ताज़ा खबर
 

VIDEO: ये डुगडुगी बजाने वाले बैठाते हो…शो में पैनिलस्ट के लिए बोले मौलाना, एंकर ने यूं दिया कड़ा जवाब

नाराज मौलाना साजिद रशीदी ने कहा कि 'ये डुगडुगी बजाने वाले जो बिठाते हो, बंदरिया नचाने वाले बिठाते हो, इन्हें देश समझ गया है।'

VIRAL VIDEO CAA maulana sajid rashidiमौलाना साजिद रशीदी ने डिबेट के दौरान पैनलिस्ट पर साधा निशाना। (फाइल फोटो)

एक टीवी चैनल पर डिबेट के दौरान मौलाना ने एक पैनलिस्ट को ‘डुगडुगी बजाने वाले’ बता दिया, जिस पर हंगामा हो गया। दरअसल डिबेट सीएए कानून और एएमयू यूनिवर्सिटी में हिंसा भड़काने वाले शरजील उस्मानी के भड़काऊ बयान को लेकर हो रही थी। इस डिबेट में भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया, सामाजिक कार्यकर्ता सुबुही खान, मौलाना साजिद रशीदी समेत कई अन्य पैनलिस्ट मौजूद थे।

इस दौरान मौलाना साजिद रशीदी ने बोलते हुए कहा कि ‘अभी इस देश में सच बोलने की इजाजत है क्योंकि देश का संविधान बाकी है।’ इसी बीच सुबुही खान ने बीच में मौलाना को टोक दिया। इससे मौलाना साजिद रशीदी नाराज हो गए और झल्लाते हुए कहा कि ‘चुप रहिए मैडम, आप तो ना हिंदू और ना मुसलमान, आपसे क्या बात की जाए।’ मौलाना के इस बयान पर एंकर ने आपत्ति जतायी।

एंकर ने कहा कि ‘इस डिबेट में धर्म विषय नहीं हो रहा है।’ इससे नाराज मौलाना साजिद रशीदी ने कहा कि ‘ये डुगडुगी बजाने वाले जो बिठाते हो, बंदरिया नचाने वाले बिठाते हो, इन्हें देश समझ गया है।’ मौलाना के इतना कहते ही हंगामा हो गया और एंकर ने पैनलिस्ट के लिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करने वाले मौलाना को आड़े हाथों ले लिया।

हालांकि मौलाना साजिद रशीदी यहीं नहीं रुके और सुबुही खान की आलोचना करते हुए बोले कि ‘जो इंसान मुसलमान होकर मुसलमानों का नहीं है, वो हिंदुओं का कैसे हो सकता है।’

बता दें कि इसी डिबेट के दौरान मौलाना साजिद रशीदी ने भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया को घेरते हुए अर्थव्यवस्था और चीनी घुसपैठ का मुद्दा उठाया था। मौलान रशीदी ने कहा कि आज देश की अर्थव्यवस्था बांग्लादेश से भी पिछड़ गई है।

एंकर द्वारा बार बार शांत कराए जाने के बाद भी जब मौलाना नहीं शांत हुए तो एंकर ने उनसे जीडीपी, पीएलए और एलएसी की फुल फॉर्म पूछ ली। इस पर मौलाना भड़क गए और कहने लगे कि आप मेरे प्रोफेसर नहीं हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 किसानों की आत्महत्या पर छिपाया जा रहा डेटा? सदन में बोले केंद्रीय मंत्री- कई राज्य और UT नहीं दे रहे आत्महत्या के आंकड़े
2 कृषि बिल विवादः क्या है MSP, जिस पर सड़क से लेकर संसद तक भरी जा रही हुंकार? समझें
3 ये उन दिनों की बात है… सुषमा स्वराज ने आढ़तियों को बताया था किसानों का एटीएम’ कहा था- वालमार्ट जैसी कंपनियां को किसानों से बदबू आएगी
यह पढ़ा क्या?
X