ताज़ा खबर
 

‘मुझे रुपया-पैसा नहीं चाहिए, जैसे किया हैदराबाद में इंसाफ, फौरन वैसा ही न्याय चाहिए’, उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के घरवालों की मांग

शुक्रवार की सुबह ही हैदराबाद बलात्कार मामले के चारों आरोपी पुलिस के साथ मुठभेड़ में मार गिराए गए थे।

Author नई दिल्ली | Updated: December 7, 2019 3:26 PM
अस्पताल में कराया गया था भर्ती। फोटो: PTI

उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता ने शुक्रवार (06 दिसंबर) देर रात नई दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। उसे हैवानों ने जिंदा जला दिया था, जिसमें वो 90 फीसदी जल गई थी। पीड़िता की मौत से फिर देश में दुख और गुस्से की लहर दौड़ गई है। इस बीच पीड़िता के परिवारवालों ने हैदराबाद बलात्कार पीड़िता की तरह ही इंसाफ देने की मांग की है। शुक्रवार की सुबह ही हैदराबाद बलात्कार मामले के चारों आरोपी पुलिस के साथ मुठभेड़ में मार गिराए गए थे।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पीड़िता को पर्याप्त सुरक्षा नहीं दिए जाने पर विपक्ष ने सरकार को निशाने पर ले रखा है। हालांकि, राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलाने का आश्वासन दिया है। मृतक के भाई ने शनिवार (07 दिसंबर) को कहा कि उसकी बहन को तब न्याय मिलेगा जब उसके साथ क्रूरता करने वाले उन सभी आरोपियों का भी वही हश्र हो जो ‘‘उसकी बहन ने झेला।’’

उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘उसने मुझसे मिन्नत की कि भाई मुझे बचा लो। मैं बहुत दुखी हूं कि मैं उसे बचा नहीं सका।’’ जिंदगी की जंग हार चुकी पीड़िता के बेहाल पिता ने न्याय और सरकारी मदद मिलने के सवाल पर कहा “मुझे रुपया-पैसा-मकान कुछ नहीं चाहिये। मुझे इसका लालच नहीं है, बस जिसने मेरी बेटी को इस हालत में पहुंचाया है, उसे हैदराबाद मामले की तरह ही दौड़ा कर गोली मार देनी चाहिये या फिर तत्काल फांसी दी जानी चाहिये।”

कार्रवाई का आश्वासन देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जताते हुए कहा कि मुकदमे को त्वरित अदालत में चलाकर अपराधियों को कड़ी सजा दिलाई जाएगी। सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा ‘‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव पीड़िता के सन्दर्भ में कहा कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है, उसकी मौत अत्यंत दुखद है। उनके द्वारा परिवार के प्रति पूरी संवेदना व्यक्त की गयी। सभी अपराधी पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किए जा चुके हैं। मामले को त्वरित अदालत में ले जाकर कड़ी सजा दिलाएंगे।’’ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पीड़िता की मौत के बाद उसके परिजनों से गांव जाकर मुलाकात की है।

प्रियंका ने ट्वीट किया “मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि वह उन्नाव पीड़िता के परिवार को दुख की इस घड़ी में हिम्मत दे।” उन्होंने कहा, ‘‘यह हम सबकी नाकामी है कि हम उसे न्याय नहीं दे पाए। सामाजिक तौर पर हम सब दोषी हैं लेकिन यह उत्तर प्रदेश में खोखली हो चुकी कानून व्यवस्था को भी दिखाता है।’’

प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘उन्नाव की पिछली घटना को ध्यान में रखते हुए सरकार ने पीड़िता को तत्काल सुरक्षा क्यों नहीं दी? जिस अधिकारी ने प्राथमिकी दर्ज करने से मना किया, उस पर क्या कार्रवाई हुई? उत्तर प्रदेश में रोज-रोज महिलाओं पर जो अत्याचार हो रहा है, उसे रोकने के लिए सरकार क्या कर रही है?”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘उसे फांसी जरूर देना’, बोल चली गई उन्नाव रेप पीड़िता, भाई ने कहा- बहन बोली थी, ये पांच नाम इस दुनिया में नहीं रहने चाहिए
2 विवादास्पद ट्वीट के बाद बाबुल सुप्रियो ने कर्मचारी को नौकरी से निकाला, दी यह सफाई
3 IRCTC INDIAN RAILWAYS: खाने-पीने की चीजों पर मार्च से लागू होने वाले रेट से हो रही वसूली!
ये पढ़ा क्या?
X