ताज़ा खबर
 

पूर्व पीएम चंद्रशेखर की जयंती पर सीएम योगी आदित्‍य नाथ ने किया किताब का विमोचन, कहा- तीन तलाक के मुद्दे पर मौन रहने वाले अपराधी जैसे

विधानसभा के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर की पुस्तक का विमोचन करने के लिए पहुंचे। पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर का आज जन्मदिन है।

Author लखनऊ | Updated: April 17, 2017 7:00 PM
एक कार्यक्रम के दौरान यूपी सीएम योीगी आदित्‍य नाथ।

विधानसभा के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर की पुस्तक का विमोचन करने के लिए पहुंचे। पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर की आज जयंती है। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी किताब का विमोचन करते हुए कहा, ‘जिसने जन्म लिया है वो मरता है लेकिन विचार कभी नहीं मरते। बिना विचार के कोई क्रांति सफलन हीं नहीं हो पाई है।’ इस दौरान सीएम आदित्यनाथ ने कहा कि ये हमारी किस्मत है कि कई सालों तक चंद्रशेखर जी के साथ काम करने का मौका मिला। हम दोनों ही विरोधी विचारधारा जुड़ी पार्टियों से रहे हैं। जब मैं चंद्रशेखर को सुनता था तो लगता था कि समाजवाद आज भी जीवित है।

पुस्तक विमोचन के मौके पर सीएम योगी ने कहा, ‘पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर कहा करते थे कि देश की समस्याओं का समाधान बहुराष्ट्रीय कंपनियां नहीं कर सकती है। उनके लिए राष्ट्र महत्वपूर्ण था ना की विचारधारा।’ सेंट्रल हॉल में योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘लोक कल्याण सबका का लक्ष्य होना चाहिए। हमें सभी लोगों को एक साथ लेकर चलना होगा। विचारधारा का कोई भी लक्ष्य लोक कल्याण होना चाहिए।’

पूर्व पीएम की किताब के विमोचन के समय विधानसभा में एक लाख वोटों से जीतकर आए निर्दलीय विधायक राजा भैया भी मौजूद थे। इस दौरान सीएम योगी ने चंद्रशेखर की तारीफ करते हुए कहा कि वो चंद्रशेखर ही थे जिन्होंने कश्मीर जाने पर एकता की बात कही। वो चंद्रशेखर ही थे जिन्होंने स्वदेशी आंदोलन का समर्थन किया। चंद्रशेखर समाजवादी होते हुए भी आध्यत्मिक थे। उन्होंने कहा, ‘चंद्रशेखर में सच बोलने का साहस था। उनमें किसी भी मुद्दे को समझने की गहराई थी। हालांकि में उनसे कभी मिला नहीं लेकिन एक बार दिल्ली में उनसे मुलाकात हुई थी।’

तीन तलाक के मुद्दे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निशाना साधते हुए कहा, ‘आज देश में लोग सबसे ज्वलंत समस्या को लेकर मुंह बंद किए हुए हैं। इसमें उन्होंने महाभारत के चीर हरण का उदाहरण दिया और कहा- तीन तलाक मुद्दे पर देश के लोगों ने मौन रखा है। जब भारत एक है तो कॉमन सिविल कोड क्यों लागू नहीं किया जाना चाहिए।’

तीन तलाक के मुद्दे पर राजनीतिक पार्टियों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि संविधान के दायरे में रहकर सभी संस्थाएं काम करें तो कभी भी देश में एक दूसरे से टकराव की स्थिति नहीं आएगी। लेकिन कुछ लोग ऐसा चाहते नहीं है। उन्होंने कहा कि जो लोग इस मामले में मौन हैं वो अपराधियों जैसे हैं।

चंद्रशेखर की 91वीं जयंती पर योगी आदित्यनाथ ने बोलते हुए कहा, ‘संसद में अकेले चंद्रशेखर की आवाज सुनाई देती थी। उनकी मौत के बाद उनकी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की बात आई। लेकिन उनके परिवार उस दौरान भी राजनीति में नहीं आया। क्योंकि उन्होंने समाजवाद को परिवारवाद, गुंडागर्दी का अखाड़ा कभी नहीं बनने दिया।’

सीएम योगी ने मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा कि नकारात्मकता को खबर बनाने से नकारात्मकता आती है। अगर हम नकारात्मकता को नकार देंगे तो देश में सकारात्मकता आएगी। म‌ीडिया को नकारात्मक चीजों को नकार कर सकारात्मक चीजों को गत‌ि देनी चाहिए और अच्छाई की तरफ जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 रेस्टोरेंट बिजनेस में बाबा रामदेव ने ‘पौष्टिक’ से दी दस्तक! खाने में मिलेगा चिल्ली पनीर, चिल्ली पोटेटो और पनीर टिक्का समेत 30 आइटम
2 राष्‍ट्रपति, पीएम और मंत्रियों के हिंदी में भाषण देने की सिफारिश को प्रणब मुखर्जी की मंजूरी
3 महमूद मदनी ने कहा-राममंदिर विवाद पर बोलता हूं तो लोग कम्युनल बता देते हैं, मुस्लिम अपनी मर्जी से भारतीय हैं, चांस से नहीं