ताज़ा खबर
 

उत्‍तर प्रदेश: घड़ी चुराते पकड़े गए शख्‍स से पूछी जाति, दलित बताया तो मार डाला

शिकायत में कहा गया है कि दुकानदार ने अवनीश से उसकी जाति पूछती और दलित बताने पर उसे पीटना शुरू कर दिया।

dalit boy killed, up dalit boy killed, dalit thrashing, una incident, schedule castes, dalit discrimination, akhilesh yadav govt, gau rakshak, dalit violence, india clashes, latest news, india news, latest newsइस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्‍मक तौर पर किया गया है। (Source: Agency)

उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक दलित युवक की पीट-पीटकर हत्‍या करने का मामला सामने आया है। 22 वर्षीय युवक पर एक दुकानदार और उसके साथियों ने एक मेले में लगाए गए स्‍टॉल से घड़ि‍यां चुराने का आरोप लगाया था। FIR के अनुसार, पहले आरोपियों ने अवनीश (पीड़‍ित) को पकड़ा। फिर उससे उसकी जाति पूछी। जब उसने कहा कि वह दलित है, तो कथित तौर पर अवनीश को पीटा गया और एक डंडे से सिर पर वार किया गया। चोट की वजह से उसकी मौत हो गई। अवनीश के पड़ोसी और शिकायतकर्ता, 14 वर्षीय प्रसून को उसे बचाने की कोशिश में चोटें आई हैं। बुधवार को पुलिस ने इस मामले में दुकानदार पुष्‍पेन्‍द्र सिंह और संजीव वर्मा को गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि घड़‍ियां सिंह की दुकान से चोरी हुई थीं। दोनों को गुरुवार (11 जुलाई) को अदालत के सामने पेश किया जाएगा। पुलिस अवनीश की पिटाई करने वाले दो अन्‍य आरोपियों की तलाश कर रही है।

गोला पुलिस स्‍टेशन प्रभारी अशोक पांडेय ने कहा कि अवनीश और प्रसून सोवार रात को गोला गोकर्णनाथ मंदिर और भूतनाथ मेला जाने के लिए निकले थे। पांडेय के मुताबिक, प्रसून ने उन्‍हें बताया है कि वह और अवनीश रात करीब दो बजे मेले के एक स्‍टॉल पर घड़ी खरीदने के लिए रुके। घड़‍ियां देखते वक्‍त कथित तौर पर अवनीश ने तीन घड़‍ियां उठाकर जेब में रख लीं। लेकिन उसे सिंह ने देख लिया और गालियां देना शुरू कर दिया। जल्‍द ही बाकी दुकानदार भी अवनीश की पिटाई में शामिल हो गए। लेकिन अवनीश समझाने की कोशिश करता रहा कि उसने घड़‍ियां जेब में रखीं और वह उसका पैसा देने ही जा रहा था जब पुष्‍पेन्‍द्र की नजर उसपर पड़ी। एेसा प्रसून ने अपनी शिकायत में लिखा है। शिकायत में कहा गया है कि दुकानदार ने अवनीश से उसकी जाति पूछती और दलित बताने पर उसे पीटना शुरू कर दिया।

READ ALSO: ‘मुझे गोली मार लो, दलितों को नहीं…’ वाले बयान पर घिर गए PM मोदी, लोगों ने कहा- दिल जुमला-जुमला हो गया

प्रसून ने पुलिस को बताया कि उसने बीच-बचाव करने की कोशिश की तो उसे भी पीटा गया, वह उनसे जान बचाने के लिए भाग गया। आरोपियों ने अवनीश को वहीं बेहोश छोड़ दिया। बाद में, कुछ दु‍कानदार अवनीश को जिला अस्‍पताल लेकर आए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मामले में चार के खिलाफ गैर-इरादतन हत्‍या और SC/ST (अत्याचार निवारण) एक्‍ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नाखून न कटवाने और मां से नहीं मिलने के संकल्प पर अब भी कायम हैं शर्मिला
2 मणिशंकर अय्यर का मोदी सरकार पर हमला, कहा-कश्‍मीर हमारी समस्‍या है, पाकिस्‍तान को दोष मत दें
3 गंगा में देशवासियों ने जो प्रदूषण फैलाया है, उसका पश्‍चाताप है नमामि गंगे: उमा भारती
IPL 2020: LIVE
X