ताज़ा खबर
 

VIDEO: शो में मुस्लिम चिंतक से बोले BJP प्रवक्ता- दाऊद के पैसों से आप जैसों का चलता है घर, मिला जवाब- 56 इंची छाती डॉन का फोटो नहीं ला पाई और…

संबित पात्रा ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि 'ऐसे लोगों को डिबेट में बुलाना नहीं चाहिए। ऐसे लोगों का घर चलता है दाऊद के पैसे से। तभी ये यहां आकर दाऊद को डिफेंड करते हैं।'

sambit patra kangana ranaut viral videoभाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा टीवी डिबेट के दौरान पैनलिस्ट से भिड़ गए। (फाइल फोटो)

बीएमसी द्वारा कंगना रनौत के ऑफिस पर चले बुलडोजर का मामला अभी तक शांत नहीं हुआ है। एक टीवी डिबेट के दौरान भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा एक अन्य पैनलिस्ट से भिड़ गए। इस दौरान भाजपा प्रवक्ता ने पैनलिस्ट पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘आप जैसों का घर चलता है दाऊद के पैसों से।’

बता दें कि न्यूज 18 चैनल पर कंगना का ऑफिस गिराए जाने के मुद्दे पर बहस हो रही थी। इस दौरान संबित पात्रा ने कहा कि कंगना रनौत ने मुंबई को पीओके बोल दिया इसलिए उसके घर को बीएमसी द्वारा तोड़ दिया गया। लेकिन हजारों लोगों के कातिल दाऊद इब्राहिम के मुंबई में भिंडी बाजार स्थिति घर को नहीं तोड़ा गया है। इस पर डिबेट में मौजूद मुस्लिम चिंतक अतीक उर रहमान ने अपना पक्ष रखने की कोशिश की तो संबित उन पर भड़क गए और उन्हें दाऊद का प्रवक्ता बता दिया।

संबित पात्रा ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि ‘ऐसे लोगों को डिबेट में बुलाना नहीं चाहिए। ऐसे लोगों का घर चलता है दाऊद के पैसे से। तभी ये यहां आकर दाऊद को डिफेंड करते हैं।’

इस पर पलटवार करते हुए पैनलिस्ट अतीक उर रहमान ने तंज कसते हुए कहा कि 56 इंच की छाती वाली सरकार क्यों 6 साल में दाऊद इब्राहिम का हाल फिलहाल का फोटो तक नहीं ला सकी। उन्होंने कहा कि दाऊद इब्राहिम ने बम ब्लास्ट के बाद सरेंडर करने को भी कहा था लेकिन क्यों उन्हें सरेंडर नहीं करने दिया गया?

बता दें कि कंगना के घर पर बीएमसी की कार्रवाई पर पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने सवाल उठाते हुए कहा था कि माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम का घर अभी तक क्यों बचा हुआ है जबकि कंगना का घर तोड़ दिया गया।

फडणवीस ने कहा कि “कंगना का मुद्दा इतना बड़ा नहीं था लेकिन इसे बड़ा बना दिया गया। उनका घर किसने तोड़ा? आपने। भिंडी बाजार स्थिति दाऊद इब्राहिम के घर को तोड़ने के आदेश हैं लेकिन सरकार ने कोर्ट में हलफनामा देकर कहा है कि उसके पास इस काम के लिए पर्याप्त कर्मचारी नहीं हैं।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 40 दिन तक बागी तेवर दिखाने वाले सचिन पायलट के मन में ना खत्म हुई CM अशोक गहलोत के खिलाफ खटास? यूं बताया राजस्थान सरकार को विफल!
2 COVID के बीच संसद सत्र: कई सांसदों ने दी छुट्टी की अर्जी, पांच के कोरोना पॉजिटिव निकलने की खबर!
3 देश में सबसे ज़्यादा घनी और गरीब आबादी वाले दिल्ली के इस जिले में आधे परिवारों के पास राशन कार्ड नहीं
राशिफल
X