ताज़ा खबर
 

बाढ़ पीड़‍ितों से सपा नेता बोले- हंसिया, चाकू लेकर तैयार रहो, जो बांध बनाने आए उसे वहीं मार दो

सपा प्रतिनिधिमंडल ने तब नकहरा गांव के पास हालात जाने-समझे और बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात की। सपा नेताओं ने पीड़ितों को आश्वासन दिलाया कि उन सभी की मदद की जाएगी।

सपा नेता विनोद कुमार सिंह को पंडित सिंह के नाम से भी जाना जाता है। (फोटोः फेसबुक)

उत्तर प्रदेश के गोंडा में समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता विनोद कुमार सिर्फ उर्फ पंडित सिंह की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। वजह उन्हीं का एक आपत्तिजनक बयान है। बाढ़ पीड़ितों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा, “हंसिया, चाकू लेकर तैयार रहो। जो भी बांध बनाने आए, उसे वहीं मार दो।” रविवार (पांच अगस्त) को वह सपा प्रतिनिधिमंडल के साथ बाढ़ प्रवाभित क्षेत्र में दौरान करने गए थे। यह दौरान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर किया गया। पूर्व मंत्री योगेश प्रताप सिंह भी तब मौजूद थे।

सपा प्रतिनिधिमंडल ने तब नकहरा गांव के पास हालात जाने-समझे और बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात की। सपा नेताओं ने पीड़ितों को आश्वासन दिलाया कि उन सभी की मदद की जाएगी। पंडित सिंह ने इसी बीच कहा, “हंसिया, चाकू और खुरपी लेकर तैयार रहिए। अगर कोई बांध बनाने आए, तो उसे वहीं पर मार डाला जाए। अब नई जगह बांध नहीं बनेगा।”

बकौल सपा नेता, “बीजेपी नेताओं यहां बांध बनाने का धंधा करने आए थे। अखिलेश की सरकार ने बांध के लिए 97 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी थी। मगर आज तक बांध का निर्माण नहीं हो सका। आरोप लगाते हुए सपा नेता बोले, “सीएम ने एक दिन के भीतर पीड़ितों की मदद का भरोसा दिया था, पर अभी तक कोई उन लोगों के हाल-चाल लेने भी न पहुंचा।”

आपको बता दें कि पंडित सिंह इससे पहले भी सुर्खियों में रहे हैं। साल 2015 में उन्होंने एक शख्स को ढाई मिनट तक 56 बार गालियां दी थीं। ये मामला मीडिया में खूब छाया था, जबकि 2013 में उन पर तत्कालीन जिलाधिकारी रोशन जैकब को धमकी देने का आरोप लगा था।

कौन हैं पंडित सिंहः सपा नेता पंडित सिंह का जन्म सात जनवरी 1962 को गोंडा के बल्लीपुर इलाके में हुआ था। स्नातक हैं। साल 1981 में सोना सिंह के साथ उनकी शादी हुई। गोंडा से साल 1996 में वह पहली बार विधानसभा सदस्य निर्वाचित हुए। आगे साल 2002 में उन्हें सपा का विधायक चुना गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App