ताज़ा खबर
 

VIDEO: अनशन में स्नैक्स के मजे लेते दिखे बीजेपी विधायक, पकड़े जाने पर दी यह सफाई

इस मामले पर विधायकों से बात की गई तो उन्होंने माना कि उन लोगों ने गलती से स्नैक्स खाया था। विधायकों ने सफाई देते हुए कहा कि बैठकों के दौरान स्नैक्स सर्व किया जाता है। इसलिए जैसे ही स्नैक्स आया तो उन लोगों ने खाना शुरु कर दिया।
बैठक के दौरान की तस्वीर। (image source-Express photo by arul horizon)

जिस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य भाजपा नेता विपक्ष द्वारा संसद ना चलने देने के विरोध में गुरुवार को एक दिन का उपवास रख रहे थे, उसी दौरान दो भाजपा विधायक एक मीटिंग के दौरान स्नैक्स खाते नजर आए। यह घटना 12 अप्रैल की है, जब महाराष्ट्र के पुणे में राज्य सरकार में मंत्री गिरीश बापट विधायकों की एक बैठक ले रहे थे। इसी दौरान 2 भाजपा विधायक बाला भेगाडे और भीमराव तापकिर कुछ स्नैक्स खाते नजर आए। बता दें कि कुछ दिनों पहले कांग्रेस नेताओं ने भी दिल्ली में उपवास रखा था, लेकिन उपवास से पहले कांग्रेस नेताओं की छोले भठूरे खाने की तस्वीरें वायरल हुई थी, जिस पर काफी बवाल हुआ था। अब भाजपा नेता भी कुछ इसी तरह से उपवास के दौरान स्नैक्स खाते नजर आए।

बाद में जब इस मामले पर विधायकों से बात की गई तो उन्होंने माना कि उन लोगों ने गलती से स्नैक्स खाया था। विधायकों ने सफाई देते हुए कहा कि बैठकों के दौरान स्नैक्स सर्व किया जाता है। इसलिए जैसे ही स्नैक्स आया तो उन लोगों ने खाना शुरु कर दिया। विधायक तापकिर ने साफ किया कि उपवास भाजपा विधायकों के लिए नहीं था, लेकिन उन लोगों ने अपनी इच्छा से उपवास रखा था, लेकिन गलती से स्नैक्स खा लिया। मंत्री गिरीश बापट का भी कहना है कि विधायकों ने गलती से स्नैक्स खाए। वहीं भाजपा विधायकों द्वारा उपवास के दौरान स्नैक्स खाने पर कांग्रेस ने निशाना साधा है। कांग्रेस के प्रवक्ता का कहना है कि अगर कोई उपवास शुरु होने से 3 घंटे पहले कुछ खाए तो इस पर आपत्ति है, लेकिन अगर कोई उपवास के बीच में खाएं तो ठीक है? कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा का आज का उपवास कार्यक्रम बकवास था।

बता दें कि भाजपा का आरोप है कि कांग्रेस संसद को चलने नहीं दे रही है। कांग्रेस जहां पीएनबी बैंक घोटाले को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है, वहीं वाईएसआर और तेदेपा आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की मांग और केन्द्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के मुद्दे पर हंगामा कर रही है। इस हंगामे के कारण संसद के बजट सत्र का काफी समय बर्बाद हो चुका है। यही वजह है कि भाजपा ने संसद ना चलने देने के विरोध में 12 अप्रैल को एक दिन का उपवास रखने का ऐलान किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App