scorecardresearch

रोहिंग्या हैं देश के लिए खतरा- बोले VHP नेता तो AIMIM के वारिस पठान ने कहा- भारत दिखाए बड़ा दिल

Rohingya: एआईएमआईएम प्रवक्ता वारिस पठान ने कहा कि अगर चाहते हैं कि यूनाईटेड नेशन में भारत को सीट मिले, तो हमें दिल बड़ा रखना पड़ेगा। हमारे देश के अंदर कई नागरिकताओं के लोग आकर बसे हैं।

रोहिंग्या हैं देश के लिए खतरा- बोले VHP नेता तो AIMIM के वारिस पठान ने कहा- भारत दिखाए बड़ा दिल
कैंप में रोहिंग्या शरणार्थी (Express photo by Gajendra Yadav)

Rohingya: रोहिंग्या शरणार्थियों का मुद्दा एक बार फिर उठ गया है। इस पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह के ट्वीट ने बवाल मचा दिया है। इसे लेकर हो रही एक टीवी डिबेट में विश्व हिंदु परिषद ने रोहिंग्याओं को देश के लिए खतरा बताया है। तो वहीं, एआईएमआईएम प्रवक्ता वारिस पठान ने कहा कि भारत को बड़ा दिल दिखाना चाहिए।

वीएचपी प्रवक्ता श्रीराज नायर ने कहा कि रोहिंग्याओं को घुसपैठिए मानते हैं। इनको भारत से खदेड़ना चाहिए, ये हमेशा हमारी मांग रही है और रहेगी। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा के लिए ये खतरा हैं और रोहिंग्या मुसलमानों को देश के अंदर एक इंच भूमि नहीं देनी चाहिए। फ्लैट देना तो दूर की बात है।

वहीं, हरदीप सिंह पुरी के ट्वीट को लेकर उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय की तरफ से स्पष्टीकरण आ चुका है कि सरकार ऐसी कोई योजना नहीं बना रही है। श्रीराज ने कहा कि घुसपैठिओं को विशेषकर बांग्लादेशी रोहिंग्या मुसलमानों को भारत में एक इंच भूमि नहीं मिलेगी। ये हमारी मांग है।

वहीं, एआईएमआईएम प्रवक्ता वारिस पठान ने कहा कि अगर चाहते हैं कि यूनाईटेड नेशन में भारत को सीट मिले, तो हमें दिल बड़ा रखना पड़ेगा। या हमारे देश के अंदर कई नागरिकताओं के लोग आकर बसे हैं और रोहिंग्या बरसों से यहां पर हैं।

उन्होंने कहा कि भारत ने पहले भी कई लोगों को शरण दी है, जब सबको शरण दे सकते हैं तो मुसलमानों को क्यों नहीं, वो इंसान नहीं हैं क्या।

बता दें कि केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने अपने ट्वीट में कहा था कि केंद्र सरकार ने रोहिंग्या शरणार्थियों को दिल्ली के बक्करवाला इलाके में बुनियादी सुविधाएं देने का फैसला किया है। उन्होंने इसे ऐतिहासिक बताया था। उन्होंने यह भी कहा था कि रोहिंग्या शरणार्थियों को चौबीसों घंटे सुरक्षा वाले फ्लैटों में स्थानांतरित करने का फैसला किया गया है। हालांकि, बाद में गृह मंत्रालय ने एक ट्वीट कर कहा कि सरकार रोहिंग्या शर्णार्थियों को फ्लैट देने की कोई योजना नहीं बना रही।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.