ताज़ा खबर
 

रिपोर्टर ने पूछा सवाल तो अखिलेश यादव ने दिया जवाब- फिर बिक गए तुम, कितने में बिके? नाम बताओ चैनल का

हाथरस में युवती से छेड़छाड़ के मामले में जब एक रिपोर्टर ने समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव से सवाल किया तो पूर्व सीएम ने पत्रकार को बिका हुआ बता दिया।

bjp, uttar pradeshसमाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव। (Indian Express)।

हाथरस में युवती से छेड़छाड़ के मामले में जब एक रिपोर्टर ने समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव से सवाल किया तो पूर्व सीएम ने पत्रकार को बिका हुआ बता दिया। पत्रकार ने अखिलेश यादव से कहा कि 2018 में ही पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया था। इसके बाद अखिलेश यादव ने कहा, “बस इतने में बिक गए तुम। जो तुम बिक गए हो अपने चैनल का नाम बता दीजिए। अगर हैसियत है तो बताओ।” इसके बाद जब पत्रकार ने नाम बताया तो अखिलेश यादव ने कहा, “बिके हुए लोग हो तुम।” इसके बाद हाथरस मामले को लेकर पत्रकार और अखिलेश यादव उलझ गए। यादव ने कहा, “तुम लोग यहां आकर नाटक कर रहे हो।” यादव ने पत्रकार से कहा कि हम तुम्हारे मालिक को भी जानते हैं। पता नहीं विज्ञापन कैसे मिल जाता है तुम लोगों को?

एक अन्य पत्रकार के सवाल के जवाब में अखिलेश यादव ने कहा कि अगर ये सीएम से जाकर ऐसा सवाल करते तो वहीं इनका इलाज कर दिया जाता। हम तो नाश्ता करा देंगे। मालूम हो कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में एक युवती से छेड़छाड़ के मामले में पीड़िता के पिता को गोली मारे जाने से राज्य में सियासी भूचाल आ गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को समाजवादी पार्टी (सपा) बड़ा आरोप लगाया। बीजेपी के मुताबिक गोली मारने वाले आरोपी का समाजवादी पार्टी से संबंध है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा “ऐसा क्यों है कि अपराध की हर घटना में सपा का नाम सामने आता है?”योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश विधानसभा में राज्य के बजट पर बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को जवाब देते हुए कहा कि हाथरस की घटना का आरोपी सपा सदस्य था।

इससे पहले सपा अध्यक्ष ने कहा था कि राज्य की महिलाओं ने राज्य सरकार से न्याय की उम्मीद खो दी है। अखिलेश यादव ने ट्विटर पर अपने पोस्ट में पीड़िता का एक वीडियो शेयर किया था।

इससे पहले सोमवार को आरोपी गौरव शर्मा ने पीड़िता के 50 वर्षीय पिता की गोली मारकर हत्या कर दी थी। मृतक ने आरोपी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी कि आरोपी ने उनकी बेटी से छेड़छाड़ की थी।

मामले में पीड़िता का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को पुलिस अधिकारियों को आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के प्रावधानों को लागू करने का निर्देश देते हुए घटना की जांच के आदेश दिए।

Next Stories
1 राहुल गांधी की तकलीफ क्या है, आज समझा देता हूं, टीवी डिबेट में बोले पैनलिस्ट; कांग्रेस प्रवक्ता का ऐसा रहा र‍िएक्‍शन
2 मनोज जी से कल्चर पर बुलवाएं या गाने सुनवाएं, लाइव डिबेट में प्रोड्यूसर से पूछने लगे एंकर, लगे ठहाके
3 PM मोदी के ‘आंदोलनजीवी’ पर अखिलेश यादव को सफाई देने लगे एंकर अमिश देवगन, देखिए फिर क्या हुआ
ये पढ़ा क्या?
X