ताज़ा खबर
 

वीडियो: बंदूक की नोक पर आतंकियों ने कथित तौर पर कश्मीरी नागरिकों से लगवाए भारत विरोधी नारे

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक पीडीपी नेताओं ने बताया कि कथित तौर पर बंदूकों से लैस कुछ लोग पीडीपी कार्यकर्ता वली मोहम्मद भट के घर घुस आए।

Author Updated: April 16, 2017 6:09 PM
कश्मीरियों से बंदूक की नोक पर भारत विरोधी नारे लगवाए गये। (Source-TWITTER GRAB)

जम्मू-कश्मीर से फिर से दो भड़काऊ वीडियो आए हैं। इस वीडियो में कथित तौर पर सत्तारुढ़ पीडीपी का एक कार्यकर्ता और एक स्थानीय व्यापारी बंदूक की नोक पर भारत के खिलाफ नारेबाजी करते नजर आ रहे हैं। दक्षिण कश्मीर से आया ये वीडियो सोशल मीडिया में धीरे धीरे वायरल हो रहा है। अंग्रेजी वेबसाइट एनडीटीवी की रिपोर्ट्स के मुताबिक पीडीपी का कहना है कि ये वीडियो कथित तौर पर लगभग 15 दिन पहले रिकॉर्ड किये गये हैं। इस वीडियो के सामने आने के बाद पीडीपी कार्यकर्ता ने सामने आना बंद कर दिया है। बता दें कि श्रीनगर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव का अलगाववादियों और कश्मीरी आतंकवादियों ने विरोध किया था। इस उपचुनाव में खूब हिंसा हुई थी और 8 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक पीडीपी नेताओं ने बताया कि कथित तौर पर बंदूकों से लैस कुछ लोग पीडीपी कार्यकर्ता वली मोहम्मद भट के घर घुस आए। इस वीडियो में भट डरे हुए दिख रहे हैं, एक शख्स उनके सामने एके- 47 लहराता हुआ दिख रहा है। वीडियो में भट कथित तौर पर भारत के खिलाफ नारे लगा रहे हैं। कैमरे के पीछा खड़ा शख्स भट को नारे लगाने के लिए कह रहा है और डरे सहमे भट वैसा ही कर रहे हैं। एक दूसरे वीडियो में बशीर अहमद वानी नाम का एक ट्रेड यूनियन लीडर भी कथित तौर पर भारत के खिलाफ नारे लगाते दिख रहे हैं। इस वीडियो में भी वानी के सामने बंदूक तानी गई हैं और वो डर के मारे कथित तौर पर नारे लगा रहे हैं। इस वीडियो को देखकर ही लगता है इन दोनों शख़्स से ये नारे कथित तौर पर जबरन लगवाये गये हैं।

देखिए संबंधित वीडियो

इस मामले में पुलिस ने अबतक कोई केस दर्ज नहीं किया है। पुलिस के मुताबिक पीडीपी कार्यकर्ता भट ने भी अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। बता दें कि श्रीनगर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में इस बार बेहद कम मतदान हुआ था। 9 अप्रैल को हुई वोटिंग में मात्र 7 फीसदी लोगों ने ही वोट डाला था। वोटिंग के रोज 200 से ज्यादा हिंसा की घटनाएं रिकॉर्ड की गई थी। दरअसल अलगाववादियों और आतंकवादियों की ओर से बॉयकाट के ऐलान के बाद बहुत कम ही लोग वोट डालने निकले थे।

श्रीनगर: शहीद हवलदार सतनाम सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की गई

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 श्रीनगर: पथराव के बाद बीएसएफ जवानों ने चलाई गोलियां, एक युवक की मौत
जस्‍ट नाउ
X