कानपुर में भगवान भरोसे कोरोना मरीज! वॉर्ड में ऑक्सीजन मास्क हटा जोर-जोर से पढ़ने लगीं हनुमान चालीसा; चंद देर बाद पीड़ित की मौत

उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक होश उड़ा देने वाली खबर सामने आई है। जहां एक अस्पताल में कोरोना वायरस का इलाज दवाओं और ऑक्सीजन से नहीं बल्कि कुछ लोगों द्वारा हनुमान चालीसा सुना और जयकारे लगाकर किया जा रहा था।

corona, covid
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (पीटीआई)।

उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक होश उड़ा देने वाली खबर सामने आई है। जहां एक अस्पताल में कोरोना वायरस का इलाज दवाओं और ऑक्सीजन से नहीं बल्कि कुछ लोगों द्वारा हनुमान चालीसा सुना और जयकारे लगाकर किया जा रहा था। दरअसल एक वीडियो सामने आया है जिसमें दो महिलाओं ने एक कोरोना मरीज के हाथ पकड़े हुए थे और मरीज का मास्क निकाल कर उसके उसके पास जोर-जोर से हनुमान चालीसा पढ़ने लगे। यह वीडियो कानपुर के कोविड-19 वॉर्ड का बताया जा रहा है। अफसोस की बात ये कि बाद में पीड़ित की जान चली गई थी।

वीडियो में महिलाएं दावा कर रही हैं कि वह मरीज को पूजा पाठ कर और हनुमान चालीसा सुना ठीक कर देंगी। यह महिलाएं मरीज के पास जोर-जोर से जयकारे लगाने लगती हैं। अंधविश्वास की सीमा यह थी कि इन महिलाओं ने मरीज के मुंह से ऑक्सीजन देने वाली नली निकाल दी। इसके चलते बाद में मरीज की मौत भी हो गई थी। अंधविश्वास से कोरोना के इलाज का सिर्फ एक यही मामला सामने नहीं आया है बल्कि एक दूसरे मामले में तो कई लोग गोबर और गोमूत्र से खुद के शरीर को रगड़ने लगे जिससे कि वह खुद को कोविड-19 से बचा सके। ध्वस्त स्वास्थ्य व्यवस्था के बीच अब लोगों का विश्वास अंधविश्वास पर ही रह गया है।

यूपी में सहारनपुर में तो एक अलग ही मामला सामने आया। जहां पर कुछ लोगों ने बाल्टियों में हवन सामग्री जलाई और गली-गली घूमने लगे। जिससे कि हवन के धुएं से कोरोनावायरस खत्म हो जाए। जब राजनीति और प्रशासन जनता को इलाज मुहैया नहीं करा पाता है तो लोग फिर इसी तरह के अंधविश्वास की ओर आगे बढ़ते हैं।

ऐसा नहीं है कि महज जनता ही इस तरह के अंधविश्वास में लगी हुई है बल्कि कई नेता तो इस तरह के अंधविश्वास को बढ़ावा देते हैं। हाल ही में बीजेपी नेता और मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री उषा ठाकुर ने यहां तक कह दिया कि कोरोना वायरस के नाश के लिए हवन करना जरूरी है। मंत्री ने हवन को चिकित्सा पद्धति बताते हुए इसे जरूरी बता दिया। मंत्री ने दावा किया कि अगर हवन से पर्यावरण को शुद्ध कर देंगे तो कोरोना महामारी भारत को छू भी नहीं पाएगी।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट