ताज़ा खबर
 

Video: कन्‍हैया कुमार बोले- शादी के बाद पत्‍नी और बच्‍चों का नाम रख दूंगा ”भारत माता की जय”

देशद्रोह के मामले में सशर्त जमानत पर रिहा किए गए कन्हैया ने कहा, ‘‘वे कहते हैं कि देश सबकुछ है, आपको ‘भारत माता की जय’ बोलना पड़ेगा, तो मैंने सोचा कि जब मैं शादी करूंगा तो मैं पत्नी को सुझाव दूंगा कि वह अपना नाम ‘भारत माता की जय’ रख ले।"

Author नई दिल्ली | April 11, 2016 11:23 am
जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार एक बार फिर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं।

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार एक बार फिर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। इस बार उन्‍होंने ‘भारत माता की जय’ को लेकर विवादित बयान दिया है। कन्हैया ने कहा कि वह अपनी पत्नी और बच्चों का नाम ‘‘भारत माता की जय’’ रखेंगे। देशद्रोह के मामले में सशर्त जमानत पर रिहा किए गए कन्हैया ने कहा, ‘‘वे कहते हैं कि देश सबकुछ है, आपको ‘भारत माता की जय’ बोलना पड़ेगा, तो मैंने सोचा कि जब मैं शादी करूंगा तो मैं पत्नी को सुझाव दूंगा कि वह अपना नाम ‘भारत माता की जय’ रख ले। मैं अपने बच्चों के नाम भी ‘भारत माता की जय’ रख दूंगा और अपना नाम भी ‘भारत माता की जय’ रख लूंगा। तो जब मेरे बच्चे स्कूल जाएंगे और शिक्षक उनसे उनके माता-पिता का नाम पूछेंगे तो जवाब में वे कहेंगे ‘भारत माता की जय’। इस तरह उन्हें नि:शुल्क शिक्षा मिलेगी और उन्हें फीस नहीं भरनी पड़ेगी।

Read Also:   JNU उपाध्यक्ष ने कहा- सियाचिन में मौतों के लिए भारत-पाकिस्तान को देना होगा जवाब 

एक टीवी चैनल से बातचीत में कन्‍हैया कुमार से सवाल पूछा गया तो उन्‍होंने कहा, ”देखिए सबसे पहली बात तो यह है कि मुझे भारत माता की जय से कोई आपत्ति नहीं है। मुझे आपत्ति इस बात से है कि इस देश के अंदर झूठ-मूठ का लोगों की भावनाओं से खेला जाता है। मैं समझता हूं कि हरेक भारतीय भारत की जय कहना चाहता है, भारत की मिट्टी की जय कहना चाहता है, भारत के लोगों की जय कहना चाहता है। इसमें कोई दो राय नहीं है। सवाल इससे है कि ऐसे मौके में जब इस देश के अंदर गरीबी है, इस देश के अंदर भुखमरी है, छुआछूत है, जातिवाद है, उन मुद्दों पर बात क्‍यों नहीं हो रही है। उन मुद्दों पर बहस क्‍यों नहीं होती है। हमारा सवाल है कि क्‍या भारत माता की जय कहने से हमारी गरीबी खत्‍म होगी।”

Read Also: बीजेपी के खिलाफ कन्हैया कुमार का मोर्चाः कहा- ये संघिस्तान बनाम हिंदुस्तान की लड़ाई है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App