ताज़ा खबर
 

12 घंटे तक पेड़, पत्थर पकड़ कर बैठा रहा, एयरफोर्स ने Mi-17 हेलीकॉप्टर के जरिये बचाई जान

बिलासपुर जिले के पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने मंगलवार को बताया कि पुलिस को जानकारी मिली कि ग्रामीण जितेंद्र कश्यप (43) रविवार शाम को जिले के खुंटाघाट बांध से अतिरिक्त पानी छोड़ने के लिए बनाए गए स्थान पर कूद गया था।

Author Updated: August 17, 2020 7:38 PM
IndianAir Force,man,Bilaspur,Chhattisgarh,छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में बांध से पानी छोड़ने से तेज बहाव की चपेट में आए एक व्यक्ति ने पेड़ों को पकड़ कर अपनी जान बचाई।(फोटो-Twitter)

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में बांध से पानी छोड़ने से तेज बहाव की चपेट में आए एक व्यक्ति ने पेड़ों को पकड़ कर अपनी जान बचाई और 12 घंटे बाद वायुसेना के हेलीकॉप्टर की मदद से उसे बाहर निकाला गया। बिलासपुर जिले के पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने मंगलवार को बताया कि पुलिस को जानकारी मिली कि ग्रामीण जितेंद्र कश्यप (43) रविवार शाम को जिले के खुंटाघाट बांध से अतिरिक्त पानी छोड़ने के लिए बनाए गए स्थान पर कूद गया था।

वह तेज बहाव की चपेट में आ गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कश्यप ने किसी तरह वहां पत्थरों और पेड़ को पकड़कर अपनी जान बचाई, लेकिन वह वहां 12 घंटे तक फंसा रहा।उन्होंने बताया कि जब पुलिस को इस घटना की जानकारी मिली तब कश्यप को वहां से निकालने के लिए राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के दल को भेजा गया। वहीं साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल) और राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (एनटीपीसी) का दल भी वहां पहुंच गया था।

अधिकारी ने बताया कि जब कश्यप को बचाने की कार्रवाई शुरू की गई तब खराब मौसम और पानी के तेज बहाव के कारण बचाव कार्य में परेशानी का सामना करना पड़ा। रात तक बचाव दल कश्यप तक नहीं पहुंच पाया था। बाद में कश्यप को बचाने के लिए वायुसेना की मदद लेने का फैसला किया गया।

अग्रवाल ने बताया कि वायुसेना के एक एमआई -17 हेलीकॉप्टर ने सुबह लगभग 5:49 बजे रायपुर से उड़ान भरी और सुबह करीब 6:37 बजे फंसे हुए व्यक्ति को रस्सी के सहारे वहां से निकाल लिया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वायुसेना के हेलीकॉप्टर की मदद से इस बचाव कार्य में लगभग 20 मिनट लगा और हेलीकॉप्टर सुबह 7:35 बजे वापस रायपुर पहुंच गया। अधिकारी ने बताया कि कश्यप को रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत के पुरोधा पंडित जसराज का देहांत, अमेरिका में ली अंतिम सांस
2 नहीं रहे ‘दृश्यम’, ‘मदारी’ फेम डायरेक्टर निशिकांत कामत, दो साल से थी लिवर सिरोसिस बीमारी
3 वकील ने नहीं पहना था एडवोकेट बैंड, SC जज ने सुनवाई से किया इन्कार, कहा- प्रॉपर ड्रेस में आएं
ये पढ़ा क्या?
X