ताज़ा खबर
 

VVIP हेलिकॉप्टर घोटाला: पूर्व एयरफोर्स चीफ त्यागी को हाईकोर्ट ने नहीं जाने दिया इंडोनेशिया, कहा- आरोपी हमेशा विदेश क्यों जाना चाहता है

Agusta Westland VVIP chopper scam case: त्यागी और मामले में आरोपी दो अन्य शख्स की जमानत अर्जी के खिलाफ सीबीआई की याचिका पर सुनवाई कर रहे कोर्ट ने कहा, "आप (त्यागी) इस मामले में ट्रायल का सामना कर रहे हैं और स्पेशल ट्रीटमेंट में ले रहे हैं।

AgustaWestland Chopper Scam, Ex IAF Chief SP Tyagi, SP Tyagi News, SP Tyagi latest News, Gautam Khaitan news, Gautam Khaitan latest Newsपूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्‍यागी के विदेश जाने पर लगाई रोक। (फाइल फोटो)

दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार को अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले मामले में मुख्य आरोपी इंडियन एयरफोर्स के पूर्व चीफ एसपी त्यागी के विदेश जाने संबंधी आदेश पर रोक लगा दी है। हाईकोर्ट ने ट्रायल कोर्ट के उस आदेश पर रोक लगाई, जिसमें त्यागी को इंडोनेशिया जाने की इजाजत दी गई थी। हाईकोर्ट के जस्टिस आईएस मेहता ने त्यागी को दिए ‘स्पेशल ट्रीटमेंट’ (विशेष उपचार) की निंदा की। उन्होंने कहा, “मुझे समझ नहीं आता है कि क्यों आरोपी हमेशा विदेश जाना चाहता है। क्यों त्यागी को विशेष उपचार दिया जाना चाहिए।” कोर्ट ने ट्रायल कोर्ट के फैसले पर 12 जुलाई तक के लिए रोक लगा दी है। कोर्ट सीबीआई की इस दलील से सहमत हो गई कि पूर्व वायुसेना प्रमुख जमानत पर है और मामले में चल रही जांच को प्रभावित कर सकते हैं।

त्यागी और मामले में आरोपी दो अन्य शख्स की जमानत अर्जी के खिलाफ सीबीआई की याचिका पर सुनवाई कर रहे कोर्ट ने कहा, “आप (त्यागी) इस मामले में ट्रायल का सामना कर रहे हैं और स्पेशल ट्रीटमेंट ले रहे हैं। ये क्या है? 12 जुलाई तक आप यात्रा नहीं करेंगे। इस समय तक ट्रायल कोर्ट का फैसले पर रोक लगाई जाती है।” हाई कोर्ट की ओर से यह अंतरिम आदेश ट्रायल कोर्ट के उस आदेश पर आया है, जिसमें 24 मई को त्यागी को विदेश जाने की अनुमति दी गई थी। सीबीआई ने इसके खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी।

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में आरोपी पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्‍यागी को पिछले साल दिंसबर में पटियाला हाउस कोर्ट ने जमानत दे दी थी। त्‍यागी को अगस्‍ता वेस्‍टलैंड वीवीआईपी चॉपर डील में घूस मामले में गिरफ्तार किया गया था। कोर्ट ने त्‍यागी को दो लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दी थी। त्‍यागी को सीबीआई ने नौ दिसंबर को गिरफ्तार किया था। उनके साथ ही गौतम खेतान और संजीव त्‍यागी उर्फ जूली त्‍यागी को भी गिरफ्तार किया गया था। सीबीआई ने बताया था कि तीनों को अवैध व भ्रष्‍ट तरीकों के जरिए दबाव डालकर अवैध फायदा लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। संजीव त्‍यागी पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्‍यागी के चचेरे भार्इ हैं। वहीं गौतम खेतान त्‍यागी के भाई हैं। छह साल पुराने अगस्‍ता वेस्‍टलैंड केस में इस कंपनी को ठेका दिलाने के लिए घूस लेने का मामला सामने आया था।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7वां वेतन आयोग: स‍िफार‍िशें लागू करने की प्रक्रिया जारी, कर्मचारियों को जून के बाद नए भत्ते का तोहफा दे सकती है नरेंद्र मोदी सरकार
2 ‘बीफ फेस्ट’ आयोजित करने पर आईआईटी स्टूडेंट को कथित दक्षिणपंथियों ने बेरहमी से पीटा
3 प्रेसिडेंट बनने की खबरों पर केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू बोले- राष्ट्रपति नहीं बनना, ऊषा का पति बनकर खुश हूं
ये पढ़ा क्या?
X