ताज़ा खबर
 

तुम कश्मीर गए नहीं, फोन लग रहा नहीं फिर घाटी के हालात कैसे मालूम? डिबेट में पैनलिस्ट पर उखड़े RSS समर्थक

Article 370: विपक्ष का कहना है कि केंद्र को तस्वीर साफ करनी चाहिए वहां हालात सामान्य नहीं है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी का भी कहना है कि जम्मू कश्मीर में हालात काफी खराब हैं।

Jammu kashmirजम्मू कश्मीर में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त हैं। (PTI Photo/S. Irfan)

Article 370:  जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल पास होने के बाद से वहां के हालात को लेकर टीवी चैनल और अन्य जगह पर बहस हो रही है। केंद्र सरकार का जहां दावा  है कि वहां हालात सामान्य हैं तो विपक्ष का कहना है कि केंद्र को तस्वीर साफ करनी चाहिए वहां हालात सामान्य नहीं है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी का भी कहना है कि जम्मू कश्मीर में हालात काफी खराब हैं। वहां की खबरें छिपाई जा रही हैं। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी को पूरी पारदर्शिता के साथ देश की जनता को बताना चाहिए कि जम्मू कश्मीर में क्या हो रहा है।

इसी कड़ी में एक न्यूज चैनल पर बहस के दौरान आरएसएस के जानकार अवनिजेश अवस्थी और राजनीतिक विशलेषक चेतन सिंह आपस में उलझते नजर आए। इस दौरान आरएसएस के जानकार अवस्थी पैनलिस्ट चेतन पर उखड़े नजर आए और पूछा कि तुम कश्मीर गए नहीं, फोन लग रहा नहीं फिर घाटी के हालात कैसे मालूम?

दरअसल , वीडियो में नजर आ रहा है कि कश्मीर के हालात पर टीवी में डिबेट हो रही है इस दौरान टीवी एंकर  कहती हैं कि जम्मू कश्मीर में शांति का माहौल है और हालात काबू में हैं लेकिन आप लोगों को शांति नहीं है? एंकर ने चेतन सिंह से पूछते हुए कहा कि कश्मीर में धीरे-धीरे जिंदगी पटरी पर लौट रही है। लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं। हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं फिर भी आप लोगों को चैन नहीं है?
इस पर चेतन सिंह ने जवाब देते हुए कहा कि वहां जबरदस्त  असंतोष का माहौल है।  इसपर आरएसएस के जानकार अवनिजेश अवस्थी भड़क गए और बोले तुम वहां गए थे क्या जो तुम्हे पता है कि वहां असंतोष है। वहां फोन लाइन बंद है और जब वहां गए भी नहीं हो तो कैसे कह सकते हो कि वहां के हालात खराब हैं?

Next Stories
1 अनुच्छेद 370 खत्म करने वाला बिल पेश करते वक्त संसद में लग रहा था डर, अमित शाह का खुलासा
2 J&K Lock Down: ईद से पहले की ये तस्वीरें बयां कर रहीं कश्मीर घाटी की दास्तां
3 दिल्ली में नाराज लोगों ने मंत्री को बनाया बंधक, आधे घंटे तक कार में रखा बंद
यह पढ़ा क्या?
X