ताज़ा खबर
 

Kanpur Encounter: गैंगस्टर विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार, मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की पुष्टि

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन से विकास दुबे की गिरफ्तारी पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। मध्य प्रदेश पुलिस उसे उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपेगी।

कानपुर मुठभेड़ के मुख्य आरोपी विकास दुबे को उज्जैन के एक पुलिस स्टेशन में गिरफ्तार किया गया। (तस्वीर: मध्य प्रदेश पुलिस ​हैंडआउट)

Kanpur Encounter: कानपुर शूटआउट में 8 पुलिस वालों की हत्या के बाद फरार हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने महाकालेश्वर मंदिर की पर्ची कटाई और इसके बाद खुद ही सरेंडर कर दिया। मध्य प्रदेश के ग्रह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दुबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। ग्रह मंत्री ने कहा “कानपुर की नृशंस घटना के बाद से ही हमने पूरे मध्य प्रदेश और पुलिस को अलर्ट कर रखा था, जैसे ही संदेह हुआ उसे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गुरुवार सुबह वह 8 बजे के करीब विकास हाकाल मंदिर परिसर पहुंचा, जब वह प्रसाद की एक दुकान पर पहुंचा तो दुकानदार ने उसे पहचान लिया। जिसके बाद उसने इस बात की जानकारी सिक्योरिटी गार्ड को दी। जिसके बाद गार्ड ने उसे आईडी दिखाने को कहा और उस से पूछताछ की। विकास ने किसी और के नाम की आईडी दिखाई और गार्ड से मारपीट करने लगा। जिसके बाद पुलिस को बुलाया गया। जब पुलिस विकास को लेकर जा रही थी इस दौरान उसने लोगों को चिल्ला कर बताया कि मैं विकास दुबे हूं, कानपुर वाला।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विकास दुबे ने स्थानीय मीडिया को अपने सरेंडर की खबर दी थी। इसके बाद उज्जैन के महाकाल थाने के पास उसने स्थानीय पुलिस के सामने सरेंडर किया। पुलिस ने आरोपी विकास दुबे को गिरफ्तार कर लिया है और उसे महाकाल थाने में लेकर आई। सरेंडर की खबर के बाद एसटीएफ की टीम उज्जैन रवाना हो गई है। मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन से विकास दुबे की गिरफ्तारी पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। मध्य प्रदेश पुलिस उसे उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपेगी।

विकास कि गिरफ्तारी पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि जिनको लगता है कि महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धूल जाएंगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं। हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख़्शने वाली नहीं है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19 का हर मरीज 1.19 को कर रहा संक्रमित, मार्च के बाद पहली बार बढ़ी कोरोना संक्रमण दर, कर्नाटक में सबसे ज्यादा
2 हॉट स्प्रिंग्स के PP15 से दो किलोमीटर पीछे हटी भारत-चीन की सेना, ड्रैगन ने उखाड़े टेंट, समेटे साजो-सामान
3 एकांतवास नियमों से सीडीएस का साक्षात्कार देने वाले उम्मीदवार दुखी
ये पढ़ा क्या?
X