ताज़ा खबर
 

मंत्री वेंकैया नायडू ने सरकारी नोट में पीएम नरेंद्र मोदी को बताया मसीहा, अमित शाह की भी तारीफ की

नरेंद्र मोदी सरकार दो महीने बाद अपने तीन साल पूरे करने जा रही है। इसी संबंध में यह पत्र लिखा गया है।

केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू। (पीटीआई फाइल फोटो)

सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने एनडीए सरकार के सत्ता में तीन साल पूरे होने एक पत्र लिखा है, जिसमें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और हाल ही में हुए चुनावों में भाजपा के शानदार प्रदर्शन का जिक्र किया है। नायडू के पत्र में कहा गया है कि लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को “मसीहा” के रूप में देखते हैं। केबिनेट मंत्रियों को लिखे गए संबोधन पत्र की शुरुआत इस तरह होती है: ‘हम सभी के लिए हाल में आए जनादेशों के नतीजों से बेहतर कुछ नहीं हो सकता, जिसमें लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह पर एक बार फिर भरोसा दिखाया है।’

नायडू ने आगे लिखा, “देश की मनोदशा पूरी तरह से भाजपा और पीएम मोदी के समर्थन में है। लोग उन्हें अपने मसीहा के तौर पर देखते हैं। हम सभी को टीम मोदी में होने का गर्व है, जिनके अथक प्रयास से लाखों लोगों की किस्मत बदल गई, जिस पार्टी को अब तक पूर्व सरकारें नजर अंदाज करती रहीं वो सबसे आगे है।” पिछले साल मार्च में भी नायडू ने भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारी में मोदी को भारत के लिए भगवान का तोहफा और गरीबो का महीसा बताया था।

बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार दो महीने बाद अपने तीन साल पूरे करने जा रही है। इस पर सरकार की उपलब्धियों को जनता तक पहुंचाने की पूरी तैयारी शुरू हो गई है। इस काम के लिए करीब एक दर्जन मंत्रियों की टीम का गठन किया गया है। इन मंत्रियों को अपने मंत्रालय के साथ-साथ सरकार के सभी बड़े कामों का रिपोर्ट कार्ड बनाने के निर्देश दिए गए हैं। वेंकैया नायडू इस टीम का संचालन कर रहे हैं। इसी संबंध में नायडू ने एक संबोधन पत्र साथी मंत्रियों को लिखा है। उन्होंने लिखा है, ‘दो साल में हमारी सरकार के तीन साल पूरे हो जाएंगे। लोगों को हमारी सरकार के बारे में राय कायम करने और अपने जीवन पर हमारी सरकार के प्रभाव के बारे में फैसला करने के लिहाज से तीन साल का समय पर्याप्त होता है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X