ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश में फहराया पाकिस्तान का झंडा, 60 लोगों पर केस दर्ज

उत्तर प्रदेश के बदायूं में कुछ लोग एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान पाकिस्तान का झंडा लेकर घूम रहे थे।

Author December 18, 2016 10:33 am
पाकिस्तान का झंडा पकड़े हुए एक युवक। (तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।)

उत्तर प्रदेश के बदायूं में कुछ लोग एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान पाकिस्तान का झंडा लेकर घूम रहे थे। 12 दिसंबर को मामला सामने आया था जिसकी वजह से वहां सांप्रदायिक तनाव भी है। गुरुवार को एक वीडियो के आधार पर 60 लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया गया। वह वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा था। वहां के भारतीय जनता पार्टी के लोकल कार्यकर्ताओं ने मामले को लेकर विरोध प्रदर्शन किया और सख्त एक्शन लेने की मांग की। शुक्रवार को मामले को शांत करने के लिए वहां के थाने में एक मीटिंग भी की गई थी। इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक वीडियो में 14 साल का एक लड़का सबसे पहले उस झंडे के साथ देखा गया। फिर उससे ही बाकी लोगों ने वह झंडा लिया।

मामले की जांच में लगे एसएचओ ने कहा, ‘लड़के की पहचान हो गई है। वह वहीं के एक दर्जी का लड़का है। लड़के के पिता से भी पूछताछ हुई थी। उन्होंने बताया कि लड़का खुद टेलर का काम सीख रहा है और उसने ही वह झंडा बनाया भी था। उन्होंने बताया कि लड़के ने जानबूझकर पाकिस्तान जैसा झंडा नहीं बनाया था।’ एसएचओ ने आगे कहा, ‘पाकिस्तान के झंडे और उस लड़के द्वारा फहराए जा रहे झंडे में थोड़ा फर्क है। जैसे पाकिस्तान के झंडे में चांद सितारों से बड़ा होता है। वहीं लड़के के झंडा उससे उल्टा था।’

पुलिस ने लड़के और उसके पिता को फिलहाल छोड़ दिया है लेकिन मामले की जांच फिलहाल चल रही है। पुलिस वीडियो की जांच करके बाकी लोगों को पहचानने की कोशिश कर रही है जिन्होंने झंडा लिया था। एसएचओ ने आगे बताया कि मीटिंग के दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों ने माफी मांग ली है। उन्होंने यह भी कहा कि गलती से वह झंडा लेकर जाया गया और उसके पीछे कोई गलत भावना नहीं थी।

फिलहाल पुलिस ने आईपीसी की धारा 295-A (जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्य, धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान, किसी भी वर्ग के धार्मिक भावनाओं का अनादर करने का इरादा) के तहत मामला दर्ज किया है।

इस वक्त की ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App