देखें, SP और DM के जाने के लिए विधानसभा परिसर में रोकी गई मंत्री की गाड़ी तो भड़के, बोले- अब निलंबन के बाद ही सदन में जाऊंगा

बिहार सरकार में श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा सदन की कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए विधानसभा जा रहे थे। तभी वहां ट्रैफिक व्यवस्था संभाल रहे पुलिसकर्मियों से उन्हें रोक दिया। गाड़ी रोके जाने की वजह से मंत्री जीवेश मिश्रा बुरी तरह से भड़क गए और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों पर आग बबूला हो गए।

बिहार सरकार में मंत्री जीवेश मिश्रा ने ट्रैफिक व्यवस्था संभाल रहे पुलिसकर्मियों पर आरोप लगाया कि एसपी और डीएम के आने की वजह से उनकी गाड़ी को विधानसभा परिसर में रोक दिया गया। (फोटो: एएनआई)

बिहार विधानसभा में शीतकालीन सत्र चल रहा है। शीतकालीन सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे बीजेपी कोटे से बिहार सरकार में मंत्री जीवेश मिश्रा की गाड़ी एसपी और डीएम के गुजरने के कारण विधानसभा परिसर में रोक दी गई। गाड़ी रोके जाने पर मंत्री जीवेश मिश्रा वहां मौजूद अधिकारी पर भड़क उठे और कहने लगे कि अब जिम्मेदार अधिकारी के निलंबन के बाद ही सदन में जाऊंगा।

दरअसल गुरुवार को बिहार सरकार में श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा सदन की कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए विधानसभा जा रहे थे। तभी वहां ट्रैफिक व्यवस्था संभाल रहे पुलिसकर्मियों से उन्हें रोक दिया। गाड़ी रोके जाने की वजह से मंत्री जीवेश मिश्रा बुरी तरह से भड़क गए और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों पर आग बबूला हो गए। गुस्साए मंत्री जीवेश मिश्रा का आरोप था कि पटना के एसपी और डीएम के आने की वजह से उनकी गाड़ी को विधानसभा परिसर में रोका गया।

गुस्से में पुलिसकर्मियों पर चीखते मंत्री जीवेश मिश्रा का वीडियो समाचार एजेंसी एएनआई ने जारी किया है। वीडियो में मंत्री जीवेश मिश्रा कहते दिखाई दे रहे हैं कि हम सरकार हैं। बदतमीजी करते हो तुम लोग। हालांकि इसके बाद मंत्री जीवेश मिश्रा ने वहां मौजूद पत्रकारों से कहा कि इनका एसपी-डीएम जाएगा तो ये लोग मंत्री को रोककर खड़ा करवाते है। जब एसपी और डीएम आते हैं तो मिनिस्टर को ये रोक देते हैं और ये यहां पर खड़ा कराते हैं… ये अधिकारी है यहां पर जो खड़े हैं… इनकी सस्पेंशन होगी तभी मैं सदन में जाऊंगा।

पिछले दिनों भी बिहार विधानसभा परिसर में जमकर हंगामा हुआ था जब दो विधायक आपस में भिड़ गए थे। सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही राजद विधायक भाई वीरेंद्र और भाजपा विधायक संजय सरावगी के बीच विवाद हो गया था। दोनों के बीच गाली गलौज भी हो गई थी। भाई वीरेंद्र ने भाजपा विधायक के लिए मिलावटी पैदाइश जैसे शब्दों का भी इस्तेमाल किया था।

बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने दोनों विधायकों के बीच हुई नोंकझोंक की निंदा की थी। उन्होंने सदस्यों को सदन की प्रतिष्ठा का ख्याल रखने की नसीहत दी थी और कहा कि हमारे प्रति जनता की अपेक्षा हम सब के लिए अग्नि परीक्षा की तरह है।     

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट