ताज़ा खबर
 

विजय माल्‍या बोले- मीडिया मुझे UK में खोज रहा है, बेकार की कोशिश मत करो, मैं बात नहीं करने वाला

बैंकों का 9 हजार करोड़ का कर्ज नहीं लौटाने को लेकर विवादों में घिरे विजय माल्‍या इस समय देश में नहीं है। आरोप है कि वह देश छोड़कर जा चुके हैं।

Author नई दिल्‍ली | March 13, 2016 9:08 AM
शराब कारोबारी विजय माल्या (रॉयटर्स फाइल फोटो)

बैंकों का 9 हजार करोड़ का कर्ज नहीं लौटाने को लेकर विवादों से घिरे विजय माल्‍या ने एक बार फिर मीडिया पर निशाना साधा है। रविवार को उन्‍होंने ट्वीट किया, ‘यूके में मीडिया मेरा पीछा कर रहा है, लेकिन दुखद है वे सही जगह तलाश नहीं कर रहे हैं। मैं मीडिया से बात नहीं करूंगा, इसलिए बेकार में मेहनत न करें’

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 25000 MRP ₹ 26000 -4%
    ₹0 Cashback

इस बीच अक्टूबर, 2012 में बंद हुई किंगफिशर एयरलाइंस के कर्मचारियों ने नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मदद मांगी है। पीएम को लिखी चिट्ठी में इन लोगों ने अपील की है कि पीएम उनके मामले में दखल दें और मदद भी करें। इन लोगों का कहना है कि उन्हें इनकम टैक्स डिपार्टमेंट भी परेशान कर रहा है, जबकि गलती कंपनी की है। किंगफिशर के पूर्व इम्प्लॉइज का आरोप है कि उन्हें ड्यूज का पेमेंट नहीं किया गया। इसमें सैलरी के अलावा, प्रोविडेंट फंड और ग्रैच्युटी शामिल हैं।

विजय माल्‍या ने दो दिन पहले भी एक के बाद एक 6 ट्वीट किए थे। उन्‍होंने शुक्रवार सुबह ट्वीट कर सफाई दी थी कि वह इंटरनेशनल बिजनेसमैन हैं, इसलिए उनका विदेश आना-जाना लगा रहता है। वह भगोड़े नहीं हैं। माल्या ने मीडिया पर निशाना साधते हुए लिखा था, ‘मीडिया बॉसेज यह न भूलें कि उन्‍होंने कई साल उनकी मदद की है। ये सब डॉक्यूमेंटेड है। अब वे टीआरपी हासिल करने के लिए झूठ बोल रहे हैं।’

उन्‍होंने आगे लिखा था कि न्यूज रिपोर्ट्स में कहा गया है कि उन्‍हें अपनी संपत्ति घोषित करनी चाहिए। क्या इसके ये मायने हैं कि बैंकों को उनकी संपत्ति के बारे में नहीं पता नहीं या किसी ने उनका संसद में दिया गया हलफनामा नहीं देखा? माल्‍या ने यह भी लिखा है कि एक बार मीडिया आपके पीछे पड़ जाए तो सच और फैक्ट्स हवा में उड़ जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App