ताज़ा खबर
 

JNU फीस बढ़ोतरी: छात्रों पर लाठीचार्ज, राष्‍ट्रपत‍ि भवन की तरफ बढ़ रहे थे प्रदर्शनकारी

आपको बता दें कि जेएनयू के छात्र छात्रवास की फीस बढ़ाए जाने के खिलाफ एक महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं

Author Edited By Nishant Nandan Updated: December 9, 2019 7:12 PM
जेएनयू के छात्रों पर पुलिस ने फिर लाठियां बरसाई हैं। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट, ANI

दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में फीस बढ़ोतरी के खिलाफ छात्रों के विरोध का मामला अभी ठंडा होता नहीं दिख रहा है। जेएनयू के छात्र लगातार छात्रावास की फीस बढ़ाए जाने और अपनी अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन पर अड़े हुए हैं। सोमवार (09-12-2019) को जेएनयू के छात्र अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर सड़क पर थे। इन छात्रों ने राष्ट्रपति भवन की तरफ मार्च करने का भी प्रयास किया। छात्र राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलकर फीस बढ़ोतरी संबंधित अपनी मांगों को रखना चाहते थे।

लेकिन छात्रों को राष्ट्रपति भवन जाने से रोकने में पुलिस के पसीने छूट गए। शुरू में पुलिस ने छात्रों को सझाने का प्रयास किया लेकिन जल्दी ही पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज करना शुरू कर दिया। पुलिस के द्वारा किये गये लाठीचार्ज का एक वीडियो भी सामने आया है।

इस वीडियो में पुलिस दौड़ा-दौड़ा कर छात्रों को डंडे से पीटती नजर आ रही है। काफी देर तक दिल्ली की सड़क रणभूमि में तब्दील रही और छात्रों को वहां से हटाने में पुलिस वालों के पसीने छूटते रहे। वीडियो में नजर आ रहा है कि विश्वविद्यालय की छात्राएं भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं और पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ विरोध जता रही हैं।

इधर कि छात्रों के इस प्रदर्शन को देखते हुए तीन मेट्रो स्टेशन केंद्रीय सचिवालय, लोक कल्याण मार्ग और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशन को थोड़ी देर के लिए बंद भी किया गया। इतना ही नहीं जेएनयू के पास भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी।

आपको बता दें कि जेएनयू के छात्र छात्रावास की फीस बढ़ाए जाने के खिलाफ एक महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं और उन्होंने प्रशासन की बार-बार चेतावनियों के बावजूद आगामी सेमेस्टर परीक्षाओं का बहिष्कार करने का भी आह्वान किया है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने जेएनयू में सामान्य कामकाज बहाल करने और प्रदर्शनरत छात्रों तथा प्रशासन के बीच मध्यस्थता करने के तरीकों को तलाश करने के लिए तीन सदस्यीय समिति भी गठित की है।

समिति ने मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है लेकिन अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मुख्यमंत्री ने मनाया कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जन्मदिन, तोहफे में बांटा एक-एक किलो प्‍याज
2 ‘मुस्लिमों को गलत दी गई 5 एकड़ जमीन’ हिंदू महासभा का दावा, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर की रिव्यू पिटिशन
3 जीएसटी क्षतिपूर्ति मिलने में देरी से नाराज राज्यों ने कसी कमर, अपनी-अपनी विधानसभा में प्रस्ताव के जरिये केंद्र पर बनाएंगे दबाव
ये पढ़ा क्या?
X