ताज़ा खबर
 

खुद को जवान बताने वाले शख्स का दावा: साथी का हो रहा टॉर्चर, पागल करार देने की साजिश कर रहे BSF वाले

वीडियो में दावा किया गया कि पीड़ित को पागल कराकर करके मार भी दिया जा सकता है।

इसी युवक ने वह वीडियो बनाया है। (Photo Source: Facebook)

सीआरपीएफ जवान पंकज मिश्रा के बाद अब खुद को बीएसएफ जवान बताने वाले एक शख्स का वीडिया सामने आया है। फेसबुक पेज ‘।सीमा सुरक्षा बल ।’ पर शेयर किए गए वीडियो में युवक ने एक फौजी टीशर्ट पहनी है। युवक ने वीडियो में बीएसएफ में भ्रष्टाचार और सीनियर अधिकारियों के अत्याचार की बात कह रहा है। वीडियो में युवक ने बताया कि बीएसएफ के एक एएसआई को टॉर्चर किया जा रहा है। साथ ही कहा कि उस एएसआई की जान खतरे में है।

युवक ने वीडियो में कहा, ‘126वीं बटालियन में एक एएसआई साहब की जान खतरे में है। उन्हें पिछले एक महीने से बहुत ज्यादा टॉर्चर किया जा रहा है। ये तानाशाह सारे एक होकर उनका खून चूस रहे हैं। उन्होंने हर जगह अपनी शिकायत दर्ज करवा दी है, लेकिन कोई सुन नहीं रहा है। वहां पर उनको यह बोला जा रहा है कि तुम्हारी औकात क्या है। उन्होंने अपने जीवन के 30 साल यानि अपनी पूरी जिंदगी और जवानी बीएसएफ को दे दी और आप पूछ रहे हैं कि तुम्हारी औकात क्या है। सीओ साहब गाली देकर उनसे बात करते हैं। उनकी गलती क्या है? उनकी गलती ये ही है कि जो उन्होंने जो गलत हो रहा है, उसकी शिकायत कर दी। लेकिन ये लोग उनके पीछे पड़ गए। अब डॉक्टर से उनका जबरन मेडिकल करवाकर, उन्हें हायपर टेंशन की कैटेगरी में डाल दिया गया। हो सकता है कि कल को उन्हें पागल बताकर टॉर्चर करेंगे या फिर उन्हें परसों मारकर कह दें कि उन्होंने सुसाइड कर लें। जांच भी होगी तो बताया जाएगा कि घरेलू समस्या की वजह से उन्होंने सुसाइड कर लिया। लेकिन इस केस में ऐसा नहीं होगा। क्योंकि मेरे पास उनके टॉर्चर के पूरे सबूत हैं।’

साथ ही कहा, ‘आप क्या कहना चाह रहे हैं? अगर उन्होंने कोई गलती की है तो उन्हें सजा दी जाए, टॉर्च क्यों कर रहे हैं। कल को उन्होंने कोई गलत कदम उठा लिया तो वह सुसाइड नहीं होगा, बल्कि योजना के तहत हत्या होगी। इसके लिए बीएसएफ के अधिकारी, आईजी, डीजी और उनके कमांडेट जिम्मेदार होंगे। इस वीडियो को मैं गृहमंत्रालय तक पहुंचाऊंगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App