वों ने तोड़ मरोड़कर एडिट करके अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर किया।

nupur sharma| bjp| delhi|
नूपुर शर्मा (फोटो सोर्स: @nupursharmabjp)

पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के चलते भाजपा से निलंबित नूपुर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट ने जमकर फटकार लगाई है। शुक्रवार (1 जुलाई) को उनकी याचिका पर सुनवाई करते हुए अदालत ने उन्हें देश के मौजूदा हालात के लिए जिम्मेदार ठहराया। इस मुद्दे पर abp न्यूज़ पर्व एक टीवी डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता आलोक शर्मा ने कहा कि हम नवाज शरीफ से थोड़े न कहेंगे कि शांति की अपील करिए। आप देश के प्रधानमंत्री और गृहमंत्री हैं आप नहीं बोलेंगे तो कौन बोलेगा?

आलोक शर्मा ने कहा, “अभी भी नूपुर शर्मा के लिए रेड कार्पेट बिछाए जा रहे हैं। इतना सब होने के बाद भी मोदी जी और अमित शाह शांत हैं। भाई हम इमरान खान और नवाज शरीफ से थोड़े कहेंगे कि वो देश में शांति बनाए रखने की अपील करें।” इस पर बोलते हुए हिंदू धर्मगुरु ने कहा, “देश में हिन्दू-मुसलमान-सिख-पारसी सभी लोग रहते हैं, हमेशा शांति की अपील मुसलमानों से क्यों करनी पड़ती है?”

शांति की अपील मुसलमानों से: हिंदू धर्मगुरु ने आगे कहा, “ये बात आज तक समझ नहीं आई कि जिस इलाके में मुसलमान ज्यादा संख्या में रहते हैं वो संवेदनशील कैसे हो जाता है? संवेदनशीलता का ये पैमाना समझ नहीं आता। जहां मुस्लिम रहें वो जगह संवेदनशील, शांति की अपील भी करें तो मुसलमानों से। ये कैसी मानसिकता है।”

नूपुर शर्मा पर कोई एक्शन क्यों नहीं: कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, “क्या देश में कानून का राज चल रहा है? क्या इतने दिनों तक नूपुर शर्मा फ्रिंज एलीमेंट नहीं थी? आप कांग्रेस की आवाज दबा सकते हैं पर ये तो सुप्रीम कोर्ट कह रहा है।” उन्होंने कहा कि अदालत की फटकार से पहले नूपुर शर्मा पर कोई एक्शन क्यों नहीं हुआ? अगर होता तो आज ये हालात नहीं होते।”

नूपुर शर्मा के खिलाफ देश के अलग-अलग राज्यों में कई केस दर्ज हुए हैं। इन मामलों को दिल्ली ट्रांसफर करने को लेकर नूपुर शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उनकी याचिका को खारिज कर दिया, साथ ही नूपुर शर्मा को कड़ी फटकार भी लगाई। अदालत ने कहा कि उनकी टिप्पणी की वजह से देश भर में लोगों की भावनाएं भड़की हैं। देश में आज जो कुछ हो रहा है, उसके लिए वो जिम्मेदार हैं।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X