ताज़ा खबर
 

योगी सरकार के खिलाफ बोलने वाले डॉक्टर कफील खान पर पुलिस ने लगाया NSA, CAA के खिलाफ स्पीच देने पर 20 दिनों से जेल में बंद

कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी थी लेकिन रिहाई से पहले ही उनपर एनएसए लगा दी गई। कफील पर संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने का आरोप है।

Author Edited By मोहित लखनऊ | Updated: February 14, 2020 2:55 PM
डॉक्टर कफील खान। फोटो: Indian Express

संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ आवाज उठाने वाले डॉक्टर कफील खान के खिलाफ पुलिस ने शुक्रवार को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) लगा दिया। उनपर ये कार्रवाई अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के लिए की गई है। आरोप  है कि उन्होंने अपने भाषण के जरिए सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश की और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ भड़काऊ बातें कही। चौंकाने वाली बात यह है कि कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी थी लेकिन रिहाई से पहले ही उनपर एनएसए लगा दी गई।

करीब 4 दिन पहले मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने मथुरा जेल में बंद कफील को जमानत दे दी थी। कफील 20 दिन से जेल में बंद हैं। अलीगढ़ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरी ने बताया कि कफील के खिलाफ एनएसए की कार्यवाही की गई है और वह जेल में ही रहेंगे। इसके साथ ही कफील की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ती हुई नजर आ रही है।

मालूम हो कि उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (यूपी एसटीएफ) ने कफील को जनवरी में मुंबई से गिरफ्तार किया था।  इसके बाद उन्हें अलीगढ़ लाया गया और फिर मथुरा की जेल में भेज दिया गया।  उनके खिलाफ अलीगढ़ के सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था।

कफील गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत के मामले में सस्पेंड किए गए हैं। उन्हें इस मामले में गिरफ्तार किया गया था लेकिन करीब 2 साल के बाद जांच में सभी प्रमुख आरोपों से बरी कर दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पुलवामा में शहादत के सालभर बाद भी घरवालों को न मिली पेंशन, न नौकरी; अब पूरा परिवार करने जा रहा अनशन
2 अब सुप्रीम कोर्ट में कागज के दोनों साइड ल‍िया जाएगा प्र‍िंट, दशकों पुरानी परंपरा बदलने का सर्कुलर जारी
3 ‘पुलवामा हमले से किसे फायदा?’ राहुल के ट्वीट पर कपिल मिश्रा का पलटवार- इंदिरा, राजीव की हत्या से किसका फायदा, देश ने पूछा तो?
ये पढ़ा क्या?
X