ताज़ा खबर
 

वायरल वीडियोः शिवराज की पुलिस ने कैसे भांजी निहत्थे ग्रामीणों पर लाठियां, देखें

पुलिस के द्वारा की जा रही मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा है।

madhya pradesh, khandwa, policeमध्यप्रदेश पुलिस ने खंडवा में ग्रामीण महिलाओं पर भी लाठी चलाने से गुरेज नहीं किया। (फोटो – ट्विटर / OfficeOfKNath)

मध्य प्रदेश के खंडवा से पुलिस की बर्बरता का एक वीडियो सामने आया है। पुलिस ने कोरोना मरीज और उसके परिजनों पर जमकर डंडे बरसाए। पुलिस की बर्बरता का यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। खंडवा की इस घटना पर विपक्षी कांग्रेस ने मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार पर हमला बोला है। हालांकि पुलिस ने कोरोना संक्रमित के परिवार पर ही पहले मारपीट करने का आरोप लगाया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार खंडवा के बंजारी गांव में एक शख्स की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी देने के लिए जब स्थानीय स्वास्थ्यकर्मी बंजारी गांव गए तो कथित रूप से उस शख्स के परिजनों ने स्वास्थ्य कर्मियों को बंधक बना लिया और उसके साथ मारपीट की। जिसके बाद स्वास्थ्य कर्मियों ने इसकी शिकायत छैगांवमाखन थाने में कर दी।

खंडवा एसपी विवेक सिंह के अनुसार जैसे ही स्थानीय थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो कोरोना मरीज के परिजनों ने उनलोगों के साथ भी मारपीट की। इस दौरान पुलिस पर पथराव भी किया गया। बाद में पुलिस को अपने बचाव में लाठी चलाना पड़ा। पुलिस ने इस दौरान महिलाओं पर भी लाठी चलाने से गुरेज नहीं किया। कहा यह जा रहा है कि इस मारपीट में ग्रामीणों के साथ तीन पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। हालांकि एसपी ने मारपीट का वीडियो सामने आने के बाद कार्रवाई करते हुए दो पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है।

वहीं पुलिस की पिटाई से घायल ग्रामीणों को उपचार के लिया खंडवा के जिला अस्पताल में भेजा गया है। पुलिस के द्वारा की जा रही बर्बरता का वायरल वीडियो सामने के बाद स्थानीय विधायक राम दागोरे ने दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। खंडवा एसपी ने इस मामले की जांच के लिए एक कमिटी भी बना दी है।

हालांकि पुलिस के द्वारा की जा रही मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा है। कमलनाथ ने कहा कि  कोविड पॉजिटिव मरीज के परिजनों की किस तरह पुलिस द्वारा बर्बर तरीक़े से पिटाई की जा रही है।  यह अमानवीयता और बर्बरता है। 

Next Stories
1 बंगाल बीजेपी चीफ के बिगड़े बोल, कहा- “bad boys” नहीं सुधरे तो फिर होगी कूचबिहार जैसी घटना
2 कोरोना का क़हर: लोग अब सड़कों पर मर रहे हैं- डॉक्टर्स से बातचीत में बोले लखनऊ के डीएम
3 रेमडेसिवीर इंजेक्शन और एपीआई के निर्यात पर प्रतिबंध, घरेलू उत्पादकों को वेबसाइट पर देना होगा स्टॉक, वितरण का ब्योरा
यह पढ़ा क्या?
X