ताज़ा खबर
 

कश्मीर घाटी में की जाए कारपेट बॉम्बिंग, तभी पस्त होंगे आतंकी- प्रवीण तोगड़िया

विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष तोगड़िया ने सरकार से अनुरोध किया है कि वह सुरक्षा बलों के साथ ‘युद्ध’ लड़ रहे आतंकवादियों के खिलाफ अभियान चलावे।

Author April 29, 2017 2:26 PM
विश्‍व हिंदू परिषद के अंतरराष्‍ट्रीय कार्यकारी अध्‍यक्ष प्रवीण तोगड़िया। (फाइल फोटो)

विश्व हिन्दू परिषद् के नेता प्रवीण तोगड़िया ने घाटी में आतंकवादियों को रोकने के लिए सरकार से वहां कारपेट बॉम्बिंग करने की मांग की है। शुक्रवार (28 अप्रैल) को भगवान परशुराम जयंती के अवसर पर यहां आयोजित एक कार्यक्रम से इतर तोगड़िया ने कहा, ‘‘उरी और कुपवाड़ा में सैन्य शिविरों पर हमलों के बाद सरकार को ऐसे हमले रोकने के लिए कश्मीर घाटी में सघन बमबारी यानी कारपेट बॉम्बिंग करनी चाहिए। सैन्य शिविरों पर हमले और पथराव की घटनाओं को युद्ध समझा जाना चाहिए और सरकर को इन क्षेत्रों में सघन बमबारी करनी चाहिए।’’ बता दें कि पिछले कुछ दिनों में कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियां बढ़ गई हैं। गुरुवार (27 अप्रैल) को आतंकियों ने कुपवाड़ा में सेना के शिविर पर हमला किया था, इस हमले में सेना के तीन जवान शहीद हो गये थे। हालांकि सेना ने 2 आतंकियों को भी मार गिराया था। आतंकियों ने यहां आर्मी कैम्प में घुसने की कोशिश की थी लेकिन ड्यूटी पर तैनात जवानों ने आतंकियों की इस कोशिश को नाकाम कर दिया।

HOT DEALS
  • Gionee X1 16GB Gold
    ₹ 8990 MRP ₹ 10349 -13%
    ₹1349 Cashback
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 24990 MRP ₹ 30780 -19%
    ₹3750 Cashback

विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष तोगड़िया ने सरकार से अनुरोध किया है कि वह सुरक्षा बलों के साथ ‘युद्ध’ लड़ रहे आतंकवादियों के खिलाफ अभियान चलावे।उन्होंने कहा कि कश्मीर में सेना और नागरिकों के बीच विरोध बढ़ रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘अब वक्त आ गया है कि हमें कोई नरमी नहीं दिखानी चाहिए और उनपर सघन बमबारी करनी चाहिए, वरना दुश्मन अन्य राज्यों में भी फैल जाएंगे और देश को दो हिस्सों में बांटने का प्रयास करेंगे।’’

तोगड़िया ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से 2015 में घोषित जम्मू-कश्मीर के लिए 80,000 करोड़ रूपये के विकास पैकेज की समीक्षा की मांग की।उन्होंने कहा, ‘‘इस धन का प्रयोग देश के किसानों के कल्याण हेतु किया जाना चाहिए, क्योंकि कई राज्यों में किसानों की हालत बहुत खराब है। किसान अपना कृषि ऋण माफ करवाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं। वे आत्महत्या कर रहे हैं।’’

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर, 1 नागरिक की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App