ताज़ा खबर
 

बागी MLA हरक सिंह ने स्टिंग जारी कर हरीश रावत पर लगाया खरीद-परोख्त का आरोप, CM ने बताया झूठ

हरक सिंह ने कहा कि हम नौ विधायकों के साथ ही कुछ भाजपा विधायकों को खरीदने की कोशिश की जा रही है और हमें धमकियां भी मिल रही हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: March 26, 2016 7:22 PM
विधायक हरक सिंह रावत ने सीएम हरीश रावत पर खरीद फरोख्त का आरोप लगाया है। (Photo Source: ANI)

उत्तराखंड में कांग्रेस बागी विधायक हरक सिंह रावत ने शनिवार को सीएम हरीश रावत पर खरीद फरोख्त का आरोप लगाया है। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सिंह ने एक स्टिंग भी जारी है। उन्होंने कहा कि हम नौ विधायकों के साथ ही कुछ भाजपा विधायकों को खरीदने की कोशिश की जा रही है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि हमें धमकियां मिल रही हैं। हमने हमारी सुरक्षा को लेकर सरकार के सामने चिंता जाहिर की है और हमारी सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम करने के लिए बोला है।

स्टिंग के वीडियो में सीएम रावत बात करते हुए दिख रहे हैं। हालांकि, स्टिंग की ऑडियो साफ सुनने को नहीं मिल रही है। स्टिंग न्यूज चैनल समाचार प्लस द्वारा किया गया है। अभी स्टिंग पर कांग्रेस की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

खरीद-फरोख्त में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत की संलिप्तता दिखाने वाले स्टिंग आपरेशन के सामने आने के बाद उन्होंने खुद आगे आकर इसे झूठा बताया और कहा कि यह राज्य की निर्वाचित सरकार और मुख्यमंत्री का सर कलम करने पर तुली भाजपा नीत नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार, भाजपा प्रमुख अमित शाह, तथाकथित पत्रकार और बागी विधायकों के ‘नापाक गठबंधन’ की उपज है। रावत ने कहा, “स्टिंग आपरेशन की यह सीडी झूठी है । यह सब झूठ जो फैलाया जा रहा है, वह उत्तराखंड के राजनीतिक लोगों को ब्लैकमेल करने वाले तथाकथित पत्रकार, बागी विधायक, धनलोलुप और हर मुमकिन तरीके से राज्य की निर्वाचित सरकार और मुख्यमंत्री का सर कलम करने पर तुली हुई मोदी जी की भाजपा नीत केंद्र सरकार और शाह :अमित: के नापाक गठबंधन की उपज ह।’

पिछले एक सप्ताह से प्रदेश में बडे सियासी संकट से जूझ रही हरीश रावत सरकार द्वारा आगामी 28 मार्च को राज्य विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने से पहले सामने आये इस स्टिंग आपरेशन से राज्य मे हडकंप मच गया है । रावत ने स्टिंग आपरेशन करने वाले एक निजी टेलीविजन चैनल के पत्रकार पर भी निशाना साधा और कहा कि उन्होंने हर मुख्यमंत्री को दबाव में लेने का प्रयास किया है और दबाव में नहीं आने वाले मुख्यमंत्री को किसी न किसी प्रकार से इसी प्रकार की विपरीत परिस्थितियों से गुजरना पडा है। सीएम ने कहा, ‘हर मुख्यमंत्री को इन्होंने अपने दवाब में लेने की कोशिश की है और जो दवाब में नहीं आये, उन्हें कभी न कभी, किसी न किसी प्रकार से इसी प्रकार की परिस्थितियों से गुजरना पडा है या उनके खिलाफ इसी प्रकार के अस्त्र का इस्तेमाल करने की कोशिश की गयी है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories