ताज़ा खबर
 

गोपाल कृष्ण गांधी ने राज्यसभा टीवी को लिखा- उपराष्ट्रपति चुनाव से पहले वेंकैया नायडू और मेरी डिबेट कराइए

यह विचार-विमर्श आपसी समझदारी पर होना चाहिए न कि पार्टी राजनीति और व्यक्तिगत से ऊपर उठकर।

गोपाल कृष्ण गांधी (फाइल फोटो)

विपक्ष के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और महात्मा गांधी के पोते गोपालकृष्ण गांधी नेशनल डेमोक्रेटिक एलायंस (एनडीए) के उम्मीदवार वेंकैया नायडू से टीवी चैनल पर बातचीत करना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने राज्य सभा टीवी को एक पत्र भी लिखा है। पत्र में गोपालकृष्ण गांधी ने साफ कहा है कि वह पैनल डिसकशन होगा कोई डिबेट नहीं। गोपालकृष्ण गांधी ने तर्क दिया है कि इस प्रोग्राम को देखने वाले दर्शकों को भी बहुत ही नई जानकारी मिलेंगी। पत्र में गोपालकृष्ण गांधी ने लिखा है, ‘मेरी इच्छा है कि राज्य सभा टीवी पैनल डिसकशन करवाए। यह डिबेट ना होकर बातचीत होनी चाहिए।’

गोपालकृष्ण ने लिखा राज्यसभा टीवी द्वारा किसी भी एंकर की अगुवाई में मेरे और वेंकैया नायडू के बीच बातचीत कराई जाए। अपने इस पत्र में गोपालकृष्ण ने आगे लिखा कि यह विचार-विमर्श आपसी समझदारी पर होना चाहिए न कि पार्टी राजनीति और व्यक्तिगत से ऊपर उठकर। पहले से रिकॉर्ड किए जाने वाले इस विचार-विमर्श में दोनों के बीच सम्मान और दोस्ती दिखनी चाहिए, जो कि 5 अगस्त, 2017 को होने वाले उपराष्ट्रपति चुनावों में सांसद नायडू की मदद कर सके। वैसे यह कहना अनावश्यक है कि यह बड़े पैमाने पर जनता के लिए बहुत रुचि पैदा करेगा।

गोपालकृष्ण गांधी से पहले 1987 में राष्ट्रपति उम्मीदवार जस्टिस वीआर कृष्ण अय्यर ने कांग्रेस उम्मीदवार आर वेंकटरमन और तीसरे उम्मीदवार मिथिलेश कुमार सिन्हा के साथ दूरदर्शन और एआईआर पर साथ में इंटरव्यू कराने का सुझाव दिया था ताकि तीनों साथ में बैठकर अपना-अपना दृष्टिकोण रख सकें लेकिन तत्कालीन केंद्र सरकार ने उनके इस सुझाव को ठुकरा दिया था। खैर उस समय तो सुझाव को ठुकरा दिया गया था लेकिन अब यह देखना बहुत ही दिलचस्प होगा कि क्या राज्यसभा टीवी गोपालकृष्ण गांधी के इस सुझाव को मानता है या नहीं और अगर मानता है तो वेंकैया नायडू और गोपालकृष्ण गांधी के बीच होने वाली डिबेट को देखना बहुत ही रोचक होगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी बोले- वंदे मातरम गाने से इनकार करने वाला नहीं है देशद्रोही
2 34वीं मन की बात में बोले मोदी- गरीबी, भुखमरी, गंदगाी, संप्रदायवाद, जातिवाद भारत छोड़ो
3 PHD स्वीपर: जावड़ेकर बोले- मतलब उसे कुछ नहीं पढ़ाया गया, प्रोफेसर ने कहा- रोजगार देने में सरकार नाकाम
ये पढ़ा क्या?
X