ऑक्सिजन की कमी से हुई मौतों को लेकर योगी सरकार पर अपने ही विधायक का हमला

हरदोई के गोपामऊ से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश ने रविवार को उन्होंने अपने फेसबुक में सरकार के उस दावे को हवा में उड़ा दिया जिसमें कहा जा रहा है कि ऑक्सिजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई। उन्होंने सरकारी बयान के दावे को झुठलाते हुए सोशल मीडिया में पोस्ट में अपनी बात कही।

up government, cm yogi, corona, death due to lack of oxygen, bjp mla shyam prakash, hardoi mla
योगी सरकार पर अपने ही विधायक का हमला, बोले- ऑक्सिजन की कमी से तड़प-तड़प कर मर गए सैकड़ों लोग। फोटोः ट्विटर@petloverpoints)

एक तरफ मोदी सरकार ये मानने को तैयार ही नहीं है कि ऑक्जिसन की कमी से कोरोना की दूसरी लहर में किसी की मौत हुई। दूसरी तरफ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अपनी सरकार के कामकाज को विकसित देशों से भी बेहतरीन बताने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रहे, लेकिन उनके अपने ही विधायक ने फेसबुक पोस्ट के जरिए सरकार को आईना दिखाया है।

हरदोई के गोपामऊ से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश ने रविवार को अपनी फेसबुक पोस्ट में सरकार के उस दावे को हवा में उड़ा दिया जिसमें कहा जा रहा है कि ऑक्सिजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई। उन्होंने सरकारी बयान के दावे को झुठलाते हुए सोशल मीडिया पर अपनी बात कही। भाजपा नेता इस मुद्दे पर चुप्पी साधे हैं। अभी तक किसी भी स्तर से प्रतिक्रिया नहीं आई है।

भाजपा विधायक श्याम प्रकाश ने सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा-ऑक्सिजन की कमी से सैकड़ों लोग तड़प- तड़प कर मर गए। विधायक राजकुमार अग्रवाल सहित लाखों लोगों का दर्द किसी को नहीं दिखाई पड़ता हैं। उनका आरोप सरकार के लिए खासी परेशानी पैदा करने वाला है, क्योंकि योगी इसे नकार रहे हैं कि ऑक्जिसन की कमी से सूबे में किसी की मौत कोरोना काल में हुई।

बीजेपी विधायक श्याम प्रकाश ने इससे पहले ट्वीट कर कहा था कि उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में इतना भ्रष्टाचार नहीं देखा जितना इस समय देख और सुन रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिससे शिकायत करो वह खुद वसूली कर लेता है। इससे विपक्षी दलों को सरकार और भाजपा को घेरने का मौका मिल गया। सूत्रों के मुताबिक सरकार और संगठन की ओर से खिंचाई के बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया। भाजपा विधायक श्याम प्रकाश अक्सर विवादित बयानों के चलते सुर्ख़ियों में रहते हैं।

उन्होंने फेसबुक पर इससे पहले भी लिखा था कि एक दिन सीएम योगी को भी धरने पर बैठना पड़ सकता है। पूर्व बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी के पुलिस के खिलाफ धरने पर बैठने संबंधी पोस्ट पर बीजेपी विधायक श्याम प्रकाश ने कमेंट किया था। उन्होंने प्रदेश की बीजेपी सरकार को सिद्धांतों का दिखावा करने वाली पार्टी करार दिया था। कोरोना काल में अपनी विधायक निधि को पहले जारी करने और फिर उसे वापस मांगने को लेकर भी वो विवादों में आए थे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट