ताज़ा खबर
 

वरिष्ठ पत्रकार बोले- महिलाओं को गंदी नजर से देखने वाले ट्रम्प से मुझे नफरत है तो बीजेपी प्रवक्ता गिनाने लगे इंदिरा गांधी के स्नूपिंग इवेंट

आशुतोष ने कहा कि पीएम मोदी द्वारा 50,000 लोगों को संबोधित करना गर्व की बात है, लेकिन डोनाल्ड ट्रंप के साथ खड़ा होना कोई गर्व की बात नहीं है, क्योंकि मुझे ट्रंप से नफरत है।

Author नई दिल्ली | Updated: September 23, 2019 10:43 PM
वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष और भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी। (File/youtube image)

रविवार को अमेरिका के ह्यूस्टन में पीएम मोदी के मेगा इवेंट ‘हाउडी मोदी’ का आयोजन हुआ। इस दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी मौजूद रहे। भारत में टीवी डिबेट के कार्यक्रमों में इस कार्यक्रम और मोदी-ट्रंप की दोस्ती की खूब चर्चा हुआ। ऐसे ही आज तक चैनल पर हुई एक टीवी डिबेट में वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष और भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी भी अन्य पैनलिस्ट के साथ मौजूद थे।

कार्यक्रम के दौरान आशुतोष ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ पीएम मोदी की तीखी आलोचना की और कहा कि ट्रंप महिलाओं को गंदी नजर से देखते हैं, उन पर टैक्स में गड़बड़ी के आरोप हैं और वह दिवालिया होने के कागार पर हैं। आशुतोष ने यह भी कहा कि कश्मीर के मसले पर भी उन्होंने मध्यस्थता की बात कही थी। ऐसे में पीएम मोदी द्वारा 50,000 लोगों को संबोधित करना गर्व की बात है, लेकिन डोनाल्ड ट्रंप के साथ खड़ा होना कोई गर्व की बात नहीं है, क्योंकि मुझे ट्रंप से नफरत है।

इस पर भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी ने जवाब देते हुए कहा कि डोनाल्ड ट्रंप ने भले ही कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता की बात कही हो, लेकिन पीएम मोदी ने कश्मीर को द्विपक्षीय से केन्द्रीय मुद्दा बना दिया। इसके बाद भाजपा नेता ने डोनाल्ड ट्रंप पर लगे आरोपों पर कहा कि राहुल गांधी, सोनिया गांधी मुचलके पर हैं, इस बात को तो छोड़ दीजिए, स्विटजरलैंड की एक मैग्जीन के 1991 का अंक बताता है कि कितने बिलियन स्विस बैंक हैं वहां पर, इसके अलावा केजीबी के अधिकारी द्वारा लिखी गई किताब ‘स्टेट विद इन ए स्टेट’ में लिखा है कि वह केजीबी या सीआईए की एजेंट थी, लेकिन हम उसे सच नहीं मानते।

सुधांशु त्रिवदी ने आगे कहा कि पढ़िए मलय क्रष्णधर, सीबीआई अफसर, जिन्होंने तो ये भी कहा है कि इंदिरा गांधी, सोनिया गांधी की स्नूपिंग कराती थी, क्योंकि उन्हें शक था कि विदेश की एजेंट हैं। सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि व्यक्तिगत रुप पर मत जाइए और ये देखिए की अमेरिका का राष्ट्रपति, भारत के प्रधानमंत्री के आगे कैसे खड़ा है, इस रुप में देखना चाहिए।

इसके बाद आशुतोष ने कहा कि वह स्नूपिंग इवेंट में नहीं जाना चाहते, वरना बहुत सी बातें खुलकर सामने आ जाएंगी और उससे आपको और बहुत से लोगों को अच्छी नहीं लगेंगी। इसके बाद आशुतोष ने भारतीय मीडिया पर भी हमला बोला और कई पत्रकारों पर भी सवाल खड़े किए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories